गेम चेंजर साबित होगी कोरोना वैक्‍सीन : WHO

गेम चेंजर साबित होगी कोरोना वैक्‍सीन : WHO

WHO ने कोविड वैक्‍सीन के वादे को 'अभूतपूर्व' और 'संभावित रूप से परिदृश्‍य बदलने वाला' कहा है। WHO के यूरोपीय निर्देशक हंस क्लूज ने गुरुवार को कहा कि ब्रिटेन के वैक्‍सीन को मंजूरी देने वाला पहला पश्चिमी देश बन चुका है। ब्रिटेन ने फाइजर के कोविड वैक्सीन को मंजूरी दे चुके है, जो जर्मनी के बॉयोटेक के साथ विकसित हुआ है। जिसके साथ ही ब्रिटेन इतिहास में सबसे अहम् सामूहिक टीकाकरण कार्यक्रम शुरू करने की दौड़ में विश्व से आगे निकल चुका है। जंहा इस बात का पता चला ही कि पहले टीके की आपूर्ति बहुत सीमित हो चुकी है। देशों को यह तय करना होगा कि वैक्‍सीन में किसे प्राथमिकता दी जा रही है। हालांकि WHO ने "बढ़ती आम सहमति" का भी हवाला दिया कि पहले कोविड वैक्‍सीन के लिए वृद्ध लोगों, चिकित्सा कर्मचारियों और अन्य बीमारियों वाले लोगों को प्राथमिकता होनी चाहिए जैसे कि ब्रिटेन की वैक्‍सीन के लिए योजना बना रहे है।

क्लूज ने कहा नए कोविड से अभी भी "भारी क्षति" करने की क्षमता है, लेकिन वैक्‍सीन की वजह से भविष्य उज्जवल दिखता है। अन्य वैक्‍सीन बनाने वाली कंपनियों में मॉडर्न और एस्ट्राजेनेका भी मौजूद हैं, ने सकारात्मक रूप से टेस्‍ट के रिजल्‍ट दिए हैं। क्‍लूज ने बोला कि हमारे पास जितने अधिक उम्मीदवार होने वाले है, सफलता के उतने ही अधिक मौके होंगे। सार्वजनिक स्वास्थ्य उपायों के साथ मिलकर टीके के निर्माण से महामारी के की तेज वृद्धि पर रोक लगाई जाने वाली है, और पहुंच के भीतर अर्थव्यवस्थाओं का पुनर्निर्माण होने वाले है।

मिली जानकारी के अनुसार फाइजर के तेज शॉट के ब्रिटिश मंजूरी के जवाब में यूरोपीय संघ के नियामक ने बोला कि जिसके लिए लंबी प्रक्रिया अधिक उपयुक्त थी और अधिक साक्ष्य की जरूरत हुई थी। वैक्‍सीन के लिए यूरोपीय संघ और अमेरिका का अलग मंजूरी कुछ दिनों या हफ्तों के अंदर मिल सकती है।  इस दौरान WHO के एक अधिकारी ने वैक्‍सीन को लेकर विभिन्न विनियामक प्रक्रियाओं के बारे में जानकारी दी है। वैश्विक स्वास्थ्य एजेंसी और यूरोपीय मेडिसिन एजेंसी ने ब्रिटेन से उन दस्तावेजों को शेयर करने के लिए बताया, जो जिसके मंजूरी का उपयोग दूसरे निकायों के स्वयं के आकलन में तेजी लाने में मदद करते हैं। WHO के प्रोग्राम मैनेजर ने बताया कि आखिरकार टीकाकरण के लिए टारगेट किए लोगों में विश्वास पैदा करते हैं।


लूट ले गयी दुल्हन, दुल्हे को लगाया 6 लाख का चूना

लूट ले गयी दुल्हन, दुल्हे को लगाया 6 लाख का चूना

शादी के नाम पर छलावा की घटनाएं इन दिनों बढ़ गई हैं इसी तरह की एक घटना लखनऊ में हुई है। शादी से पहले ही एक लड़की ने होने वाले दूल्हे को लाखों रुपये का चूना लगाकर रफूचक्कर हो गई। 16 दिसंबर को युवक की शादी होनी थी लेकिन उससे पहले ही लड़की उसे लूट कर फरार हो गई। दरअसल मनोज अग्रवाल नाम के युवक की मेट्रोमोनियल वेबसाइट जीवन साथी डॉट कॉम के जरिए एक लड़की से जान-पहचान हुई थी जिसके बाद बात शादी तक पहुंची थी।

जीवन साथी डॉट कॉम से हुई मुलाकात
राजधानी लखनऊ के रहने वाले मनोज अग्रवाल ने शादी के लिए जीवन साथी डॉट कॉम पर अपनी प्रोफाइल बनाई थी। इसी दौरान 15 अगस्त को प्रियंका सिंह नाम की एक लड़की का उसे रिक्वेस्ट मिला जिसके बाद दोनों में बातचीत का सिलसिला शुरू हो गया। मनोज के मुताबिक लड़की ने उसे बताया कि वो बिहार की रहने वाली है और उसके माता-पिता का देहांत हो चुका है। वो अपनी मौसी के साथ रहती है और दिल्ली में रह कर पढ़ाई करती है।

