टीम इंडिया ने राजकोट में बांग्लादेश को 8 विकेट से हराया

टीम इंडिया ने राजकोट में बांग्लादेश को 8 विकेट से हराया

टीम इंडिया ने राजकोट में बांग्लादेश को 8 विकेट से हरा दिया। इस जीत में रोहित शर्मा ने 85 रनों की धमाकेदार पारी खेली। हालांकि इस जीत की स्क्रिप्ट अकेले रोहित शर्मा ने नहीं लिखी।हिंदुस्तान की जीत में युजवेंद्र चहल (Yuzvendra Chahal) का भी बड़ा हाथ था जिन्होंने अपनी दमदार गेंदबाजी का एकबार फिर लोहा मनवाया। युजवेंद्र चहल ने 4 ओवर में 28 रन देकर 2 विकेट लिए। इस मुकाबले में रोहित शर्मा ने मैन ऑफ द मैच जीता तो युजवेंद्र चहल को गेम चेंजर अवॉर्ड मिला। मतलब इस लेग स्पिनर ने अपनी गेंद से मैच को ही पलट दिया। Image result for टीम इंडिया ने राजकोट में बांग्लादेश को 8 विकेट से हराया

युजवेंद्र चहल का दमदार प्रदर्शन
युजवेंद्र चहल (Yuzvendra Chahal) ने दो विकेट जरूर लिए लेकिन उन्हें पहले ही ओवर में कुछ ऐसा देखना पड़ा जिसके बारे में उन्होंने तो क्या किसी भारतीय फैन ने नहीं सोचा होगा। युजवेंद्र चहल क्षमता प्ले के छठे ओवर में गेंदबाजी करने आए व उनकी तीसरी ही गेंद पर लिट्टन दास चकमा खा गए व पंत ने उन्हें स्टंप आउट कर दिया। हालांकि थर्ड अंपायर ने पाया कि पंत ने गेंद को विकेट के आगे से पकड़ा है, जिस वजह से गेंद को नो बॉल करार दिया गया व युजवेंद्र विकेट लेने से चूक गए।इसके बाद अगली दो गेंदों पर युजवेंद्र चहल ने दो चौके पड़वा दिए व उनके पहले ओवर में ही 13 रन चले गए।

इतने बेकार ओवर के बाद भी युजवेंद्र चहल (Yuzvendra Chahal) ने पराजय नहीं मानी। युजवेंद्र चहल ने अगले ही ओवर में लिट्टन दास को फिर चकमा दिया। दास रन लेने के लिए दौड़े व पंत ने उन्हें रन आउट कर दिया। 13वें ओवर में युजवेंद्र चहल फिर गेंदबाजी करने आए व उन्होंने मुश्फिकुर रहीम का बड़ा विकेट चटका दिया। रहीम महज 4 रन बना पाए। इसके बाद इसी ओवर की आखिरी गेंद पर चहल ने सौम्य सरकार को भी पैवेलियन की राह दिखाते हुए बांग्लादेश के बड़े स्कोर तक पहुंचने की हसरत को समाप्त कर दिया। चहल ने 18वां ओवर फेंका व उन्होंने इसमें भी सिर्फ 4 रन खर्च किए।