उत्तर हिंदुस्तान में जारी भीषण गर्मी का प्रकोप टुटा दस वर्ष का रिकॉर्ड, जारी हुआ रेड अलर्ट

उत्तर हिंदुस्तान में जारी भीषण गर्मी का प्रकोप टुटा दस वर्ष का रिकॉर्ड, जारी हुआ रेड अलर्ट

दिल्ली-एनसीआर समेत सारे उत्तर हिंदुस्तान में भीषण गर्मी का प्रकोप जारी है. दिल्ली में गर्मी ने सोमवार को दस वर्ष का रिकॉर्ड तोड़ दिया. सफदरजंग में अधिकतम तापमान 45.6 डिग्री सेल्सियस पंजीकृत किया गया. 17 जून 1945 को सबसे ज्यादा तापमान 46.7 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया था.

जारी हुआ रेड अलर्ट

जानकारी के मुताबिक मौसम विभाग ने पहले ही 10 जून के लिए भीषण गर्मी को लेकर रेड अलर्ट जारी कर रखा था. मौसम विभाग के पालम केन्द्र पर अब तक का सर्वाधिक तापमान 48 डिग्री सेल्सियस पंजीकृत किया गया. पालम में 9 जून 2014 को पारा 47.8 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया था. हालांकि सफदरजंग में पंजीकृत तापमान को ही आधिकारिक माना जाता है.

आगे ऐसा रहेगा मौसम

इसी के साथ सोमवार को सफदरजंग में अधिकतम तापमान सामान्य से 6 डिग्री सेल्सियस अधिक 45.6 व न्यूनतम सामान्य से एक डिग्री कम 27.2 पंजीकृत हुआ. बीते 10 वर्ष में जून माह में इतना अधिकतम तापमान कभी नहीं रहा. दिल्ली में मौसम विभाग का रिज केन्द्र भी खासा गर्म रहा. यहां तापमान 47.9, आयानगर में 47.0 और जाफरपुर में 46.7, स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में 47.1, नजफगढ़ में 46.3, लोदी रोड में 46 डिग्री सेल्सियस पंजीकृत हुआ. रविवार को दिल्ली में अधिकतम तापमान 43.8 व न्यूनतम 27.2 डिग्री सेल्सियसपंजीकृत हुआ था.