आपत्तिजनक पोस्ट करने वालों की अब खैर नहीं, केरल पुलिस अधिनियम संशोधन अध्यादेश को राज्यपाल की मंजूरी

आपत्तिजनक पोस्ट करने वालों की अब खैर नहीं, केरल पुलिस अधिनियम संशोधन अध्यादेश को राज्यपाल की मंजूरी

तिरुवनंतपुरम। केरल की एलडीएफ सरकार महिलाओं और बच्चों के खिलाफ बढ़ रहे साइबर क्राइम पर लगाम लगाने के लिए गंभीरता से कदम उठा रही है। शनिवार को राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान ने इसे लेकर लाए गए केरल पुलिस अधिनियम संशोधन अध्यादेश को मंजूरी दे दी है। इस अध्यादेश के तहत यदि सोशल मीडिया पर कोई व्यक्ति किसी भी तरह की ऐसी जानकारी भेजता है या बनाता है, जो अपमानजनक है या किसी को अपमानित करने या धमकी देने के इरादे से कोई पोस्ट करता है तो, ऐसे में उस व्यक्ति को पांच साल की जेल की सजा या 10 हजार रुपये जर्माना या दोनों का प्रावधान है।

वहीं पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने इसे लेकर नाराजगी व्यक्त की है। उन्होंने कहा है कि वो केरल सरकार के इस नियम से आश्चर्य में हैं। उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा, 'केरल की वाम लोकतांत्रिक मोर्चा (LDF) सरकार द्वारा सोशल मीडिया पर तथाकथित भड़काऊ आपत्तिजनक पोस्ट करने के कारण पांच साल की सजा के नियम से आश्चर्य में हूं।'

कांग्रेस के नेता ने रमेश चेन्नीथला समेत कांग्रेस नेताओं के खिलाफ जांच शुरू करने के लिए जांच एजेंसी को मंजूरी देने के राज्य सरकार के फैसले पर भी आश्चर्य व्यक्त किया है। बता दें कि केरल सरकार ने राज्यपाल और विधानसभा स्पीकर से कांग्रेस नेता रमेश चेन्नीथला और दो पूर्व मंत्रियों के खिलाफ जांच की इजाजत मांगी है। सरकार की तरफ से यह कदम बार रिश्वत मामले में खुलासे के बाद उठाया गया है। हाल ही में शराब कारोबारी बीजू रमेश ने आरोप लगाया था कि उसने पूर्व यूडीएफ सरकार के दौरान कांग्रेस नेता रमेश चेन्नीथला, जो उस समय पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष थे, को रिश्वत दी थी। इस मामले में चेन्नीथला के अलावा पूर्व आबकारी मंत्री के बाबू और स्वास्थ्य मंत्री वीएस शिवकुमार का भी नाम सामने आया है।


हिंद महासागर में चीन को घेरने के लिए नौसेना की खास तैयारी, एयरक्राफ्ट-ड्रोन्स से रखी जा रही नजर

हिंद महासागर में चीन को घेरने के लिए नौसेना की खास तैयारी, एयरक्राफ्ट-ड्रोन्स से रखी जा रही नजर

नई दिल्ली: पूर्वी लद्दाख में चीन (India China Standoff) के रवैये को देखते हुए भारतीय नौसेना (Indian Navy) ने हिंद महासागर (Indian Ocean) में किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए खास तैयारी की है। इसमें पूरा फोकस पड़ोसी मुल्क चीन पर है, जिससे उसकी ओर से किसी भी नापाक हरकत का तुरंत जवाब दिया जा सके। इसके लिए नौसेना ने इंडियन आर्मी (Indian Army) और भारतीय वायुसेना (Indian Air force) के साथ मिलकर विशेष रणनीति बनाई है। नौसेना प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह (Navy Chief Admiral Karambir Singh) ने कहा कि चीन समेत नौसैन्य क्षेत्र में कई तरह की चुनौतियों से इंडियन नेवी अवगत है। उससे निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार भी है।

'नौसेना के एयरक्राफ्ट पी-81 और हेरोन ड्रोन की तैनाती'
नौसेना दिवस की पूर्व संध्या पर नौसेना प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह ने गुरुवार को कहा कि हिंद महासागर क्षेत्र में किसी भी तरह के अतिक्रमण जैसी स्थिति में नौसेना के पास जरूरी तैयारी है। नौसेना प्रमुख अप्रत्यक्ष तौर पर चीन से मिल रही चुनौतियों का हवाला दे रहे थे। पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा की स्थितियों का हवाला देते हुए नौसेना प्रमुख ने कहा कि भारतीय नौसेना के निगरानी विमान पी-81 और हेरोन ड्रोन इस इलाके में तैनात हैं।

नौसेना प्रमुख बोले- आर्मी और वायु सेना के साथ समन्वय से कर रहे काम
नौसेना प्रमुख ने कहा कि हम जो भी कर रहे हैं, वह इंडियन आर्मी और भारतीय वायु सेना के साथ करीबी समन्वय से कर रहे हैं। भारत और चीन के बीच पिछले करीब सात महीने से पूर्वी लद्दाख में सीमा गतिरोध चल रहा है। यह गतिरोध चीन के आक्रामक रवैये से पैदा हुआ है। एडमिरल सिंह ने देश के सामने मौजूद नौसैन्य क्षेत्र की चुनौतियों पर कहा कि भारतीय नौसना परीक्षा की घड़ियों में डटे रहने के लिए दृढ़ संकल्पित है।

