रात को पकाए चावल प्रातः काल खाने से पेट रहेगा दुरुस्त व मिलेगा यह फायदा

रात को पकाए चावल प्रातः काल खाने से पेट रहेगा दुरुस्त व मिलेगा यह फायदा

बॉलीवुड की लोकप्रिय एक्ट्रेस कंगना रनौत की बहन रंगोली चंदेल का विवादों से नाता छूटता ही नहीं है। आजकल वह तापसी पन्नू से ट्विटर-वार में व्यस्त हैं। इस बार जवाब देने का कार्य तापसी ने किया है। तापसी ने एक्टिंग को लेकर रंगोली के दिए गए बयान का जवाब दिया है। तापसी ने कहा, 'एक्टिंग नहीं आती, फिर भी फ़िल्में मिल रही हैं क्या करूं?, हमें डायरेक्टर्स से सवाल पूछना चाहिए, वह मेरे पास क्यों आ रहे हैं?' यह बात तापसी ने रंगोली के उस बयान पर कही है, जिसमें रंगोली ने बोला था कि उन्हें एक्टिंग का ए भी नहीं आता व खुद की तुलना दिग्गजों से कर रही हैं।

रात को पकाए चावल प्रातः काल खाने से पेट दुरुस्त

हम में से कई लोग रात को बनाए गए ज्यादा परांठे, चपातियां और चावल प्रातः काल नाश्ते में खा लेते हैं. अमरीकी वैज्ञानिकों ने शोध में पाया कि रात को बनाकर रखे गए चावल प्रातः काल खाने से पेट की गर्मी शांत होती है और अल्सर जैसे कई रोगों से राहत मिलती है. इसके लिए वैज्ञानिकों ने पकाए हुए चावल को मिट्टी के बर्तन में रखा. प्रातः काल इसमें जो खमीर आया वह स्वास्थ्य वर्धक पाया गया.

सुबह उठकर 2 गिलास पानी पीने से लाभ -
अक्सर सुनने में आता है कि कुछ लोग प्रातः काल उठते ही दो गिलास गुनगुना पानी पीते हैं. कारण वजन कम करना या कब्ज की परेशानी को दूर करना होता है. लेकिन क्या आप जानते हैं यह कार्य कैसे करता है. रातभर सोने के दौरान शरीर के विभिन्न हिस्सों में बलगम व बैक्टीरिया इकट्ठे हो जाते हैं. ऐसे में गुनगुना पानी अंदरुनी अंगों पर जमे कफ, बैक्टीरिया और अन्य विषैले तत्त्वों को बाहर निकाल देता है. इससे पेट से जुड़े रोगों में बहुत ज्यादा फायदा होता है.

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि तापसी अपनी आने वाली फ़िल्म 'सांड की आंख' के प्रमोशन में व्यस्त हैं। इस दौरान स्पॉटबॉय को दिए गए एक साक्षात्कार में उन्होंने इस बात का जिक्र किया। तापसी से जब रंगोली के सवालों को लेकर बात पूछी गई, तब उन्होंने कहा, 'नहीं आती, फिर भी फ़िल्में मिल रही हैं क्या करूं?, हमें डायरेक्टर्स से सवाल पूछना चाहिए, वह मेरे पास क्यों आ रहे हैं?' मुझे माफ करना वैसे मैंने कुछ चार फिल्में साइन की हैं, तो अभी तुम्हें झेलना ही पड़ेगा। ' वह इस सवाल का जवाब थोड़ से व्यंगात्मक टोन में दे रही हैं। वहीं, उनको इस मुद्दे में भूमि पेडनेकर का भी साथ मिला। भूमि ने भी मजाकिया अंदाज में बोला कि 'सच है, ऑडियन्स भी बेवकूफ है। '

अगर आपकों नही पता तो बता दे कि इससे पहले कंगना रनौत की बहन व मैनेजर रंगोली ने फ़िल्म 'सांड की आंख' को लेकर तापसी पर निशान साधा था। तापसी के ट्वीट को रीट्विट करते हुए रंगोली ने लिखा था, 'एक्टिंग का ए भी नहीं आता व खुद की तुलना दिग्गजों से कर रहे हो। सफेद बाल लगा लेने से एक्टर नहीं बन जाओगे, 60 वर्ष की औरत की बॉडी लेंग्वैज व आवाज़ का क्या? बूढ़ी आवाज़ कहां है? एक्टिंग कहां है?' आपको बता दें कि तापसी 'सांड की आंख' में एक 60 वर्ष की महिला का भूमिका निभा रही हैं। यह फ़िल्म 25 अक्टूबर को सिल्वर स्क्रीन पर रिलीज होने वाली है।