घरवालों से बात-चीत के बाद रिश्ता पक्का
बताया जा रहा है कि मनोज के घरवालों और प्रियंका की मौसी ने बातचीत कर दोनों के रिश्ते को फाइनल कर दिया। इस दौरान युवती ने मनोज से यह भी कहा कि वह आईएएस (UPSC) की तैयारी कर रही है और जल्द ही उसका चयन भी हो जाएगा। मनोज के मुताबिक इसी बहाने युवती ने पैसा मांगना शुरू कर दिया। मनोज ने कहा कि युवती पढ़ाई के लिए कभी 10 हजार कभी 20 हजार और 50 हजार रुपये मांगती रही और वो होने वाली पत्नी समझकर देता रहा। इस तरह युवक ने घर बनवाने के लिए जमा किए गए करीब 6 लाख रुपये उस लड़की को दे दिए।

 दिसंबर में शादी की तारीख थी तय
पता चला है कि 6 महीने से दोनों में व्हाट्सएप चैटिंग चल रही थी और दोनों का मिलना जुलना भी होता था। इसी दौरान 16 दिसंबर को शादी की तारीख तय की गई। युवक इससे बेहद खुश हुआ और अपनी शादी की तैयारियों में जुट गया।फरार होने वाली युवती जब मनोज से मिलने लख़नऊ पहुंची तो उसके आने-जाने की फ़्लाइट का किराया भी मनोज ने ही दिया। यहां तक कि मनोज ने मॉल में उसे लगभग 2 लाख रुपये की शॉपिंग भी करवाई।

मनोज को चूना लगाकर फरार हो गई प्रियंका
इसके बाद कथित तौर पर आरोपी प्रियंका सिंह आखिरी बार हैदराबाद जाने की बात कह कर मनोज को चूना लगाकर फरार हो गई। युवती के गायब होने के बाद सिर्फ उसका ही नहीं बल्कि उसकी मौसी का फोन भी ऑफ आने लगा। मनोज ने जब प्रियंका द्वारा दिए गए आधार कार्ड, पैन कार्ड और वोटर कार्ड की जांच की तो वो भी फर्जी निकला।

 प्रियंका का बिहार और दिल्ली का पता निकला फर्जी
जब पीड़ित आरोपी प्रियंका के दिए हुए पते पर बिहार और दिल्ली में जांच करने पहुंचा तो वो भी फर्जी निकला जिसके बाद पीड़ित को ठगी का अहसास हुआ। शादी से पहले ही प्रियंका नाम की युवती मनोज को लूट कर फरार हो चुकी थी। इसके बाद पीड़ित मनोज ने हज़रतगंज थाने में युवती के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया है। अब पुलिस इस मामले की जांच कर रही है।


फोर्ड कंपनी के चेन्नई प्लांट में उत्पादन हुआ बंद, जानें       फंसी खूबसूरत ये एक्ट्रेस, बाथरूम में हो गया ये बड़ा कांड, जानकर हो हैरान       सलमान लड़ाई की वजह, रवीना हो गई थी गुस्से से लाल       तांडव के अलावा ये फिल्में भी कंट्रोवर्सी की शिकार, लेकिन...       अखिलेश यादव ने कहा कि किसान आंदोलन से ध्यान भटकाने के लिए भाजपा कर रही है तांडव       UP में अब दो दिन ही होगा काम, लगेगी सेकेण्ड डोज       लूट ले गयी दुल्हन, दुल्हे को लगाया 6 लाख का चूना       लखनऊ में गुड़ महोत्सव, सीएम योगी करेंगे उद्घाटन       ये देश लिखना पढ़ना नहीं जानते, क्या सच में है ऐसा ?       क्या गांजे को करे दें लीगल, जनता से पूछा गया सवाल       ऐसे लोगों में कोविड-19 से संक्रमित होने का खतरा कम, सीरो सर्वे का चौंकाने वाला दावा       शुभेंदु की ममता को ललकार, चुनावी सीट पर घमासान       अभी अभी: लड़ाकू विमान राफेल- आसमान में दिखेगी ताकत, जोधपुर में गरजेगा ये देश       धमाके से कांपा जमशेदपुर, ब्लास्ट से डरे-सहमे लोग       SC की दो टूक, दिल्ली में कौन आएगा, तय करे पुलिस       शुभेंदु अधिकारी की रैली में बड़ा हंगामा, भयानक झड़प BJP-TMC कार्यकर्ताओं में       सबसे ऊंचा कृष्ण मंदिर, अब जयपुर में पधारेंगे कन्हैया       इस बड़े बैंक ने करोड़ों ग्राहकों को दिया बड़ा तोहफा       अदाणी समूह द्वारा संचालित तीन हवाई अड्डों को मिला सम्मान       फटाफट कर लें खरीदारी, जानें क्या है नई कीमत