पेपर लीक होने पर सख्‍त हुए CM, कहा- दोषियों के घरों पर चलेगा बुलडोजर

पेपर लीक होने पर सख्‍त हुए CM, कहा- दोषियों के घरों पर चलेगा बुलडोजर

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि टीईटी पेपर लीक करने वालों के घरों पर सरकार का बुलडोजर चलेगा। इस मामले में अब तक प्रदेश में 23 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। इन सभी के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कराया जाएगा। देवरिया में आयोजित एक कार्यक्रम में सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने सख्त लहजे में कहा कि इस शरारत करने वालों को किसी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा। टीईटी परीक्षा को स्थगित कर दिया गया है। अभ्यर्थियों को दोबारा परीक्षा केंद्रों तक जाने के लिए मुफ्त बस सेवा दी जाएगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार को रघुराज इंटर कालेज बहियारी बघेल में आयोजित जनसभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने यहां पर 200 करोड़ रुपये लागत की 412 योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया।

पेपर आउट होने के बाद स्‍थग‍ित हुई उत्‍तर प्रदेश श‍िक्षक पात्रता परीक्षा

पेपर आउट होने के चलते उप्र श‍िक्षक पात्रता परीक्षा (UP TET) की परीक्षा पूरे प्रदेश में स्थगित। डीआईओएस ज्ञानेंद्र सिंह भदौरिया ने की पुष्टि। इसके पूर्व गोरखपुर में गोरखपुर परीक्षा पहली पाली में जिले 70 केंद्रों पर पर शरू हुई थी। दूसरी पाली में 51 केंद्रों पर आयोजित होनी थी। प्रथम पाली में 35306 तथा दूसरी पाली में 25925 अभ्यर्थी थे। पहली पाली में प्राथमिक स्तर की परीक्षा सुबह 10 बजे से 12.30 बजे तक और दूसरी पाली की उच्च प्राथमिक स्तर की परीक्षा दोपहर बाद 2.30 बजे से शाम पांच बजे तक आयोजित होनी थी।

गोरखपुर में कड़़ी़ की गई

परीक्षा निरस्त होने पर अभ्यर्थियों द्वारा किसी तरह की हंगामा न किया जाए। इसको लेकर जिला प्रशासन ने सतर्कता बरतते हुए तत्काल रेलवे स्टेशन व बस स्टेशन पर पर्याप्त पुलिस बल की तैनाती कर दी है। इधर जिला विद्यालय निरीक्षक ज्ञानेंद्र प्रताप सिंह भदौरिया परीक्षा निरस्त होने के बाद से ही एक-एक कर परीक्षा केंद्रों पर केंद्र व्यवस्थापकों को फोन कर परीक्षा निरस्त होने की सूचना देते रहे।

पंजीकृत थे 61231 अभ्यर्थी

यूपी टीईटी की परीक्षा में कुल 61231 अभ्यर्थी थे। इनमें से प्रथम पाली में 35306 तथा दूसरी पाली में 25925 अभ्यर्थी पंजीकृत थे। प्राथमिक स्तर की परीक्षा सुबह 10 बजे से 12.30 बजे तक और दूसरी पाली की उच्च प्राथमिक स्तर की परीक्षा दोपहर बाद 2.30 बजे से शाम पांच बजे तक आयोजित होनी थी परीक्षा।

सूचना नहीं मिलने पर कई केंद्रों पर होती रही परीक्षा

जिले के कई परीक्षा केंद्रों पर देर से सूचना मिलने पर देर तक परीक्षा होती रही है। कही परीक्षा स्थगित होने व कही परीक्षा चलने से अभ्यर्थी से लेकर अभिभावक तक असमंजस में रहे।

पेपर लीक होने से पूरे प्रदेश में शिक्षक पात्रता परीक्षा स्थगित हो गई है। सभी केंद्रों को इसकी सूचना देते हुए अभ्यर्थियों को एक-एक ओएमआर शीट व प्रश्नपत्र जमा कराकर छोड़ने के निर्देश दे दिए गए हैं। - ज्ञानेंद्र प्रताप सिंह भदौरिया, डीआइओएस।

मायूस लौटे अभ्यर्थी, महराजगंज के 23 केंद्रों पर परीक्षा देने पहुंचे थे अभ्यर्थी

उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा में मथुरा, गाजियाबाद और बुलंदशहर में इंटरनेट मीडिया पर पेपर लीक होने के बाद महराजगंज जिले में भी परीक्षा स्थगित कर दी गई है। आधे घंटे बाद ही परीक्षार्थियों से उत्तर पुस्तिका जमा कराने के बाद उन्हें केंद्र से छोड़ दिया गया। इसकी पुष्टि जिला विद्यालय निरीक्षक अशोक कुमार सिंह ने की है। परीक्षा निरस्त होेने के बाद अभ्यर्थी मायूस होकर घर को लौट गए।


Makar Sankranti 2022: बाजारों में पंजाबी चिक्की, रामदाना समेत इन चीजों की बढ़ी डिमांड

Makar Sankranti 2022: बाजारों में पंजाबी चिक्की, रामदाना समेत इन चीजों की बढ़ी डिमांड

मकर संक्रांति पर्व को लेकर थोक और फुटकर बाजारों में ग्राहकों की रौनक रही। गजक, तिल के लड्डू, पंजाबी चिक्की, रामदाना समेत गुड़ और शक्कर के बने उत्पादों की अच्छी बिक्री हुई।

नया चावल और उड़द-मूंग की दाल भी खूब बिकी। हालांकि, बाजार में महंगाई की मार भी दिखी। सोशल डिस्टेंसिंग धड़ाम रही, तमाम ग्राहक मास्क तक नहीं लगाए थे। 

कानपुर नमकीन, बेकरी, गजक, पेठा एसोसिएशन के अध्यक्ष निर्मल त्रिपाठी ने बताया कि पिछले साल की तुलना में गुड़ और शक्कर के दाम बढ़े हैं। पिछले साल की तुलना में करीब 10-15 फीसदी दाम तेज हैं। गुड़ की गजक 240 रुपये किलो बिकी। गुड़ रोल और पंजाबी चिक्की का भाव 260 रुपये किलो रहा।

काले तिल का लड्डू 280 और सफेद तिल का लड्डू 260 रुपये किलो में बिका। बाजार में ग्राहकों की पसंद को देखते हुए चॉकलेट, खोवा, मेवा गजक भी हैं। इसके दाम अलग-अलग क्वालिटी के अनुसार 400 से 600 रुपये किलो तक है। महामंत्री शंकर लाल मतानी ने बताया कि बाजार में अच्छी संख्या में ग्राहक थे।

दोनों प्रकार के तिल के लड्डू, रामदाना, लइया की भी अच्छी डिमांड देखने को मिली। चावल और दाल कारोबारी सचिन त्रिवेदी ने बताया कि खिचड़ी में नया चावल ही इस्तेमाल में आता है। इसके चलते चावल और दालों की अच्छी बिक्री हुई।