ऐसा पहला राज्य बना यूपी, पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर तैयार हो रही एयरस्ट्रिप

ऐसा पहला राज्य बना यूपी, पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर तैयार हो रही एयरस्ट्रिप

लखनऊ: आगरा एक्सप्रेस वे के बाद यूपी में तीसरा आपातकालीन एयरस्ट्रिप तैयार किया जा रहा है। पूर्वांचल एक्सप्रेस वे पर सुल्तानपुर के पास तीसरा एयरस्ट्रिप तैयार होगा। तीसरे एयर स्ट्रिप का अधिकांश हिस्सा तैयार किया जा चुका है।

उत्तर प्रदेश सरकार की एक्सप्रेसवे योजना जहां आम लोगों के लिए सुविधादायक है वही यह देश की सेनाओं के मदद के लिए भी अहम भूमिका निभाने के लिए तैयार है। उत्तर प्रदेश देश का पहला ऐसा राज्य बन चुका है जिसके पास तीन एक्सप्रेसवे और तीन एयर स्ट्रिप तैयार हैं जिन पर भारतीय वायुसेना के भारी भरकम जहाजों को भी उतारा जा सकता है। यमुना एक्सप्रेसवे और आगरा एक्सप्रेसवे की दो एयर स्ट्रिप के बाद अब तीसरी एयरस्ट्रिप पूर्वांचल एक्सप्रेस वे पर बनकर तैयार है।

मालवाहक विमान गजराज की भी लैंडिंग और टेक ऑफ हो चुका है
भारतीय वायुसेना के जंगली जहाज यमुना एक्सप्रेसवे और लखनऊ आगरा एक्सप्रेसवे की एयरस्ट्रिप का परीक्षण भी कर चुके हैं इन दोनों रिश्ते पर भारतीय वायुसेना के फाइटर प्लेन से लेकर मालवाहक विमान गजराज की भी लैंडिंग और टेक ऑफ हो चुका है। प्रदेश सरकार के अधिकारियों का मानना है कि देश की सेनाओं को मदद के लिए यूपी के एक्सप्रेसवे पर तैयार एयर स्ट्रिप का किसी भी आपात स्थिति में प्रयोग किया जा सकेगा।

पूर्वांचल एक्सप्रेस वे पर तैयार है तीसरी एयर स्ट्रिप
राजधानी लखनऊ से पूर्वी उत्तर प्रदेश के गाजीपुर और बलिया को जोड़ने वाले पूर्वांचल एक्सप्रेस वे पर तीसरी एयरस्ट्रिप तैयार की जा रही है। यूपीडा के अधिकारियों ने बताया कि सुल्तानपुर के कूरेभार गांव के पास तैयार हो रही एयर स्ट्रिप का काम लगभग पूरा हो चुका है। इस पर किसी भी समय वायु सेना के जहाजों के ट्रायल को हरी झंडी दी जा सकती है। पूर्वांचल एक्सप्रेस वे पर एयरस्ट्रिप के साथ ही एक्सप्रेस वे पर 3-3 एयर स्ट्रिप वाला यूपी देश का पहला राज्य बन चुका है। एक्सप्रेस वे के इन एयर स्ट्रिप पर लड़ाकू विमानों की इमरजेंसी लैंडिंग और टेक ऑफ कराने की सुविधा भी होगी।

आगरा एक्सप्रेस वे पर मिराज 2000, जगुआर, सुखोई 30 और विशालकाय हरक्यूलस जैसे विमान उतर चुके हैं। यमुना एक्सप्रेसवे, आगरा एक्सप्रेसवे के रनवे को भी भारतीय वायु सेना परख चुकी है। गाजियाबाद के हिंडन और आगरा एयरबेस के साथ जरूरत पड़ने पर तीनों एक्सप्रेसवे के रनवे का इस्तेमाल भारतीय वायु सेना कर सकेगी। माना जा रहा है कि पड़ोसी देशों चीन और पाकिस्तान को जवाब देने के लिए यूपी की एयर स्ट्रिप सबसे मुफीद है। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार जल्द ही भारतीय वायुसेना से संपर्क कर पूर्वांचल एक्सप्रेस वे की एयर स्ट्रिप के परीक्षण के लिए अनुरोध करेगी।


उन्नाव कांड अपडेट: सीएम योगी ने दिया आदेश, पीड़िता के इलाज का खर्च उठाएगी सरकार

उन्नाव कांड अपडेट: सीएम योगी ने दिया आदेश, पीड़िता के इलाज का खर्च उठाएगी सरकार

यूपी की राजधानी लखनऊ से सटे जिले उन्नाव में तीन किशोरियों जंगल में बंधे पाए जाने के मामले में प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मामले की पूरी रिपोर्ट डीजीपी से उपलब्ध कराने को कहा है। इसके अलावा योगी आदित्यनाथ ने कानपुर के रीजेंसी अस्पताल में चल रही एक किशोरी के इलाज का पूरा खर्च राज्य सरकार की तरफ से उठाने की बात कही है।

