हर हॉस्पिटल में रहे 36 घंटे का ऑक्सीजन बैकअप : मुख्यमंत्री योगी

हर हॉस्पिटल में रहे 36 घंटे का ऑक्सीजन बैकअप : मुख्यमंत्री योगी

कोविड-19 महामारी ने पुरे देश में भारी आतंक मचा रखा है वही देश के सबसे बड़े प्रदेश उत्तर प्रदेश में अनियंत्रित होते कोविड-19 को नियंत्रित करने के लिए रविवार को सीएम योगी आदित्यनाथ ने टीम-11 को कई जरूरी आदेश दिए. कोविड-19 के मैनेजमेंट के लिए गठित टीम-11 से सीएम योगी ने बोला कि जो लोग बिना मास्क घूम रहे हैं, उनके खिलाफ कठोरता की जाए. ऐसे लापरवाह व्यक्तियों से पहली बार पकड़े जाने पर 1,000 रुपये और दूसरी बार बिना मास्क पकड़े जाने पर 10,000 रुपये का जुर्माना लिया जाए.

उन्होंने ये भी बोला कि ऑक्सीजन की सप्लाई और बेहतर करने के लिए 10 नए ऑक्सीजन प्लांट स्थापित किए जाने हैं. सीएम योगी ने आदेश दिए कि ऑक्सीजन के सिलसिले में अगले 15 दिनों की अनुमानित मांग के अनुरूप उपलब्धता बनाई रखी जाए. इसके साथ-साथ प्रदेश में ऑक्सीजन आपूर्ति में भी संतुलन बनाए रखा जाए. हर एक हॉस्पिटल में कम से कम 36 घंटे का ऑक्सीजन बैकअप होना चाहिए. उन्होंने ये भी बताया कि ऑक्सीजन सिलेंडर खरीदने में बिल्कुल भी देरी न की जाए.

मुख्यमंत्री योगी ने कहा, किसी भी जीवन रक्षक दवा या होम आइसोलेशन में रह रहे रोगियों की मेडिकल किट की दवाओं में कोई कमी न हो. रेमडेसिविर की अनुमानित मांग उत्पादन करने वाली कंपनियों को भेजी जाए. ये भी ख्याल रखा जाए कि दवाओं की सप्लाई चेन बाधित न हो. उन्होंने कहा, लखनऊ, प्रयागराज, मुरादाबाद, झांसी, कानुपर समेत संक्रमण से सबसे अधिक प्रभावित तकरीबन 12 शहरों में आईसीयू तथा आइसोलेशन बेड्स की क्षमता दोगुनी किए जाने की जरूरत है.


इलाज में ढिलाई पर सीएम योगी बहुत नाराज, कई डॉक्टरों पर कार्रवाई की तैयारी

इलाज में ढिलाई पर सीएम योगी बहुत नाराज, कई डॉक्टरों पर कार्रवाई की तैयारी

कानपुर मेडिकल कॉलेज में उपचार प्रबंधन को लेकर सीएम ने असंतोष जताया है. उन्होंने सीनियर डॉक्टरों के राउंड नहीं लेने, मरीजों और तीमारदारों के साथ ठीक व्यवहार नहीं करने पर मेडिकल कॉलेज प्राचार्य को फटकार लगाई है. जिलाधिकारी ने देर रात प्राचार्य प्रो आरबी कमल को नोटिस दी है. 24 घंटे में स्थिति सुधारने को बोला है.

मुख्यमंत्री वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से अफसरों से चर्चा कर रहे थे. उन्होंने मौतों को लेकर अफसरों पर तल्खी जाहिर की. दरअसल मुख्यमंत्री को स्रोतों से यह जानकारी मिल रही है कि कोविड मरीजों की देखरेख में ढिलाई हो रही है. जूनियर डॉक्टरों के सहारे उपचार चल रहा है. कोविड मरीजों को नहीं देख रहे हैं. मौतों का ब्योरा पोर्टल पर देर से दर्ज हो रहा है. इसे लेकर सीएम ने नाराजगी जताई है. उसी कड़ी में जिलाधिकारी आलोक तिवारी ने रात नोटिस जारी करके सभी बिंदुओं पर मेडिकल कॉलेज का ध्यान दिलाया है.

एक दर्जन डॉक्टरों पर कार्रवाई की तैयारी 
कानपुर जिलाधिकारी से नोटिस मिलने के बाद मेडिकल कॉलेज प्रशासन के ऑफिसर हरकत में आए. प्राचार्य प्रो आरबी कमल ने एक दर्जन डॉक्टरों और कर्मचारियों को डाटा फीडिंग में ढिलाई के मुद्दे में नोटिस दी है. प्राचार्य के अनुसार कि डीएम के नोटिस के संज्ञान में उत्तरदायी डॉक्टरों और कर्मचारियों से स्पष्टीकरण मांगा गया है. अब दो डॉक्टर और दो कर्मचारी डाटा अपडेट करने के लिए 24 घंटे तैनात किए गए हैं.


ऑस्ट्रेलिया के जंगलों से आई इस भेड़ ने सोशल मीडिया पर मचा दी धूम       रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने स्पूतनिक वैक्सीन की तुलना AK-47 से की, कहा...       धरती पर आज गिरेगा चाइना का बेकाबू रॉकेट       Vladimir Putin ने रूसी कोरोना वैक्सीन को बताया दमदार, कहा...       दुनिया के सबसे बड़े Cargo Plane ने सहायता का सामान लेकर India के लिए भरी उड़ान       Imran Khan ने Indian Embassies की प्रशंसा क्या की, आग बबूला हो गए पाकिस्तानी       हिंदुस्तान से अपने देश तुरंत लौट आएं सभी लोग, अमेरिका की अपने नागरिकों से अपील       बाइसन को मारने US में निकली 12 वेकेंसी       यूनीसेफ ने हिंदुस्तान में बढ़ रहे कोविड-19 मामलों पर जताई चिंता, कहा...       व्लादिमीर पुतिन ने कहा कि रूस की कोविड-19 वैक्सीन AK-47 जितनी भरोसेमंद       Africa में मिली इतने हजार वर्ष पुरानी कब्र, खुलेंगे कई अहम राज       भारतीय टीम में सिलेक्शन से दंग यह क्रिकेटर, बोले...       पूर्व भारतीय हॉकी कोच एमके कौशिक का मृत्यु       कोविड-19 बना काल: नहीं रहे BCCI के आधिकारिक स्कोरर केके तिवारी       कोविड-19 के विरूद्ध जंग में विराट के बाद ऋषभ पंत भी कूदे       इंग्लैंड जाने से पहले हिंदुस्तान में ही 8 दिन क्वारंटीन रहेगी टीम इंडिया       दिल जीत लेगी इस क्रिकेटर की दलील, बोले...       इंग्लैंड दौरे पर टीम इंडिया में हार्दिक पांड्या को क्यों नहीं मिली जगह       अब मशहूर कृष्णा को हुआ कोविड-19, केकेआर कैंप में कोविड-19 पॉजिटिव       Jofra Archer की रहस्यमयी गेंद! बल्लेबाज को भी नहीं हो पाया यकीन