महिला ने लगवाया महंगा इंजेक्शन, अब छिपाती फिर रही चेहरा

महिला ने लगवाया महंगा इंजेक्शन, अब छिपाती फिर रही चेहरा

दुनिया में ऐसी कई महिलाएं हैं जो खूबसूरत दिखने के लिए कुछ भी कर गुजरती हैं ऐसी कई अदाकारा ेस हैं जो प्लास्टिक सर्जरी या बोटॉक्स (Botox) के जरिये अपनी जवानी मेंटेन करने की प्रयास करती हैं ये ढंग प्रभावी तो होते हैं लेकिन लॉन्ग टर्म में इनके कई नुकसान झेलने पड़ते हैं कई बार ये ब्यूटी ट्रीटमेंट्स (Beauty Treatments) लोगों को भारी पड़ जाते हैं इसी का जीता-जागता उदहारण है ब्राजील में रहने वाली 30 वर्ष की जूजू ओलिवेरा (Juju Oliveira) ट्रांसजेंडर जूजू ने 2017 में अपनी खूबसूरती बढ़ाने के लिए सर्जरी करवाई थी लेकिन उसे क्या पता था कि ये सर्जरी उसपर महंगी पड़ जाएगी

खूबसूरत की स्थान हुआ ऐसा हाल
जूजू सोशल मीडिया पर बहुत ज्यादा सक्रिय है उसके इंस्टाग्राम पर 37 हजार 7 सौ फॉलोवर्स हैं जूजू ने 2017 में अपने गाल, नाक, चिन और जॉ लाइन की सर्जरी करवाई थी उसने इनमें सिलिकॉन फिलर्स डलवाए थे ताकि वो खूबसूरत दिखे लेकिन केस पूरा उलटा पड़ गया सर्जरी ने उलटा प्रभाव कर दिया और जूजू का चेहरा अजीबोगरीब ढंग से फूल गया अब लोग उसे देखकर दंग हो जाते हैं

सर्जरी में लगेंगे इतने पैसे
जूजू के गाल भयंकर ढंग से सूज गए हैं इस रिएक्शन की वजह से लोग उसका बहुत ज्यादा मजाक बनाते हैं अपने बिगड़े चेहरे को ठीक करने के लिए जूजू को 6 लाख 27 हजार रुपए की जरुरत है लेकिन जूजू के पास इतना अमाउंट नहीं है

लोगों से की थी सहायता की गुहार
जूजू ने सोशल मीडिया पर लोगों से सहायता की गुहार लगाई थी इसके लिए उसने फंड रेजिंग ग्रुप बनाया था अपनी हालत शेयर करते हुए जूजू सर्जरी के लिए पैसे जमा कर रही थी लेकिन कई वर्षों के बाद भी उसके पास पैसे जमा नहीं हो पाए इस वजह से अब इस ट्रांसजेंडर महिला ने अपना पेज क्लोज कर दिया है और बोला कि उसे अब इसी चेहरे के साथ जीवन भर जीना पड़ेगा


दो साल की मेहनत के बाद बना डाली लकड़ी की रॉयल एनफ़ील्ड बुलेट

दो साल की मेहनत के बाद बना डाली लकड़ी की रॉयल एनफ़ील्ड बुलेट

रॉयल एनफील्ड की मोटरसाइकिल्स पूरी दुनिया में मशहूर हैं और यह एक लोकप्रिय मोटरसाइकिल ब्रांड भी है। रॉयल एनफील्ड की सभी मोटरसाइकिल्स में से सबसे उपर नाम बुलेट का ही आता है। केरल राज्य में रहने वाले एक व्यक्ति ने रॉयल एनफील्ड बुलेट के मॉडल को लकड़ी से तराशा है और इसका आकार भी बुलेट के जितना ही रखा गया है।

आपको बता दें कि जिदहिन करुलाई ने इस प्रोजैक्ट पर 2 वर्षों तक काम किया है। इस लकड़ी के बुलेट को जिदहिन ने तीन अलग-अलग तरह की लकड़ी से तैयार किया है। इसके टायरों में उन्होंने मलेशियाई लकड़ी का इस्तेमाल किया, जबकि फ्यूल टैंक और बाकी अन्य पैनलों में रोजवुड और टीक का इस्तेमाल हुआ है।

इस लकड़ी की रॉयल एनफील्ड बुलेट के प्रत्येक पार्ट को असली बुलेट के साइज़ जितना ही रखा गया है। जिदहिन ने बाइक के सभी खुरदुरे किनारों को बहुत ही ध्यान से और अच्छे तरीके से पॉलिश भी किया है। सात साल पहले जिदहिन ने रॉयल एनफील्ड बुलेट का एक छोटा लकड़ी का मॉडल भी तैयार किया था।

एक इंटरव्यू में जिदहिन ने बताया कि जब तक लकड़ी की बुलेट तैयार हुई तो इसकी लागत असली बुलेट बाइक के दाम जितनी ही पहुंच गई। रियल बुलेट के साथ ही इस लकड़ी की बुलेट को भी रखा हुआ है। दूर दूर से लोग उनके घर इस लकड़ी की बुलेट को देखने पहुंच रहे हैं। यह पहली बार नहीं है जब उन्होंने लकड़ी से बाइक बना है। 


ऑस्ट्रेलिया के जंगलों से आई इस भेड़ ने सोशल मीडिया पर मचा दी धूम       दो साल की मेहनत के बाद बना डाली लकड़ी की रॉयल एनफ़ील्ड बुलेट       OMG! शराब पीते ही लोग क्यों बोलने लग जाते हैं अंग्रेजी?       बिहार का ये किसान उगा रहा है दुनिया की सबसे महंगी सब्जी, कीमत जानकर हैरान रह जाएंगे आप       बॉयफ्रेंड संग होटल में गई थी महिला, अचानक आ गया पति, फिर हुआ कुछ ऐसा       पति की मृत्यु के बाद महिला ने दो बेटों के साथ की खुदकुशी       कामयाबी: सीमा ने टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई किया       आईपीएल 2021: बाकी मैचों की मेजबानी के लिए श्रीलंका ने आगे बढ़ाए कदम, कहा...       आज नहीं बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, जानिए कितनी हैं कीमतें       देश में लगातार तीसरे दिन कोविड-19 के 4 लाख से अधिक नए केस       UP: गांवों में भी जमकर टूटा कोविड-19 का कहर       मायावती ने कहा कि मजदूरों के पलायन के मामले पर नाटक कर रहे हैं सीएम Kejriwal       जीत के बाद ममता का पीएम Modi पर निशाना, कहा...       90 फीट गहरे बोरवेल में गिरा 4 साल का मासूम       कोरोना संक्रमण से ठीक हुए मरीजों में मिली नई बीमारी       रोकना संभव, देश के शीर्ष वैज्ञानिक ने बताई बड़ी बात       कोरोना संकट में सेना के रिटायर डॉक्टरों की सराहनीय पहल       भारत में कोरोना का कहर, इन राज्यों में सबसे ज्यादा केस       कोरोना से लड़ाई में साथ आए UK में रहने वाले भारतीय       स्वामी ने PMO पर लगाए गंभीर आरोप, लंदन में क्वारंटाइन किए गए हैं विदेश मंत्री जयशंकर