स्टीव स्मिथ नहीं रोकते तो यह राज उगल देते वॉर्नर

स्टीव स्मिथ नहीं रोकते तो यह राज उगल देते वॉर्नर

क्रिकेट (Cricket) में बॉल टैंपरिंग (Ball Tempering) का मामला इस खेल की प्रतिष्ठा को कई बार तार-तार कर चुका है। इंग्लैंड व ऑस्ट्रेलिया (England vs Australia) के बीच खेली जा रही एशेज सीरीज (Ashes Series) के दौरान एक बार फिर बॉल टैंपरिंग का टकराव सुर्खियों में आ गया है। इस बार इंग्लैंड के पूर्व कैप्टन व महान बल्लेबाज एलेस्टेयर कुक (Alastair Cook) ने अपनी आत्मकथा में इसे लेकर चौंकाने वाले खुलासे किए हैं। उन्होंने बॉल टैंपरिंग को लेकर ऑस्ट्रेलियाई ओपनर व धाकड़ बल्लेबाज डेविड वॉर्नर (David Warner) पर निशाना साधा है व साथ ही किसी भी मूल्य पर जीत दर्ज करने की मानसिकता को लेकर ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट को भी घेरा है।



सात एशेज सीरीज खेल चुके हैं कुक
मैदान पर ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों के व्यवहार से कोई सबसे ज्यादा रूबरू होता है तो वो इंग्लैंड के खिलाड़ी हैं। ऐसा इन दोनों टीमों के ‌बीच बेहद लंबे समय से चल रही प्रतिद्वंद्विता के चलते है। यही वजह है कि सात एशेज सीरीज का भाग रहे इंग्लैंड के पूर्व कैप्टन एलेस्टेयर कुक (Alastair Cook) ने ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों व टीम को लेकर कई चौंकाने वाली बातें अपनी आत्मकथा में लिखी हैं। कुक ने खुलासा किया है कि डेविड वॉर्नर (David Warner) ने बताया था कि उन्होंने एक फर्स्ट क्लास मैच में कैसे गेंद से छेड़छाड़ की थी।

स्टीव स्मिथ नहीं रोकते तो व राज उगल देते वॉर्नर

एलेस्टेयर कुक (Alastair Cook) के अनुसार, डेविड वॉर्नर (David Warner) ने मुझे बताया कि कैसे एक फर्स्ट क्लास मैच में उन्होंने हाथ में बंधी पट्टी पर लगे मैटेरियल के जरिये गेंद से छेड़छाड़ की थी। । उस समय अगर स्टीव स्मिथ (Steve Smith) दखलअंदाजी नहीं करते तो शायद वॉर्नर इससे जुड़े व राज भी उगल देते। कुक ने बताया कि ये वाकया 2017-2018 की एशेज सीरीज के बाद हुई एक पार्टी के दौरान का है। जैसे ही वॉर्नर ने इस बात का खुलासा किया, मैंने स्टीव स्मिथ की ओर देखा। उनके चेहरे का भाव ऐसा था मानो वॉर्नर से कह रहे हों कि तुम्हें यह बात नहीं बतानी चाहिए थी।

किसी भी मूल्य पर जीत चाहते हैं ऑस्ट्रेलियाई

इंग्लैंड के पूर्व कैप्टन एलेस्टेयर कुक (Alastair Cook) ने आत्मकथा में लिखा है कि ऑस्ट्रेलियाई टीम किसी भी मूल्य पर जीत दर्ज करने के इरादे से मैदान पर उतरती है। चाहे इसके लिए उन्हें कुछ भी करना पड़े। हालांकि कुक ने सीधे तौर पर चीटिंग शब्द का प्रयोग नहीं किया, लेकिन संकेतों पर साफ कर दिया कि ऑस्ट्रेलियाई टीम जीत के लिए कुछ भी कर सकती है।

अब प्रशंसकों का दिल जीतने में जुटे
एलेस्टेयर कुक के अनुसार, ऑस्ट्रेलियाई के लोग अपनी टीम के हर हाल पर जीत दर्ज करने के तौर-तरीकों से संतुष्ट नहीं हैं। मगर ऑस्ट्रेलियाई टीम इस मुद्दे में बहुत दूर तक निकल गई है। हालांकि बॉल टैंपरिंग टकराव के बाद से ऑस्ट्रेलियाई टीम प्रशंसकों का दिल जीतने की प्रयास में लगी है। टीम के कोच जस्टिन लैंगर ने ड्रेसिंग रूम का कल्चर बदला है व यही वजह है कि ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी मैदान पर अधिक विनम्र नजर आ रहे हैं।

वॉर्नर व स्मिथ पर लगा था एक वर्ष का बैन
डेविड वॉर्नर (David Warner) व स्टीव स्मिथ (Steve Smith) पर पिछले वर्ष केपटाउन में दक्षिण अफ्रीका के विरूद्ध मुकाबले के दौरान बॉल टैंपरिंग (Ball Tempering) का आरोप लगा था। इसके बाद दोनों पर एक वर्ष का प्रतिबंध लगा दिया गया था। वॉर्नर व स्टीव स्मिथ ने एशेज सीरीज के जरिये ही एक वर्ष के प्रतिबंध के बाद अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी की।