कश्मीर पहुंचे शाहनवाज हुसैन ने 'अनुच्छेद 370' पर कही ये बातें, लगे पीएम मोदी जिंदाबाद के नारे...

कश्मीर पहुंचे शाहनवाज हुसैन ने 'अनुच्छेद 370' पर कही ये बातें, लगे पीएम मोदी जिंदाबाद के नारे...

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता व भूतपूर्व केंद्रीय मंत्री शाहनवाज हुसैन को बीजेपी ने जम्मू-कश्मीर में होने वाले निकाय चुनावों के लिए चुनाव सह-प्रभारी बनाया है. वो अपने चार दिवसीय दौरे पर कश्मीर में हैं. उन्होंने कश्मीर से अनुच्छेद 370 के बारे में बयान देते हुए कहा कि यहां 370 अब कभी बहाल नहीं हो सकता. जम्मू-कश्मीर के लोग अब विकास की बात करते हैं. यह उनका वाजिब अधिकार है.

दुनिया में टूरिज्म का सबसे बड़ा हब बनेगा जम्मू-कश्मीर-शाहनवाज हुसैन

अनुच्छेद 370 हटने के बाद पहली बार कश्मीर पहुंचे भाजपा नेता शाहनवाज हुसैन ने श्रीनगर के लाल चौक पर प्रेसवार्ता की. इस दौरान उन्होंने जम्मू-कश्मीर में पूर्व में सत्ता को संभालने वाले तमाम विपक्षी नेताओं पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर के हालात अब बदल चुके हैं. विकास ही अब यहां का मुद्दा है और यहां का यह अधिकार है. कोरोना के कारण कई प्रोजेक्ट को शुरू करने में विलंब हुआ लेकिन अब उनमें रफ्तार पकड़ेगी. जम्मू-कश्मीर से आतंकवाद का खात्मा होगा और यह दुनिया में टूरिज्म का सबसे बड़ा हब बनेगा.

गैंग ऑफ वासेपुर का दिया उदाहरण, 370 कभी लागू नहीं होने की कही बात

इस दौरान उन्होंने गैंग ऑफ वासेपुर का उदाहरण देते हुए कहा कि यहां भी गैंग ऑफ गुपकार चलता है. जो केवल अपने परिवार की ही भलाई करता आया है. जबकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वंशवाद के खिलाफ हैं. उन्होंने फारूक अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती पर निशाना साधते हुए कहा कि ये लोग अनुच्छेद 370 को वापस लाने के मुद्दे पर लोगों को गुमराह कर रहे हैं. हकीकत यह है कि अनुच्छेद 370 कभी भी अब लागू नहीं हो सकता. उन्होंने कहा कि इस बात को अब गुपकार गैंग भी मान चुका है इसलिए वो भी जिला विकास परिषद के चुनाव में भाग ले रहे हैं.

कश्मीर में लगे नरेंद्र मोदी जिंदाबाद के नारे

इससे पहले मध्य कश्मीर के बडगाम पहुंचे शाहनवाज हुसैन का भाजपा कार्यकर्ताओं ने गर्मजोशी से स्वागत किया. उन्होंने भारतीय जनता पार्टी और नरेंद्र मोदी जिंदाबाद के नारे बुलंद किए. बता दें कि आगामी 28 नवंबर से 19 दिसंबर के बीच जम्मू-कश्मीर में स्थानिय निकाय चुनाव होने वाले हैं, जिसके लिए भाजपा ने अनुराग ठाकुर को चुनाव प्रभारी तथा शाहनवाज हुसैन व हरियाणा के सांसद संजय भाटिया को सह-प्रभारी बनाया है.


महंगा हो गया LPG Cylinder, जानें नई कीमत

महंगा हो गया LPG Cylinder, जानें नई कीमत

नई दिल्ली: देशभर में बिना सब्सिडी वाले LPG सिलेंडर की कीमतों में 50 रुपये की बढ़ोतरी कर दी गई है। पिछले 5 महीनें में पहली बार ऐसा हुआ है जब गैर-सब्सिडी वाले एलपीजी गैस सिलेंडर की कीमतों में बढ़ोतरी हुई है। ये बढ़ोत्तरी इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन (IOC) की तरफ से की गई है।

दाम बढ़ने के बाद एब 14.2 किलोग्राम गैर-सब्सिडी वाले एलपीजी सिलेंडर दिल्ली में कीमत 644 रुपये हो गए हैं। मुंबई में गैस की कीमत 644 रुपये, चेन्नई में, एलपीजी सिलेंडर की कीमत 660 रुपये और कोलकाता में 670.50 रुपये हो गई है।

