जिला एजुकेशन ऑफिसर ने पहली से आठवीं तक के बच्चों को लेकर दिए यह बड़े आदेश, जाने कब प्रारम्भ होगी पढ़ाई

जिला एजुकेशन ऑफिसर ने पहली से आठवीं तक के बच्चों को लेकर दिए यह बड़े आदेश, जाने कब प्रारम्भ होगी पढ़ाई

मध्‍य प्रदेश शासन द्वारा बच्चों को घर पर पढ़ाने के लिए 6 जुलाई से हमारा घर- हमारा विद्यालय अभियान प्रारम्भ किया जा रहा है. इसके तहत गुना जिले के प्राथमिक व माध्यमिक विद्यालयों के एक लाख 36 हजार बच्चों की कक्षाएं 6 जुलाई से घर पर लगेंगी. 

प्रातः काल 10 बजते ही दादी अपने नातियों को घर की कक्षा में बिठाने के लिए थाली बजाकर बुलाएंगी, तो दादा पोते--पोतियों को पढ़ाने के लिए शिक्षक बनकर टेबल व कुर्सी पर बैठे नजर आएंगे. जिला एजुकेशन ऑफिसर ने पहली से आठवीं तक के बच्चों को घर में स्कूल जैसा माहौल देने के विषय में आदेश जारी कर दिए हैं.

घर पर ही होगी औनलाइन पढ़ाई

डीईओ आरएल उपाध्याय ने बताया कि पहली से लेकर आठवीं तक के बच्चों की कक्षाएं कोरोना वायरस के प्रसार के कारण स्कूलों में नहीं लगेंगी. जिसकी वजह से हमारा घर विद्यालय योजना के तहत जिले के एक लाख 36 हजार बच्चों को घर पर ही औनलाइन पढ़ाई रेडियो, टीवी, मोबाइल व पाठ्य पुस्तकों के माध्यम से कराई जाएंगी. इस विषय में स्कूलों के हेडमास्टर व शिक्षकों को दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं.

उन्होंने बताया कि हमारा घर- हमारा विद्यालय अभियान के तहत 6 जुलाई से पहली से आठवीं तक के बच्चों को दादी व दादा और बच्चों के अभिभावक पढ़ाएंगे. घर पर ही इन बच्चों को पढ़ाने के लिए प्रातः काल 10 बजे दादी थाली बजाकर पढ़ने बिठाएंगी. दादा अपने पोते--पोतियों को ज्ञान का पाठ पढ़ाएंगे.

अक्‍टूबर से पहले स्‍कूलों का खुलना मुश्किल

अनलॉक 2 में केंद्रीय गृह मंत्रालय ने भिन्न-भिन्न प्रदेश सरकारों के साथ परामर्श के बाद निर्णय किया है कि स्कूल-कॉलेज व कोचिंग संस्थान 31 जुलाई तक बंद रखे जाएंगे. आने-वाले महीनों में भी कोरोना संक्रमण की गति की आशंकाओं के बीच स्कूलों का वैसे अक्टूबर से पहले खुलना कठिन लग रहा है. ऐसे में मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने स्वास्थ्य विशेषज्ञों के साथ चर्चा के बाद इसके इशारा दिए है. ऐसे में मंत्रालय ने आनलाइन पढ़ाई की भी मुहिम को व तेज किया है. स्कूलों से आनलाइन क्लास लगाने व विद्यार्थियों को उससे जोड़ने के आदेश दिए है.

केंद्रीय विद्यालयों में आनलाइन पढ़ाई शुरू

इस बीच एचआरडी मंत्रालय के आदेश पर केंद्रीय विद्यालयों में औनलाइन पढ़ाई प्रारम्भ हो गई है. विद्यार्थियों को हर दिन दो से तीन घंटे औनलाइन पढ़ाया जा रहा है. इस दौरान नोट्स आदि भी तैयार कराने का कार्य प्रारम्भ कर दिया है. हालांकि अभी हर दिन सभी विषय नहीं पढ़ाए जाते है बल्कि इन्हें तीन से चार दिन ही पढ़ाया जा रहा है. इस बीच विद्यार्थियों की उपस्थिति भी महत्वपूर्ण की गई है.