दूसरे अनौपचारिक शिखर सम्मेलन से पहले चीनी राजदूत सुन वीदोंग ने बोली यह बड़ी बात

 दूसरे अनौपचारिक शिखर सम्मेलन से पहले चीनी राजदूत सुन वीदोंग ने बोली यह बड़ी बात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व चाइना के राष्ट्रपति शी चिनफिंग के दूसरे अनौपचारिक शिखर सम्मेलन से पहले चीनी राजदूत सुन वीदोंग ने बोला कि हिंदुस्तान व चाइना को क्षेत्रीय स्तर पर संवाद के माध्यम से शांतिपूर्वक विवादों का हल करना चाहिए व संयुक्त रूप से शांति तथा स्थिरता को बुलंद करना चाहिए.

चेन्नई के नजदीक प्राचीन तटीय शहर मामल्लापुरम में शिखर सम्मेलन की तैयारियां कश्मीर मामले की पृष्ठभूमि में हो रही है व दोनों पक्षों ने शी की हिंदुस्तान यात्रा की तारीखों की घोषणा अभी तक नहीं की है हालांकि समझा जाता है कि वह करीब 24 घंटे की यात्रा पर शुक्रवार को चेन्नई पहुंचेंगे. चीनी दूत ने बोला कि हिंदुस्तान व चाइना दोनों को 'मतभेदों के प्रबंधन के मॉडल से आगे जाना चाहिए व सकारात्मक ऊर्जा के संचय के जरिए द्विपक्षीय संबंधों को आकार देने व साझा विकास के लिए अधिकतम योगदान की दिशा में कार्य करना चाहिए.' उन्होंने कहा, ''क्षेत्रीय स्तर पर, हमें शांतिपूर्वक वार्ता व विचार विमर्श के जरिए विवादों को हल करना चाहिए तथा संयुक्त रूप से क्षेत्रीय शांति व स्थिरता को कायम रखना चाहिए