विराट कोहली आइसीसी टेस्ट रैंकिंग में नंबर वन बल्लेबाज लेकिन फिसलकर आ गए दूसरे पायदान पर

 विराट कोहली आइसीसी टेस्ट रैंकिंग में नंबर वन बल्लेबाज लेकिन फिसलकर आ गए दूसरे पायदान पर

भारतीय टीम के कैप्टन विराट कोहली के लिए वर्ष 2019 अब तक बतौर कैप्टन तो अच्छा गया है, लेकिन बतौर बल्लेबाज वे औसत खिलाड़ी की तरह नज़र आए हैं. अभी कुछ ही हफ्ते पहले तक विराट कोहली आइसीसी टेस्ट रैंकिंग में नंबर वन बल्लेबाज थे, लेकिन वे फिसलकर दूसरे पायदान पर आ गए हैं.

हैरान करने वाली बात ये भी है कि जनवरी 2018 के बाद यानी 20 महीने के बाद विराट कोहली की आइसीसी टेस्ट रैंकिंग 900 अंक से नीचे आई है. इसके पीछे वजह है उनकी परफॉर्मेंस. कप्तानी पर ज्यादा ध्यान दे रहे विराट कोहली के बल्ले से रन नहीं निकल पा रहे हैं. टेस्ट में बेस्ट कहे जाने वाले विराट कोहलीइस वर्ष टेस्ट क्रिकेट में एक भी शतक नहीं जड़ पाए हैं.

नहीं ठोक पाए हैं शतक

टेस्ट करियर में अब तक 80 मैचों में 25 शतक जड़ चुके विराट कोहली के बल्ले से आखिरी शतक दिसंबर 2018 में निकल था. उसके बाद से विराट कोहली ने 10 टेस्ट पारियां खेल ली हैं, लेकिन तीन अंकों में स्कोर नहीं ले जा पाए हैं. पिछले दस महीने में विराट कोहली ने कुल 5 टेस्ट मैच खेले हैं. इस दौरान उनका हाइएस्ट स्कोर 82 रन रहा है. पिछली दस पारियों में रन मशीन विराट कोहली 2 बार 0 पर भी आउट हुए हैं.

खत्म होगा शतक का सूखा

इन आंकड़ों पर गौर करने के बाद उम्मीद जताई जा रही है कि गुरुवार से पुणे में प्रारम्भ हो रहे साउथ अफ्रीका के विरूद्ध दूसरे टेस्ट मैच में कैप्टन कोहली के बल्ले से शतक निकला व दस महीने का उनका शतक का सूखा खत्म हो जाएगा. वर्ष 2019 में विराट कोहली का औसत 35 का है, जबकि उनका ओवरऑल औसत 50 से ज्यादा का है. इस दौरान सात पारियों में विराट के बल्ले से सिर्फ 2 अर्धशतक निकले हैं.