क्यों बढ़े दाम

दाम बढ़ने को लेकर इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन का कहना है कि एलपीजी गैस सिलेंडर की कीमत राज्य द्वारा संचालित तेल कंपनियों द्वारा निर्धारित की जाती है और मासिक आधार पर संशोधित की जाती है। कंपनी ने आगे कहा कि इससे पहले जुलाई में रेट बदले गए थे लेकिन कोरोना की वजह से राज्य की तेल कंपनियां लगातार दबाव में हैं, क्योंकि दिसंबर में एलपीजी गैस सिलेंडर की कीमतों में संशोधन किया गया है। इतना ही नहीं सरकार ने भी कोरोना के चलते घरेलू रसोई गैस पर सब्सिडी प्रदान करने की आवश्यकता को भी समाप्त कर दिया था।

अचानक बढ़े रेट

बता दें इससे पहले सरकारी तेल विपणन कंपनियों ने दिसंबर महीने के लिए रसोई गैस के नए रेट्स की घोषणा की थी। कंपनियों ने तब गैस की कीमतों में किसी तरह का फेरबदल नहीं किया था। लेकिन आज अचानक दाम बढ़ गए।

ऐसे चेक करें एलपीजी के दाम

अगर आप अपने रसोई गैस के दाम चेक करना चाहते हैं तो आप सरकारी तेल कंपनी की वेबसाइट पर जाकर चेक कर सकते हैं। जाना या आप इस https://iocl.com/Products/IndaneGas.aspx लिंक पर जाकर आप अपने शहर के गैस सिलेंडर के रेट्स चेक कर सकते हैं।


अदा शर्मा के बाद Monalisa ने कराया सिर्फ फूलों वाली ड्रेस में फोटोशूट       क्या नई शिक्षा नीति में खत्म हो जाएगा SC/ST आरक्षण? जानें सच्चाई       कियारा आडवाणी की फिल्म इंदू की जवानी का सॉन्ग दिल तेरा रिलीज       महंगा हो गया LPG Cylinder, जानें नई कीमत       अपराधी गिरोह कोविड-19 का नकली टीका बेच सकते हैं: इंटरपोल की चेतावनी       PM Kisan की सातवीं किस्त का कर रहे इंतजार तो यहां जानें कहां अटका है आपका 2000 रुपया       बासी रोटियां खाने के ये फायदे जानकर इन्हें देखकर नहीं बनाएंगे मुंह!       आयुर्वेद के अनुसार सर्दियों में हर व्यक्ति को करना चाहिए इन पांच चीजों का सेवन       दिशा पाटनी ने शेयर की बोल्ड फोटो, यूजर्स करने लगे ट्रोल, कहा- मास्क तो पहन लो दीदी       दिशा पाटनी का ब्लू ड्रेस में ग्लैमरस लुक, फैन्स बोले- ब्यूटी क्वीन       भारत-बांग्लादेश के बीच रोहिंग्या (Rohingya Muslims) के साथ-साथ कोरोना वैक्सीन पर होगी बात, 17 दिसंबर को पीएम मोदी और शेख हसीना की मीटिंग       गोविंदा ने आदित्य नारायण के वेडिंग रिसेप्शन में अपने ही गाने पर किया डांस, पत्नी सुनीता ने भी दिया साथ       भाजपा राज्यों के शीर्ष नेताओं को राष्ट्रीय राजनीति में लाएगी, बिहार के बाद कर्नाटक में भी बदलाव के आसार       हथेली में ऐसी रेखा होने पर नौकरी में आती है बाधाएं, जानें इसके बारें में...       परमाणु बम बनाने की नई 'फैक्‍ट्री' बना रहा पाकिस्‍तान, सैटलाइट तस्‍वीरों से खुलासा       पाक की अदालत ने पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को ‘घोषित अपराधी’ करार दिया       हिंद महासागर में चीन को घेरने के लिए नौसेना की खास तैयारी, एयरक्राफ्ट-ड्रोन्स से रखी जा रही नजर       किसान आंदोलन जारी है, पर इन मांगों के लिए तैयार हो गई सरकार, कृषि मंत्री बोले- अगली बैठक में समाधान की उम्मीद       महाशय धर्मपाल का अजमेर से रहा नाता, निधन पर अजमेर गमगीन       दागी नेताओं पर आजीवन प्रतिबंध के हक में नहीं केंद्र सरकार, सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दाखिल कर स्पष्ट किया रुख