उत्तराखंड ने टॉस जीत कर बनाए इतने रन, हरियाणा के भी उड़े होश

उत्तराखंड ने टॉस जीत कर बनाए इतने रन, हरियाणा के भी उड़े होश

हरियाणा व उत्तराखंड (Haryana vs Uttrakhand) के बीच सोमवार को यहां रणजी ट्रॉफी एलीट ग्रुप सी मुकाबले के शुरुआती दिन सोमवार को विकेटों का पतझड़ देखने को मिला जहां उत्तराखंड की पहली पारी को 109 पर समेटने के बाद हरियाणा ने भी 50 रन पर पांच विकेट गंवा दिये।

उत्तराखंड का टॉस जीत कर बल्लेबाजी करने का निर्णय गलत रहा व टीम ने पांच रन पर तीन विकेट गंवा दिये। टीम के शुरुआती तीन बल्लेबाज उनमुक्त चंद, हर्षित बिष्ट व सौरव रावत खाता खोलने में नाकाम रहे। विजय जेठी (20) उत्तराखंड के सर्वोच्च स्कोरर रहे जबकि कैप्टन तन्मय श्रीवास्तव व हरमन सिंह ने 19-19 रन का सहयोग दिया। हरियाणा के लिए टीनू कुंडू ने सबसे ज्यादा तीन जबकि हर्षल पटेल, अजित चहल व सुमित कुमार ने दो-दो विकेट लिये।

उत्तराखंड को सस्ते में समेटने के बाद हरियाणा की शुरूआत भी बेहद बेकार रही। टीम के 10 रन से पहले ही चार बल्लेबाज पवेलियन लौट गये जबकि 26 रन पर पांचवा झटका लगा। इसके बाद स्टंप्स तक रोहित शर्मा (21) व सुमित कुमार (14) ने टीम को कोई व नुकसान नहीं होने दिया। अग्रिम तिवारी ने उत्तराखंड के लिए चार जबकि प्रदीप चमोली ने एक विकेट लिया।

सेना भी बैकफुट पर
रांची में खेले जा रहे मुकाबले में राहुल शुक्ला (76 रन पर छह विकेट) की शानदार गेंदबाजी के दम पर झारखंड ने सेना को बैकफुट पर धकेल दिया। पहले दिन स्टंप्स के समय सेना का स्कोर पहली पारी में आठ विकेट पर 232 रन था। सेना के लिए मोहित अहलावत ने सबसे ज्यादा 69 जबकि कैप्टन रजत पालिवाल ने 38 रन का सहयोग दिया। सेना की टीम 162 पर आठवां विकेट गंवाकर कठिन में लेकिन अर्जुन शर्मा व रोशन राज की बीच आठवें विकेट के लिए 70 रन की अटूट साझेदारी से टीम बेहतर स्थिति में पहुंच गयी। स्टंप्स के समय दोनों बल्लेबाज 38-38 रन बनाकर खेल रहे थे।

हरप्रीत सिंह ने लगाया शतक
छत्तीसगढ़ ने जम्मू में खेले जा रहे मैच में कैप्टन हरप्रीत सिंह (Harpreet Singh) की 116 रन की पारी के दम पर जम्मू और कश्मीर के विरूद्ध पहले दिन का खेल समाप्त होने तक चार विकेट पर 270 रन बना लिये। टीम के लिए अभिमन्यु चौहान ने 51 जबकि जीवनजोत सिंह ने 42 रन बनाये. स्टंप्स के समय अमनदीप खरे 45 व सुमित रूइकर छह रन बनाकर खेल रहे थे। कटक में असम के विरूद्ध पहले दिन तीन विकट पर 215 रन बनाकर ओडिशा ने अपनी स्थिति मजबूत कर ली। ओड़िशा के लिए सलामी बल्लेबाजों शांतनु मिश्रा (66) व अनुराग सारंगी (58) ने पहले विकेट के लिए 96 रन की साझेदारी कर मजबूत नींव रखी।
दिन का खेल रोके जाते समय गोविंदा पोद्दार 54 व बिप्लव सामंत्रे 32 रन बनाकर खेल रहे थे। दोनों के बीच चौथे विकेट के लिए 67 रन की अटूट साझेदारी हो गयी है। असम के लिए रंजीत माली ने 51 रन देकर दो विकेट लिये।

इंगले ने बरपाया त्रिपुरा पर कहर
महाराष्ट्र ने अगरतला में मनोज इंगले (Manoj Ingle) के करियर की सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी 34 रन पर छह विकेट के दम पर त्रिपुरा की पहली पारी 121 रन पर समेट दी। महाराष्ट्र की आरंभ भी बेकार रही व टीम ने 53 रन पर पांचवां विकेट गंवा दिया। इसके बाद कैप्टन अंकित बावने (नाबाद 39) व विकेटकीपर विशांत मोरे (नाबाद 30) ने छठे विकेट के लिए 74 रन की अटूट साझेदारी कर स्टंप्स के समय महाराष्ट्र को मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया। दिन का खेल समाप्त होते समय उसने पांच विकेटपर 127 रन बनाकर छह रन की बढ़त हासिल कर ली।