कालेजों में रामायण और महाभारत पढ़ेंगे छात्र, इंजीनियरिंग के सिलेबस में शामिल होगा रामसेतु

कालेजों में रामायण और महाभारत पढ़ेंगे छात्र, इंजीनियरिंग के सिलेबस में शामिल होगा रामसेतु

मध्य प्रदेश के कालेजों में छात्रों को अब रामायण और महाभारत पढ़ाया जाएगा। राज्य के उच्च शिक्षा विभाग का कहना है कि इंजीनियरिंग छात्रों के पाठ्यक्रम में रामायण, महाभारत और रामचरितमानस (Ramayana, Mahabharata and Ramcharitmanas) को शामिल किया गया हैं।

राज्य के उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव (MP Higher Education Minister Mohan Yadav) ने कहा कि जो कोई भी भगवान राम के चरित्र और समकालीन कार्यों के बारे में सीखना चाहता है, वह इंजीनियरिंग पाठ्यक्रमों के जरिए ऐसा कर सकता है। शिक्षा मंत्री ने कहा कि हमारे अध्ययन बोर्ड के शिक्षकों ने एनईपी 2020 के तहत पाठ्यक्रम तैयार किया है... यदि हम अपने गौरवशाली इतिहास को आगे ला सकते हैं, तो इससे किसी को कोई दिक्कत नहीं होनी चाहिए।


इस शैक्षणिक सत्र से प्रभावी होने वाले नए पाठ्यक्रम के अनुसार, कला के छात्रों के लिए 'श्री रामचरितमानस के अनुप्रयुक्त दर्शन' को वैकल्पिक विषय के रूप में पेश किया गया है। वहीं, अंग्रेजी के फाउंडेशन कोर्स में प्रथम वर्ष के छात्रों को सी राजगोपालचारी की महाभारत की प्रस्तावना पढ़ाई जाएगी। राज्य के शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने कहा कि अंग्रेजी और हिंदी के अलावा, योग और ध्यान को भी तीसरे फाउंडेशन कोर्स के रूप में पेश किया गया है, जिसमें 'ओम ध्यान' और मंत्रों का पाठ शामिल है।

मध्य प्रदेश में सभी कालेज और विश्वविद्यालय 15 सितंबर से खोले जाएंगे। छात्रों की 50 फीसद उपस्थिति के साथ पढ़ाई शुरू की जाएगी। इस दौरान संपूर्ण शैक्षणिक तथा अशैक्षणिक स्टाफ को मौजूद रहने का आदेश जारी किया गया है। इसमें कहा गया है कि टीकीकरण के प्रथम डोज की प्रमाण पत्र जमा करने के बाद ही कालेज और विश्वविद्यालय में प्रवेश करने दिया जाएगा।


केरल में फिर बढ़े मामले, पूरे देश में बढ़े केसों ने बढ़ाई चिंता

केरल में फिर बढ़े मामले, पूरे देश में बढ़े केसों ने बढ़ाई चिंता

बीते 24 घंटों में देश में कोरोना के 30,570 नए मामले आने से अब तक संक्रमित होने वालों की संख्या बढ़कर 3,33,47,325 हो गई। इन नए मामलों में 22,182 मामले अकेले केरल में दर्ज किए गए। इस दौरान देश में कोरोना से 431 लोगों की मौत भी हुई जिसमें से 182 मौतें केरल में दर्ज की गईं। गुरुवार को शाम सात बजे तक 58.26 लाख टीके लगाए गए।

देश में कोरोना के मामले 4 दिन बाद फिर बढ़ गए हैं। लगातार चौथे दिन तक कोरोना के केस में कमी देखी जा रही थी। रोजाना 30 हजार से कम मामले दर्ज किए जा रहे थे, लेकिन गुरुवार सुबह नए कोविड केस फिस 30 हजार से ज्यादा दर्ज किए गए। 

केरल में फिर बढ़े मामले

वहीं देश में अभी 50 फीसदी से ज्यादा मामले केरल से आ रहे हैं। गुरुवार सुबह कोरोना के 17,681 नए मामले केरल से सामने आए। महामारी से 208 और मरीजों की मौत हो गई। इसके साथ ही कुल मामले बढ़कर 44 लाख 24 हजार 46 हो गए और मृतकों की संख्या 22,987 पर पहुंच गई। यहां संक्रमण दर 18 फीसद से ज्यादा है। वहीं गुरुवार शाम को केरल में गुरुवार शाम को 22,182 नए मामले सामने आए हैं। 26,563 लोग ठीक हो रहे हैं और 178 लोगों की मौत हुई है।

तेजी से हो रहा वैक्सीनेशन

देश में वीकली पाजिटिविटी रेट की बात करें तो यह 1.93फीसद है। पिछले 83 दिनों से ये 3 प्रतिशत से नीचे है। डेली पाजिटिविटी रेट 1.94 प्रतिशत है जो कि पिछले 17 दिनों से 3 प्रतिशत से नीचे है। पिछले 24 घंटे में 58.26 लाख लोगों का वैक्सीनेशन हुआ। अब तक कुल 77.10 करोड़ वैक्सीनेशन हो चुका है।

स्पुतनिक लाइट वैक्सीन के तीसरे चरण के ट्रायल को मंजूरी

देश में कोरोना के खिलाफ लड़ाई और तेज हो गई है। ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने रूस की स्पुतनिक लाइट वैक्सीन के तीसरे चरण के ट्रायल को मंजूरी दे दी है। बता दें कि यह सिंगल डोज वैक्सीन है जिसके बाद दूसरे डोज की जरूरत नहीं होगी। भारत में अभी जितनी भी वैक्‍सीन लगाई जा रही हैं उनकी दो डोज लगवानी पड़ती है।

देश में कोरोना की स्थिति

कोरोना/वैक्सीन मीटर (आंकड़े टैली फारमेट के लिए) ------- भारत, उत्तर प्रदेश, लखनऊ

24 घंटे में नए मामले- 30,570

कुल सक्रिय मामले- 3,42,923

24 घंटे में टीकाकरण- 58.26 लाख

कुल टीकाकरण- 77.10 करोड़

गुरुवार सुबह 08:00 बजे तक कोरोना की स्थिति

नए मामले- 30,570

कुल मामले- 3,33,47,325

सक्रिय मामले- 3,42,923

मौतें (24 घंटे में)- 431

कुल मौतें- 4,43,928

ठीक होने की दर- 97.64 फीसद

मृत्यु दर- 1.33 फीसद

पाजिटिविटी दर- 1.94 फीसद

सा.पाजिटिविटी दर- 1.93 फीसद

जांचें (बुधवार)- 15,79,761

कुल जांचें- 54,77,01,729