लड़कियों की बॉडी जहरीला पदार्थ
उल्लेखनीय है कि उन्नाव में हुई घटना के दौरान मृत पाई गईं दो लड़कियों की बॉडी के पोस्टमार्टम में जहरीला पदार्थ मिलने की पुष्टि हुई है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर पुलिस मामले की तहकीकात कर रही है।

बुधवार को शाम उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले के असोहा इलाके के बबुरहा गांव के बाहर बुधवार को दलित बिरादरी की तीन युवतियां बेसुध मिली थी। अस्पताल ले जाने पर उनमें से दो को मृत घोषित कर दिया गया। पुलिस अधीक्षक आनंद कुलकर्णी ने यहां बताया कि बबुरहा गांव में एक ही परिवार की 15,14 और 16 साल की तीन लड़कियां अपराह्न करीब तीन बजे जानवरों के लिए चारा लेने घर से निकली थीं। देर शाम तक वापस ना आने पर परिजनों ने उनकी तलाश की तो वे तीनों गांव के बाहर खेत में मिली और वे एक दुपट्टे से बंधी हुई थी।

उन्नाव में असोहा थाना क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम पंचायत पाठकपुर के मजरे बबुरहा में बुधवार दोपहर बाद 3 बजे के करीब कोमल पुत्री संतोष पासी उम्र 16 वर्ष, काजल पुत्री सूरजपाल पासी उम्र लगभग 13 वर्ष, रोशनी पुत्री सूर्य बली उम्र लगभग 17 वर्ष बबुरहा नाला के पास खेत में पशुओं के लिए चारा लेने गई थीं।

उन्नाव की घटना दिल दहला देने वाली है-प्रियंका गांधी
कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने फेसबुक पर पोस्ट करते हुए लिखा- उन्नाव की घटना दिल दहला देने वाली है। लड़कियों के परिवार की बात सुनना एवं तीसरी बच्ची को तुरंत अच्छा इलाज मिलना जांच – पड़ताल एवं न्याय की प्रक्रिया के लिए बेहद जरूरी है। खबरों के अनुसार पीड़ित परिवार को नजरबंद कर दिया गया है। यह न्याय के कार्य में बाधा डालने वाला काम है। आखिर परिवार को नजरबंद करके सरकार को क्या हासिल होगा। यूपी सरकार से निवेदन है कि परिवार की पूरी बात सुने एवं त्वरित प्रभाव से तीसरी बच्ची को इलाज के लिए दिल्ली शिफ्ट किया जाए।


NIOS द्वारा मदरसों में गीता, रामायण की पढ़ाई वाली रिपोर्ट गलत, केंद्र ने कहा...       महाराष्ट्र व केरल में बेतहाशा बढ़ रहे कोरोना के नए मामले       SC का निर्देश, प्राइवेट अस्पतालों में इलाज के लिए बुजुर्गों को मिले प्राथमिकता       जम्मू-कश्मीर परिसीमन आयोग को मिला एक साल का विस्तार       इन राज्यों में आंधी-तूफान के साथ बारिश की चेतावनी, जानें       पीएम मोदी को कल ऊर्जा एवं पर्यावरण संरक्षण के लिए मिलेगा अंतरराष्ट्रीय सम्मान       ओटीटी प्‍लेटफार्म के प्रतिनिधियों से मिले प्रकाश जावडेकर, बोले...       बेटी के पैदा होने पर क्रिकेट से दूर रहे थे विराट कोहली, जानें       Qubool Hai 2.0 Trailer: क्या परवान चढ़ेगी ज़ोया-असद की प्रेम कहानी? देखिए       इंदू की जवानी, साइलेंस और क़ुबूल है 2.0 समेत इस महीने आएंगी ये फ़िल्में और वेब सीरीज़       Dhamaka Teaser: कार्तिक आर्यन ने दी 'ब्रेकिंग न्यूज़', नेटफ्लिक्स पर करेंगे 'धमाका'       Tandav Web Series केस में अमेज़न प्राइम वीडियो ने पहली बार मांगी माफ़ी       Netfilx ने किया 40 से अधिक वेब सीरीज़, फ़िल्मों और शोज़ का एलान, कई सितारों की दस्तक       बताया- क्यों इंग्लैंड की टीम टेस्ट सीरीज को कराना चाहती है ड्रॉ, कप्तान जो रूट ने किया खुलासा!       IPL को लेकर दिए विवादित बयान के बाद डेल स्टेन ने मांगी माफी       मोटेरा की पिच को लेकर इंग्लैंड के दिग्गज ने कसा तंज, बोले...       प्रेस कॉन्फ्रेंस में टर्निंग पिच के सवाल पर भड़के विराट कोहली       फैंस के नंबर्स की तरफ मेरा ध्यान नहीं, एक अच्छा क्रिकेटर व इंसान बनना चाहता हूं : विराट कोहली       ट्रंप बनाएंगे अलग पार्टी! राष्ट्रपति चुनाव लड़ने के दिए संकेत       रात में चमकीली रोशनी से खौफ में आए लोग, फिर...