बागपत में एक किसान की हुई गोली मारकर क़त्ल

बागपत में एक किसान की हुई गोली मारकर क़त्ल

लखनऊ: यूपी के बागपत में चांदीनगर थाना क्षेत्र में किसान की गोली मारकर क़त्ल कर दिया है उस समय किसान खेत में भिंडी की फसल की पहरेदारी कर रहा था जब परिजन सुबह खेत में कार्य करने गए तो किसान का खून से लथपथ मृत शरीर चारपाई पर पाया गया मृत शरीर के पास से तीन खाली खोखे और एक जिंदा कारतूस भी पाया गया है घटना के उपरांत गांव और परिजनों में दहशत है

मृतक किसान का नाम मदन बोला जा रहा है 67 वर्ष के मदन चांदीनगर थाना के मंसूरपुर गांव के निवासी थे उन्होंने खेत में भिंडी की फसल की बुआई की थी, जिसकी रखवाली करने के लिए रोज रात खेत में सोने जाते थे गुरुवार रात भी फसल की रखवाली करने वो खेत के ही गए हुए थे रात में किसी वक़्त अज्ञात हमलावरों ने चारपाई पर सो रहे मदन के सिर में गोली मारकर मृत्यु के घाट उतार दिया है सुबह खेत पर पहुंचे गांव के किसानों ने खून से लथपथ मृत शरीर पड़ा देखकर परिजनों और पुलिस को सूचना दी गई

पुलिस की पूछताछ में मृतक किसान के बेटे ने बोला है कि रात पहरा देने के लिए वे खेत में आए थे और जब वह सुबह आए तो उनका चारपाई पर मृत शरीर पड़ा हुआ पाया गया था हमारी किसी से आपसी दुश्मनी भी नहीं थी एसपी बागपत नीरज जादौन ने कहा है कि मृत शरीर के पास से तीन खाली खोखे और एक जिंदा कारतूस भी जब्त  की गई है मृत शरीर को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया है अज्ञात हमलावरों के विरूद्ध मुकदमा दर्ज कर लिया गया है और उनकी तलाश की जाने लगी है


पेट्रोल-डीजल के दाम घटने पर बोलीं मायावती

पेट्रोल-डीजल के दाम घटने पर बोलीं मायावती

लखनऊ बसपा (BSP) की अध्यक्ष और यूपी की पूर्व सीएम मायावती ने केंद्र द्वारा पेट्रोल और डीजल पर उत्पाद शुल्क में कमी किए जाने के बाद बोला कि अब राज्य सरकारें भी टैक्स में कटौती करें बीएसपी प्रमुख ने पेट्रोल-डीजल पर केंद्रीय उत्पाद शुल्क घटाने पर बोला कि अब यूपी ही नहीं बल्कि अन्य सभी राज्यों की जिम्मेदारी बनती है कि वे वैट (मूल्य संवर्धित कर) में तत्काल कटौती करें ऐसा करने से जनता को काफी राहत मिलेगी

मायावती ने रविवार को किए ट्वीट में कहा, ‘देश में हर तरफ बढ़ती महंगाई, गरीबी, बेरोजगारी एवं तनाव आदि की मार से त्रस्त एवं बदहाल जीवन जीने को विवश लोगों को केंद्र ने काफी समय बाद पेट्रोल-डीजल के शुल्क में थोड़ी राहत दी है अब यूपी व अन्य राज्यों की जिम्मेदारी बनती है कि वे केंद्र की बात मानकर इन (पेट्रोल और डीजल) पर तत्काल वैट कम करें

जनहित में नफा हानि त्यागें सरकारें
पूर्व सीएम ने एक अन्य ट्वीट में कहा, ‘इसी प्रकार, अब समय आ गया है कि केंद्र एवं राज्य सरकारें दिन-प्रतिदिन गंभीर होती जा रही इन राष्ट्रीय समस्याओं पर सियासी स्वार्थ एवं आपसी नफा-नुकसान को त्यागते हुए साथ मिलकर समुचित ध्यान दें, ताकि आम लोगों का जीवन सामान्य हो सके

पेट्रोल डीजल के दाम घटना से मंहगाई भी रहेगी नियंत्रित
उल्लेखनीय है कि केंद्र गवर्नमेंट ने पेट्रोल पर उत्पाद शुल्क में शनिवार को आठ रुपये प्रति लीटर और डीजल पर छह रुपये प्रति लीटर की कटौती की इससे जनता को लंबे समय बाद काफी राहत महसूस हो रही है पेट्रोल डीजल के दामों में कमी आने से मालभाड़ा भी सस्ता होगा, जिससे व्यापार में भी लाभ होगा

बता दें कि केंद्र गवर्नमेंट ने शनिवार को पेट्रोल-डीजल पर लगने वाली एक्साइज ड्यूटी में क्रमशः 8 रुपये और 6 रुपये प्रति लीटर की कटौती करने की घोषणा की है इसके साथ देशभर में पेट्रोल 9.50 रुपये प्रति लीटर और डीजल 7 रुपये प्रति लीटर सस्‍ता हो गया है जबकि नयी दरें आज (रविवार) सुबह छह बजे से लागू हो गई हैं