शादी का झांसा देकर DSP ने युवती का किया ये...फिर दूसरे से किया विवाह

शादी का झांसा देकर DSP ने युवती का किया ये...फिर दूसरे से किया विवाह

रांची: झारखंड के अंदर यौन शोषण के आरोप लगने के बाद एक डीएसपी की मुश्किलें बढ़ना शुरू हो गई हैं। इस मामले में उसके खिलाफ शिकायत राज्यपाल, मुख्यमंत्री और राज्य के डीजीपी तक से की गई है।

डीएसपी पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली युवती हजारीबाग की रहने वाली है। उसने अपनी लिखित शिकायत में ये कहा है कि जमशेदपुर में पोस्टेड डीएसपी अरविंद कुमार ने शादी का झांसा देकर उसका यौन शोषण किया है।

इस मामले में मुख्यमंत्री के अलावा कई अन्य सक्षम अधिकारियों से भी शिकायत की जा चुकी है। मामले में अभी कार्यवाही पूरी हुई नहीं है। जबकि इससे पहले ही डीएसपी ने दूसरा विवाह कर लिया है।

अस्पताल में पीड़िता 15 दिन तक रही थी एडमिट
इस पूरे मामले में पीड़िता का ये भी कहना है कि डीएसपी अरविंद ने उसे धमकाया भी है। जिसके बाद से पीड़िता डिप्रेशन में आ गई। इसके बाद उसके घर वाले उसे वापस रांची लेकर आ गए।

वहां उसे सदर अस्पताल में भर्ती कर 15 दिन रखा गया। इस दौरान डीएसपी अरविंद उससे मुलाकात करने के लिए रांची आए और विश्वास दिलाया कि वह जल्द उससे शादी करेंगे। इसके बाद पीड़िता के माता-पिता ने अरविंद के पिता से संपर्क किया और घटना के बारे में जानकारी दी।

मामले अरविन्द के परिवार तक पहुंचने के बाद इसे लेकर दोनों पक्षों के बीच हजारीबाग स्थित मंदिर में कई बार बातचीत भी हुई। अरविंद के पिता ने कहा था कि जितना पैसा पहले लड़की वाले दे रहे हैं, उतना पैसा अगर पीड़िता के परिवार वाले देंगे तो वह शादी करने के लिए तैयार हैं।

इस पर पीड़िता के परिवार ने डीएसपी के पिता को समझाया कि उनके पास इतने पैसे नहीं हैं और हैसियत के हिसाब से 9.51 लाख देने के लिए तैयार हुए। पीड़िता के अनुसार यह रकम डीएसपी के परिवार ने ले भी लिया लेकिन बाद में शादी से मना कर दिया।

वहीं इस मामले में आरोपी डीएसपी अरविन्द का कहना है कि डीएसपी बनने के बाद मुझे ब्लैकमेल करने के लिए युवती अनर्गल आरोप लगा रही है।

युवती द्वारा लगाए गए आरोपों की पुलिस मुख्यालय से लेकर कई आला अधिकारियों ने जांच की है। इसमें सारे आरोप झूठे पाए गए हैं। मुझे बेवजह परेशान करने के लिए युवती गलत आरोप लगा रही है। मुझ पर लगाए गए कोई भी आरोप सच नहीं हैं।

ऐसे अरविन्द के सम्पर्क में आई थी पीड़िता
वहीं पीड़िता ने बताया कि उसका संपर्क डीएसपी से एक सहेली के जरिये हुआ था। वह सहेली डीएसपी की भाभी की बहन लगती है। उसी ने पीड़िता का परिचय वर्ष 2016 में डीएसपी से कराया था। इसके बाद दोनों के बीच मोबाइल नंबर शेयर हुए थे।

उसके बाद से दोनों के बीच बातचीत होने लगी। धीरे-धीरे उनके बीच नजदीकियां और भी ज्यादा बढ़ने लगी। कई बार अलग-अलग पार्क और मंदिरों में दोनों का साथ घूमना-फिरना भी हुआ।

पीड़िता संत कोलंबस कॉलेज हजारीबाग में बीएड द्वितीय वर्ष की छात्रा थी। पढ़ाई के लिए हजारीबाग में किराये के मकान में रहती थी।

डीएसपी अरविंद हमेशा उससे मुलाकात करने के लिए उसके पास किराये के मकान में आया-जाया करते थे। उन्होंने उसके कमरे में आकर वर्ष 2016 से 2017 के दौरान शारीरिक संबंध बनाया। उसने शादी का वादा किया था।


