मोबाइल तोड़ने पर नौकर ने सात वर्षीय बच्चे का कर दिया मर्डर 

मोबाइल तोड़ने पर नौकर ने सात वर्षीय बच्चे का कर दिया मर्डर 

हाल ही में क्राइम का एक मुद्दा आगरा से सामने आया है। इस मुद्दे में आगरा के थाना सैंया क्षेत्र में मोबाइल तोड़ने पर नौकर ने सात वर्षीय बच्चे की मर्डर कर दी व इसके बाद मृत शरीर को बाजरे के खेत में छिपा दिया। वहीं 12 दिन बाद मर्डर का खुलासा हुआ, जब पुलिस ने आरोपी को अरैस्ट कर उससे पूछताछ की। इस मुद्दे में आरोपी की निशानदेही पर मृत शरीर को बरामद किया जा चुका है व पुलिस ने मृत शरीर को पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिया। इस मुद्दे में पुलिस ने बताया कि, ''इकलौते बेटे की मर्डर से मां की हालत बिगड़ गई। उन्हें शमशाबाद के एक व्यक्तिगत अस्पताल मे भर्ती कराया गया है। ''

वहीं इस मुद्दे में आगे बताया गया कि, ''ग्राम रजपुरा निवासी लोकेंद्र का सात वर्षीय पुत्र धनराज एक सितंबर को गायब हो गया था। उसे घर में कार्य करने वाला नौकर अनिल पुत्र अचल सिंह निवासी गांव बृथला मेला देखने के बहाने ले गया था। इसके बाद दोनों नहीं लौटे। गांधीनगर चौराहा से अरैस्ट दोनों की खोजबीन में पुलिस की तीन टीमें व एसओजी टीम खोजबीन में जुटी थी। '' वहीं इस मुद्दे में पुलिस ने बोला कि, ''एक हफ्ते पूर्व अनिल की लोकेशन फतेहाबाद मे मिली थी। तभी से पुलिस फतेहाबाद के आसपास आरोपी की तलाश जुटी थी। ''

बीते गुरुवार रात पुलिस को आरोपी अनिल की लोकेशन शमशाबाद में मिली व इस पर सैंया पुलिस ने आरोपी को गांधीनगर चौराहा से अरैस्ट कर लिया। वहीं पुलिस की पूछताछ में आरोपी अनिल ने मासूम धनराज की मर्डर करने की बात कबूल की। इस मुद्दे में ग्राम रजपुरा निवासी लोकेंद्र पुत्र अतर सिंह शिक्षामित्र हैं। धनराज इकलौता बेटा था व उसकी दो बहनें आरती (11) व डिंपल (9) हैं। वहीं जैसे ही धनराज का मृत शरीर मिलने की सूचना मिली मां शारदा देवी की तबीयत बिगड़ गई व उन्हें अस्पताल में एडमिट करवाया गया है।