अहमदाबाद की लोकल न्यायालय ने राहुल गांधी को लेकर सुनाया यह निर्णय

 अहमदाबाद की लोकल न्यायालय ने राहुल गांधी को लेकर सुनाया यह निर्णय

अहमदाबाद की लोकल न्यायालय ने बैंक मानहानि मुद्दे में कांग्रेस पार्टी नेता राहुल गांधी की जमानत अर्जी मंजूर कर दी है। न्यायालय ने 15,000 के मुचलके पर राहुल गांधी की जमानत मंजूर की है। इससे पहले कांग्रेस पार्टी नेता छठी मंजिल पर बने न्यायालय रूम में पहुंचे। कुछ देर में राहुल का बयान दर्ज होगा। जिस मुद्दे में राहुल को जमानत मिली है, वह बैंक व उसके चेयरमैन से जुड़ी मानहानि का है।

पत्रकार की मर्डर के लिए भाजपा को दोषी ठहराया था
अहमदाबाद जिला सहकारी बैंक व इसके चेयमैन ने राहुल गांधी के विरूद्ध याचिका दायर की थी। न्यायालय ने नोटबंदी के दौरान राहुल गांधी के द्वारा दिए गए एक बयान के सिलसिले में न्यायालय में पेश होने का आदेश दिया था। इससे पहले पत्रकार व लेखिका गौरी लंकेश की मर्डर के विषय में मानहानि के मुकदमे में गांधी पिछले सप्ताह मुंबई में न्यायालय के समक्ष पेश हुए थे। पत्रकार की मर्डर के लिए उन्होंने 'भारतीय जनता पार्टी (भाजपा)- राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की विचारधारा' को दोषी ठहराया था।

6 जुलाई को पटना की अदलात में पेश हुए
पीएम नरेंद्र मोदी पर राहुल ने एक टिप्पणी की थी। उन्होंने बोला था कि 'क्यों सभी चोरों' को मोदी बोला जाता है, जिस पर बिहार के उप-मुख्यमंत्री व बीजेपी नेता सुशील कुमार मोदी द्वारा याचिका दायर की गई। मुद्दे में 6 जुलाई को राहुल पटना की अदलात में पेश हुए थे। कांग्रेस पार्टी नेताओं के अनुसार, राहुल गांधी पर सारे देश की विभिन्न अदालतों में आरएसएस व बीजेपी कार्यकर्ताओं द्वारा 20 मुद्दे दर्ज कराए गए हैं।