मेरठ : पुलिस ने दौड़ाकर पीटा सैंपल लेकर लौट रही स्वास्थ्य विभाग की टीम को,

मेरठ : पुलिस ने दौड़ाकर पीटा सैंपल लेकर लौट रही स्वास्थ्य विभाग की टीम को,

मेरठ जनपद के रोहटा थाना क्षेत्र में जनता इंटर कॉलेज कैथवाड़ी में क्वारंटीन लोगों के सैंपल लेकर लौट रही स्वास्थ्य विभाग की टीम को पुलिस ने दौड़ा-दौड़ाकर पीटा।

इसके विरोध में चिकित्सक स्वास्थ्य सेवाएं ठप कर सीएचसी पर धरने पर बैठ गए। एसएसपी ने एक सिपाही को लाइन हाजिर करते हुए इंस्पेक्टर रोहटा व दरोगा के खिलाफ एसपी देहात को जांच सौंप दी है।


हापुड़ निवासी उमेश कुमार पीसीएस रैंक के अधिकारी हैं और रोहटा सीएचसी पर स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी के पद पर तैनात हैं। शनिवार शाम वह अपने सहयोगियों आशुतोष शुक्ला और मोहित कुमार के साथ कार से सीएचसी लौट रहे थे। आरोप है कि रोहटा बस स्टैंड पर पुलिस ने चेकिंग की बात कहकर स्वास्थ्यकर्मियों को कार से उतार लिया। स्वास्थ्य कर्मी बताने और आईकार्ड दिखाने के बाद भी पुलिसकर्मियों ने उनसे अभद्रता की। विरोध करने पर दौड़ा दौड़ाकर पीटा। उमेश कुमार ने इसकी सूचना उच्चाधिकारियों को दी।
 

वहीं, घटना के विरोध में सभी चिकित्सक एकजुट हो गए और चेतावनी दी कि जब तक आरोपियोें के खिलाफ कार्रवाई नहीं की जाएगी तब तक स्वास्थ्य सेवाएं पूरी तरह ठप रहेंगी।

जांच रिपोर्ट पर होगी कार्रवाई
एक सिपाही को लाइन हाजिर कर दिया है। इंस्पेक्टर और दरोगा की जांच रिपोर्ट आने पर आगे की कार्रवाई होगी। - अजय साहनी, एसएसपी
पुलिस की पिटाई से टूटा, हाथ-पैर
वहीं रोहटा गांव में एक सब्जी विक्रेता के कोराना पॉजिटिव मिलने के बाद गांव को सील किया गया था। इस दौरान बाहर निकले लोगों पर पुलिस ने जमकर कहर बरपाया। दवाई लेने निकले दो युवकों को लाठी से पीटा। इसमें एक के हाथ और दूसरे के पैर में फैक्चर आया है।

गांव निवासी अफजाल पुत्र लियाकत अपने चचेरे भाई दानिश पुत्र असलम को अपराह्न तीन बजे बाइक पर लेकर गांव में ही चिकित्सक के यहां दवाई लेने गया था। इसी बीच थाना रोहटा में तैनात होमगार्डों ने दोनों युवकों को रोक लिया। आरोप है कि बिना कुछ पूछे ही डंडों से मारना शुरू कर दिया। इससे दोनों युवक गंभीर रूप से घायल हो गए। यह देख ग्रामीण जमा हो गए और उन्होंने होमगार्डों का विरोध किया। यह देख होमगार्ड मौके से चले गए। परिजनों ने घायलों को अस्पताल में भर्री कराया। परिजनों ने बताया कि पिटाई से अफजाल के पैर और दानिश के हाथ में फैक्चर हो गया है। परिजन थाने में दोनों होमगार्ड की शिकायत लेकर पहुंचे।  

परिजनों से थाना प्रभारी निरीक्षक उपेंद्र सिंह ने रविवार को मिलने की बात कही हैं। गौरतलब है कि थाना रोहटा में उक्त होमगार्डों की पहले भी की शिकायत ग्रामीणों द्वारा की गई हैं। अब इस घटना के बाद से ग्रामीणों में रोष व्याप्त है।