भारत-पाकिस्तान की टीम का एक बार फिर होगा यहाँ आमना - सामना, जानिए ऐसे...

भारत-पाकिस्तान की टीम का एक बार फिर होगा यहाँ आमना - सामना, जानिए ऐसे...

पाकिस्तान ने रविवार को दुनिया कप के अहम मुकाबले में दक्षिण अफ्रीका को हराकार सेमीफाइनल की अपनी उम्मीदें कायम रखी हैं.

Image result for भारत-पाकिस्तान की टीम का एक बार फिर होगा यहाँ

वर्ल्ड कप की अंकतालिका में पाक छह मैच खेलकर दो जीत (एक मैच बारिश की भेंट चढ़ गया) में मिले 5 अंको के साथ सातवें पायदान पर खड़ा है. दूसरी ओर हिंदुस्तान अपने नौ अंको के साथ तीसरे नंबर है.

विश्व कप में अब सारी टीमें अपने आधे से अधिक मैच खेल चुकी हैं, ऐसे में सभी टीमों की नजर सेमीफाइनल में स्थान बनाने पर टीकी है. हिंदुस्तान इस वर्ल्ड कप में अब तक एक भी मैच नहीं हारा है. हिंदुस्तान ने दक्षिण अफ्रीका व ऑस्ट्रेलिया को हराते हुए यह बता दिया है कि इस वर्ल्ड कप में उसकी दावेदारी मजबूत है. हिंदुस्तान ने पाक को भी मात दी है. ऐसे में हिंदुस्तान का मुकाबला सेमीफाइनल में एक फिर से चिर प्रतिद्वंदी पाक से होने कि सम्भावना है. इसके लिए पाक व हिंदुस्तान को अब से अपने सभी मैच जीतने होंगे. आइए समझते हैं, ये कैसे मुमकिन होने कि सम्भावना है.

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के दक्षिण अफ्रीका के विरूद्ध प्रदर्शन को देखते हुए लगता है कि वह अगर अपने बचे सभी तीन मैच जीत लेती है, तो वह ग्रुप स्टेज में नंबर चार पर ही रहेगी.अगर ग्रुप मैच में हिंदुस्तान अपने सभी मैच जीतकर पॉइंट्स टेबल में पहले नंबर पर रहता है तो नियमों के अनुसार उसका मैच पॉइंट्स टेबल में चौथे नंबर पर रहने वाली टीम से होगा.

इस समीकरण से अंकतालिका में चौथे नंबर पर होने की वजह से पाक का एक नंबर पर रहने वाली भारतीय टीम से उसी मैनचेस्टर के मैदान पर सेमीफाइनल मुकाबला होने कि सम्भावना है. जहां भारतीय टीम ने ग्रुप मैच में उसे पटखनी दी थी. सेमीफाइनल में स्थान बनाने के लिए पाक को अपने बचे तीनों मैच जीतने होंगे. इसके अतिरिक्त उसे न्यूजीलैंड टीम के नतीजों पर निर्भर होना होगा. न्यूजीलैंड के वैसे छह मैचों में 11 पॉइंट्स हैं व पाक के छह मैचों में 5 पॉइंट्स हैं.

न्यूजीलैंड अब तक मजबूत टीमों से नहीं भिड़ी है. न्यूजीलैंड को अपने अगले मैच पाकिस्तान, ऑस्ट्रेलिया व इंग्लैंड के साथ खेलने हैं, जबकी पाक को अपने अगले तीन मैच न्यूजीलैंड, अफगानिस्तान व बांग्लादेश के विरूद्ध खेलने हैं. ऐसे में पाक की राह न्यूजीलैंड के मुकाबले थोड़ी सरल दिख रही है. पाकिस्तानी टीम अगर अपने तीन मैच जीत लेती है, तो उसके 9 मैचों में 11 अंक हो जाएंगे. ऐसे में न्यूजीलैंड को अपने अगले तीनों मैच हारने होंगे. इसके बाद भी दोनों के बीच अंक बराबरी पर रहे, तो मुद्दा नेट रन रेट के आधार पर तय होगा.

न्यूजीलैंड यदि पाकिस्तान, ऑस्ट्रेलिया व इंग्लैंड से पराजय जाता है, तो उसके 11 अंक ही रह जाएंगे. दूसरी व 11 अंकों के साथ पाक चौथे नंबर पर उसके बराबर पहुंच जाएगा. लेकिन यदि पाक को सेमीफाइनल में स्थान बनानी है, तो उसे अपने सारे मैच ना सिर्फ जीतने होंगे, बल्कि बड़े अंतर से जीतने होंगे.