मंत्रिमंडल ने दी मंजूरी यूपी में वाहन मालिकों को जल्द ही मिलने वाली है ये सुविधा

मंत्रिमंडल ने  दी मंजूरी यूपी में वाहन मालिकों को जल्द ही मिलने वाली है ये सुविधा

यूपी में वाहन मालिकों को गाड़ी नंबर पोर्टेबिलिटी की सुविधा बहुत जल्द मिलेगी. उत्तर प्रदेश मंत्रिमंडल ने इसे मंजूरी दे दी है. बताया जा रहा है कि इस सुविधा से आप अपने पुराने वाहन का पसंदीदा नंबर अपने नए वाहन पर भी लगवा सकते हैं. मगर शर्त यह है कि आपको पुरानी गाड़ी जमा करानी होगी. उसे आप चला नहीं सकेंगे. नंबर पोर्टेबिलिटी की सुविधा तभी मिल सकेगी जब नयी व पुरानी गाड़ी का मालिक एक ही हो. इसके लिए आपको शुल्क भी देना होगा. इस विषय में शीघ्र गाइड लाइन जारी होंगे.

मंगलवार को योगी सरकार की कैबिनेट मीटिंग में जो आठ जरूरी प्रस्ताव पास हुए, उसमें नंबर पोर्टिबिलिटी सर्विस का प्रस्ताव विशेष रहा. यह सुविधा मुहैया कराए जाने के लिए मंत्रिमंडल ने मोटरयान नियमावली 1998 में संशोधन से जुड़ा प्रस्ताव पास किया. मोटर यान अधिनियम 1988 की धारा 200 के अनुसार यातायात नियमों के उल्लंघन पर जुर्माने को बढ़ाने का निर्णय लिया गया.

इसके अतिरिक्त प्रदेश के विभिन्न महानगरों में मेट्रो रेल परियोजना के लिए उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कॉरपोरेशन के नाम से एकल विशेष प्रयोजन साधन का गठन किए जाने के बारे में प्रस्ताव पास हुआ. ओबीसी वर्ग की बेटियों के शादी के विषय में विवाह अनुदान योजना की समायावधि 2019 से बढ़ाकर 30 जून 2019 तक करने का फैसला लिया गया. इसके साथ ही वित्तीय साल 2018-19 में प्रदेश संपत्ति विभाग में विभिन्न परियोजनाओं के लिए एक मुश्त बजट व्यवस्था के दशा से मंत्री परिषद को अवगत कराए जाने का प्रस्ताव पास किया गया.