किसान आंदोलन पर बाइडेन ने कहा- मोदी सरकार किसानों की मांगें पूरी करे? जानिए इस पोस्ट का सच

किसान आंदोलन पर बाइडेन ने कहा- मोदी सरकार किसानों की मांगें पूरी करे? जानिए इस पोस्ट का सच

क्या हो रहा है वायरल: सोशल मीडिया पर एक पोस्ट वायरल हो रही है। पोस्ट में अमेरिका के प्रेसिडेंट इलेक्ट जो बाइडेन की फोटो है और उस पर डीडी न्यूज का लोगो लगा है। दावा किया जा रहा है कि किसान आंदोलन पर बाइडेन ने कहा, 'दिल्ली बॉर्डर पर किसान ठंड और बारिश में पचास दिन से बैठे हुए हैं। उनकी मांगों का शांतिपूर्ण समाधान हो, जल्द से जल्द मोदी सरकार किसान की मांग पूरी करे। उन्हें अपने घर सम्मानपूर्वक वापस भेजे।'

और सच क्या है?

  • इस पोस्ट की सच्चाई जानने के लिए हमनें डीडी न्यूज पर लगी जो बाइडेन की फोटो को गूगल पर सर्च किया। सर्च रिजल्ट में हमें दूरदर्शन के यूट्यूब चैनल पर इस फोटो का पूरा वीडियो मिला।
  • पड़ताल के दौरान हमनें डीडी न्यूज के इस वीडियो में जो बाइडेन के पूरे बयान को सुना। जो बाइडेन ने अपने बयान में कहीं भी किसान आंदोलन का जिक्र नहीं किया।
  • डीडी न्यूज ने अपने यूट्यूब चैनल पर यह वीडियो 31 अक्टूबर, 2020 को पब्लिश किया था। तब तक किसान आंदोलन दिल्ली नहीं पहुंचा था।
  • पड़ताल के अगले चरण में हमने बाइडेन के बयान से जुड़े की-वर्ड्स गूगल पर सर्च किए। सर्च रिजल्ट में हमें इस बयान से जुड़ा कोई लिंक नहीं मिला।
  • साफ है कि सोशल मीडिया पर बाइडेन की फोटो के साथ किया जा रहा दावा फेक है। जो बाइडेन ने किसान आंदोलन पर कोई बयान नहीं दिया है।

यात्रियों के लिए खुशखबरी! अब आसान होगा सफर       जल्दी हटाईये इसे, लोन देने वाले 453 ऐप्स को गूगल ने किया बैन       इस खिलाड़ी ने ब्रिस्बेन टेस्ट में किया डेब्यू       भारतीय खिलाड़ी हुए परेशान, ऑस्ट्रेलियाई दर्शकों की बदतमीजी       ऐसी महान टेनिस खिलाड़ी, जिन्होंने कम उम्र में बनाए इतने खिताब       वाॅशिंगटन ने स्मिथ को ऐसे किया आउट, बताया...       इस खिलाड़ी के पिता का निधन, खिलाड़ियों के घर शोक       यूपी दिवस: होगा तीन दिवसीय कार्यक्रम, सीएम योगी करेंगे शुभारम्भ       CM योगी लगवाएंगे वैक्सीन! कर दिया बड़ा एलान       यूपी: कोहरे में यात्रा करना पड़ा भारी, एक्सप्रेस वे पर 25 गाड़ियां टकराई       राजनाथ सिंह ने कहा कि भारतीय सेना ने हमेशा देश का हौसला बढ़ाया       मंदिर पर बोले अखिलेश यादव, राजनीति में लिया जाता है चंदा       सीएम योगी ने कोविड-19 वैक्सीनेशन का किया अवलोकन       पहले दिन 223 लोगों को लगी वैक्सीन, अब इस दिन को लगेगी अगली डोज       ईडी ने TMC के इस बड़े नेता पर कसा शिकंजा, कोर्ट में हुई पेशी, जानें       अभी अभी: वैक्सीन के बाद दो महिलाओं की तबियत बिगड़ी, भारत में दिखा पहला मामला       छत्तीसगढ़ में इस महिला को लगा कोरोना का पहला टीका       TMC विधायकों ने नियमों की उड़ाई धज्जियां       छत्तीसगढ़: CRPF जवान शराब तस्करी में गिरफ्तार       कोरोना वैक्सीनेशन, दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान