खूबसूरती के साथ-साथ अपने स्‍टाइल को लेकर भी जानी जाती हैं रेखा

खूबसूरती के साथ-साथ अपने स्‍टाइल को लेकर भी जानी जाती हैं रेखा

सदाबहार अभिनेत्री रेखा उन अभिनेत्र‍ियों में शुमार की जाती है जिनका जादू आज भी कायम है। वे जहां भी जाती हैं सोशल मीडिया पर उनकी तसवीरें छाई रहती है। रेखा अपनी खूबसूरती के साथ-साथ अपने स्‍टाइल को लेकर भी जानी जाती हैं। उनकी नशीली आंखों की मस्‍ती के मस्ताने आज भी हैं। रेखा का जन्‍म 10 अक्‍टूबर 1954 को हुआ था। रेखा अपनी दमदार अदाकारी के अतिरिक्त अपने लव अफेयर्स को लेकर भी चर्चा में रहीं। रेखा व अमिताभ बच्‍चन की भी एक ऐसी ही कहानी है।

आज भी किसी अवॉर्ड समारोह या बी-टाउन की पार्टी में रेखा व अमिताभ बच्‍चन उपस्थित होते हैं तो मोहब्‍बत का फलसफा लोगों की जुबान पर आ ही जाता है। हालांकि दोनों अब अपनी-अपनी जिंदगियों में आगे बढ़ चुके हैं।

इस कहानी की आरंभ कहां से हुई यह कह पाना कठिन है लेकिन पहली बार दोनों वर्ष 1976 की फिल्‍म 'दो अंजाने' में एकसाथ नजर आये थे। अमिताभ तब तक एक स्‍टार बन चुके थे व जया भादुड़ी से उनकी विवाह को तीन वर्ष बीत चुके थे। इसी के बाद रेखा व अमिताभ के अफेयर की खबरों ने जोर पकड़ना प्रारम्भ कर दिया था। पूरी फिल्‍म इंडस्‍ट्री में इस कहानी की चर्चा थी। साल 1978 आते-आते तो दोनों के संबंध की चर्चा आम हो चुकी थी। फिल्मफेयर व स्टारडस्ट जैसी फिल्मी मैगजीन इनके रोमांस की खबरों से अटे पड़े रहते थे।

इन खबरों से अमिताभ व रेखा पर क्या बीत रही थी ये तो वही जानें, लेकिन दोनों के रिश्तों से सबसे ज्यादा प्रभावित हुईं थीं अमिताभ की पत्नी जया। बताया जाता है कि इन बातों को लेकर जया का कई बार अमिताभ से झगड़ा भी हुआ। अमिताभ ने कभी रेखा के साथ किसी भी तरह के संबंध की बात को स्वीकार नहीं किया था।

रेखा व अमिताभ बच्‍चन की जोड़ी को पर्दे पर सराहा गया व दोनों ने एकसाथ 'सुहाग', 'मुकद्दर का सिकंदर' व 'राम बलराम' जैसी कई फिल्‍मों में कार्य किया। बोला जाता है कि दोनों संसार से छुपकर एकदूसरे से मिलते थे। हालांकि अमिताभ ने कभी इस बारे में कुछ नहीं कहा।
दोनों के अफेयर की चर्चाएं जया बच्‍चन तक भी पहुंची। उन्‍होंने एक दिन फोन करके डिनर पर बुलाया। अमिताभ उस समय फिल्‍म के सिलसिले में शहर से बाहर थे, घबराईं हुई रेखा जया से मिलने चली गईं। डिनर के दौरान जया ने रेखा को कुछ भी नहीं कहा, पूरा घर भी दिखाया। हालांकि जब रेखा लौटने लगी तो जया ने सिर्फ इतना ही कहा- 'कुछ भी हो जायेगा मैं अमिताभ को नहीं छोडूंगी। '

पूरी संसार उस समय चौंक गई जब निर्माता-निर्देशक यश चोपड़ा ने वर्ष 1980 में यह ऐलान किया कि वो उनकी फिल्‍म 'सिलसिला' में रेखा, अमिताभ व जया बच्‍चन लीड कलाकार होंगे। यश चोपड़ा ने बीबीसी को दिये एक साक्षात्कार में इस बात को कबूल किया कि फिल्‍म की शूटिंग के दौरान वे बहुत ज्यादा ज्‍यादा डरे हुए थे क्‍योंकि अमिताभ, जया व रेखा के बीच बहुत ज्यादा तनाव था।

हालांकि इसके बाद रेखा व अमिताभ के चर्चे कम होने लगे। लेकिन वर्ष 1983 में फिल्‍म 'कुली' के दौरान हुए एक हादसे में अमिताभ जिंदगी व मृत्यु के बीच जंग लड़ रहे थे ऐसे में रेखा खुद को रोक नहीं पाई। वे अमिताभ से मिलने अस्‍पताल पहुंची। ऐसा बोला जाता है कि जया ने रेखा को अमिताभ से मिलने नहीं दिया। रेखा को इससे बड़ा धक्‍का लगा। हालांकि इसके बाद रेखा व अमिताभ की राहें अलग हो गई।
वर्ष 1990 में रेखा ने दिल्‍ली बेस्‍ड बिजनेसमैन मुकेयश अग्रवाल से विवाह कर ली। हालांकि विवाह के एक वर्ष बाद ही मुकेश ने आत्‍महत्‍या कर ली थी।