भारत में आतंकवादी हमले की साजिश का हुआ खुलासा, करने वाले थे बड़ा हमला

भारत में आतंकवादी हमले की साजिश का हुआ खुलासा, करने वाले थे बड़ा हमला

 कोरोना महामारी ( Coronavirus Crisis ) के बीच हिंदुस्तान में आतंकवादी हमले की साजिश ( Conspiracy of terrorist attack in India ) खुलासा हुआ है. खुफिया सूत्रों से खुलासा हुआ है

कि आतंकवादी संगठन जैश-ए-मुहम्मद ( Jaish-e-Muhammad ) व लश्कर-ए-तैयबा ( Lashkar-e-Taiba ) 15 अगस्त से पहले हिंदुस्तान में हमले की फिराक में हैं. हमले के लिए दोनों आतंकवादी संगठनों ( Terrorist organizations ) के 20 आतंवादियों को अफगानिस्तान ( Afghanistan ) में ट्रेनिंग दी गई है. सूत्रों के अनुसार जम्मू और कश्मीर ( Jammu-Kashmir ) में से आर्टिकल 370 ( Article 370 ) हटने की पहली पहली वर्षगांठ व स्वतंत्रता दिवस ( Independence day ) यानी 15 अगस्त से पहले ये आतंकवादी हिंदुस्तान में किसी बड़ी घटना को अंजाम देना चाहते हैं.

खुफिया सूत्रों के अनुसार इन आतंकवादियों को पाकिस्तान सेना के एक विशेष बल, एसएसजी ने ट्रेनिंग दी है. जिनको सीमा पर घुसपैठ कराकर हिंदुस्तान में प्रवेश कराने की तैयारी की जा रही है. एक शीर्ष आधिकारिक सूत्र ने जानकारी देते हुए कि इन बड़ी वारदात की योजना बना रहे इन हमलावरों में अफगानिस्तान में प्रशिक्षित जैश या लश्कर के आंतकवादी हो सकते हैं. इसी का नतीजा है कि सारे जम्मू सेक्टर में पाकिस्तान अग्रिम लांचिंग पैड्स के करीब लश्कर व जैश के ट्रेंड आतंकियों की खेप जमा है. जम्मू—कश्मीर की खुफिया एजेंसियों का तो यहां तक मानना है कि जम्मू क्षेत्र में इंटरनेशन बॉर्डर व पंजाब से लगी सीमा से आतंकियों की एक खेप घुसपैठ करने का कोशिश कर सकती है.

सूत्रों के अनुसार आर्टिकल 370 हटने की वर्षगांठ यानी 5 अगस्त से पहले लश्कर व जैश के आतंकवादी सक्रिय हो सकते हैं. आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि पिछले वर्ष पांच अगस्त को ही जम्मू एवं कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटा दिया गया था. इसके साथ ही इस दिन अयोध्या में श्रीराम मंदिर के निर्माण की आधारशिला रखी जाएगी, जिसमें पीएम नरेंद्र मोदी ( पीएम Narendra Modi ) व यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ( Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath ) समेत तमाम बड़े नेता उपस्थित रहेंगे. खूफिया एजेंसियों ( Intelligence agencies ) ने खुलासा किया है कि आतंकियों का एक ग्रुप कश्मीर में बीएसएफ के कैंप पर हमले की योजना बना रहा है. वहीं, LoC के पास सुरक्षा बंदोवस्त मजबूत कर दिए गए हैं. आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि जम्मू और कश्मीर में सीमा पर से घुसपैठ ( Infiltration in India ) के कोशिश तेज हो गए हैं. हालांकि इंडियन आर्मी ( Indian Army ) ने हर बार आतंकवादियों के घुसपैठ की कोशिशों को विफल कर शत्रु के मंसूबों को नाकाम किया है.