आरोपी पुलिस की गिरफ्त से भागने का करने लगे प्रयास, हो गया एनकउंटर

 आरोपी पुलिस की गिरफ्त से भागने का करने लगे प्रयास, हो गया एनकउंटर

तेलंगाना (Telangana) की राजधानी हैदराबाद (Hyderabad) में महिला वेटनरी चिकित्सक की जिस हाइवे एनएच 44 में गैंगरेप (Gangrape) के बाद मर्डर की गई थी, उसी हाइवे पर तेलंगाना पुलिस ने सभी चारों आरोपियों का एनकउंटर कर दिया। तेलंगाना पुलिस के मुताबिक वह चारों आरोपियों को मौके पर घटना का रिक्रिएशन कराने के लिए ले जा रही थी।

तेलंगाना पुलिस के मुताबिक सभी आरोपियों को प्रातः काल घटनास्थल पर ले जाया गया था जहां पर पूरी घटना को रिक्रिएशन किया जाना था। इसी दौरान आरोपी पुलिस की गिरफ्त से भागने की प्रयास करने लगे। पुलिस ने सभी आरोपियों को रुकने के लिए बोला लेकिन वह भागते रहे। बाद में पुलिस को गोली चलानी पड़ी व सभी चारों आरोपियों की मृत्यु हो गई। बताते चलें कि 29 नवंबर को हैदराबाद के साइबराबाद टोल प्लाजा के पास वेटनरी चिकित्सक से गैंगरेप के बाद मर्डर कर दी गई थी।

इस घटना के बाद देशभर में बहुत ज्यादा गुस्से का माहौल था। इस निर्मम मर्डर को लेकर संसद में भी आक्रोश दिखाई दे रहा था। राज्यसभा में कड़े शब्दों में निंदा करते हुए समाजवादी पार्टी की मेम्बर जया बच्चन ने बोला था 'बलात्कार के दोषियों के साथ किसी तरह की नरमी नहीं की जानी चाहिए, उन्हें कठोर सजा दी जानी चाहिए व उनके विरूद्ध कार्रवाई सार्वजनिक तौर पर होनी चाहिए। '


गौरतलब है कि 27 नवंबर की रात इन सभी आरोपियों ने महिला चिकित्सक को ट्रक ड्राइवर व उसके साथियों ने अगवा किया था। एक आरोपी ने मुंह व नाक दबाकर पीड़िता की जान ली। इसके बाद वहां से 27 किलोमीटर दूर ले जाकर पेट्रोल डालकर उसका मृत शरीर जला दिया। मृत शरीर के पास ही पीड़िता का फोन, घड़ी सब छिपा दिया था। आरोपी पीड़िता को सुनसान स्थान पर ले गए व उसे जबरन शराब पिलाई व गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया था।