तीसरे विमान वाहक पोत को लेकर एडमिरल करमबीर सिंह का बड़ा बयान
प्रस्तावित ‘मैरीटाइम थियेटर कमांड’ के बारे में बताते हुए करमबीर सिंह ने कहा कि इसको लेकर काम तेजी आगे बढ़ रहा है। इसका वास्तविक आकार कुछ समय के बाद सामने आएगा। नौसेना प्रमुख ने कहा कि भारतीय नौसेना का ध्यान पानी के भीतर क्षमताओं को बढ़ाने पर केंद्रित है। तीसरे विमान वाहक पोत को शामिल करने पर उन्होंने कहा कि नौसेना अपनी जरूरतों के बारे में बेहद स्पष्ट है।

'देश को तीसरे विमानवाहक पोत की सख्त जरूरत'
नौसेना प्रमुख ने गुरुवार को कहा कि समुद्र में अपनी ताकत बढ़ाने के लिए देश को तीसरे विमानवाहक पोत की 'सख्त जरूरत' है। सभी जरूरी तकनीकी विवरण जुटाने के बाद सरकार के पास यह प्रस्ताव रखा जाएगा। हमने तीसरे विमानवाहक पोत के लिए अब तक सरकार से नहीं कहा है। लेकिन, विमानवाहक पोत की उपयोगिता के मामले में हमारी राय बिल्कुल स्पष्ट है। ऐसा इसलिए कि नौसैन्य अभियान में हवाई परिचालन भी शामिल है। समुद्र में हवाई क्षमता बहुत जरूरी है।

चीन की बढ़ती आक्रामकता को लेकर बोले नौसेना प्रमुख
चीन की बढ़ती आक्रामकता और हिंद महासागर में उसके बढ़ते असर के मद्देनजर नौसेना तीसरे विमानवाहक पोत पर जोर दे रही है। वर्तमान में भारत के पास एक विमान वाहक पोत आईएनएस विक्रमादित्य है। स्वदेशी विमान वाहक पोत आईएनएस विक्रांत के 2022 तक सेवा में शामिल होने की संभावना है। नौसेना प्रमुख ने कहा कि अगर आप एक ऐसा देश हैं जिसकी आकांक्षाएं हैं, अगर आप पांच ट्रिलियन की अर्थव्यवस्था वाला देश बनना चाहते हैं, अगर आप अच्छा करना चाहते हैं...तो आपको आगे बढ़ना होगा। इसलिए हवाई ताकत जरूरी है.

फरवरी में प्रमुख रक्षा अध्यक्ष (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत ने संकेत दिया था कि समुद्री बेड़े की क्षमता बढ़ाने के लिए तीसरे विमानवाहक पोत को फिलहाल मंजूरी शायद नहीं मिलेगी। सैन्य खरीद की जिम्मेदारी संभाल रहे जनरल रावत ने कहा था था कि खर्च बहुत बड़ा पहलू है क्योंकि विमानवाहक पोत पर बहुत लागत आती है।


भाजपा राज्यों के शीर्ष नेताओं को राष्ट्रीय राजनीति में लाएगी, बिहार के बाद कर्नाटक में भी बदलाव के आसार       हथेली में ऐसी रेखा होने पर नौकरी में आती है बाधाएं, जानें इसके बारें में...       परमाणु बम बनाने की नई 'फैक्‍ट्री' बना रहा पाकिस्‍तान, सैटलाइट तस्‍वीरों से खुलासा       पाक की अदालत ने पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को ‘घोषित अपराधी’ करार दिया       हिंद महासागर में चीन को घेरने के लिए नौसेना की खास तैयारी, एयरक्राफ्ट-ड्रोन्स से रखी जा रही नजर       किसान आंदोलन जारी है, पर इन मांगों के लिए तैयार हो गई सरकार, कृषि मंत्री बोले- अगली बैठक में समाधान की उम्मीद       महाशय धर्मपाल का अजमेर से रहा नाता, निधन पर अजमेर गमगीन       दागी नेताओं पर आजीवन प्रतिबंध के हक में नहीं केंद्र सरकार, सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दाखिल कर स्पष्ट किया रुख       बढ़ेगी चीन की टेंशन, ब्रह्मपुत्र नदी पर सबसे लंबे पुल बनाएगा भारत, जुड़ जाएंगे वियतनाम और भूटान       NEP 2020: नई शिक्षा नीति में आरक्षण खत्म होने के सवाल का शिक्षा मंत्री ने दिए ये जवाब...       Sidharth Shukla In Broken But Beautiful season 3: सिद्धार्थ शुक्ला और सोनिया राठी जल्द 'ब्रोकन बट ब्यूटीफुल 3' में आएंगे नजर, देखें टीजर       स्वाति मालीवाल ने कंगना रनौत को कहा, दिनभर ट्वीटर पर गंदगी फैलाकर खुद को शेरनी समझ रही       HCL की रोशनी नडार हैं देश की सबसे धनवान महिला, बॉयोकॉन की किरण मजूमदार शॉ दूसरे नंबर पर, जानें और कौन-कौन है इस लिस्ट में शुमार       Sushant Singh Rajput Death: सुशांत की मौत के छह महीने बाद भावुक हुए शेखर सुमन, बोले- एक दिन चमत्‍कार होगा       सुप्रीम कोर्ट बोला, मास्क नहीं लगाना दूसरों के मौलिक अधिकारों का हनन, कड़ाई से लागू हों नियम       किसान आंदोलन खत्म होने के बढ़े आसार, सरकार ने दिए समाधान निकालने के संकेत       सचिन का रिकॉर्ड तोड़कर सबसे तेजी से 12000 रन बनाने वाले बैट्समैन बने कोहली       नाराज चैनल सेवन ने कहा, बीसीसीआई से डरता है क्रिकेट आस्ट्रेलिया       अल्ट्राटेक 1.28 करोड़ टन क्षमता बढ़ाने पर करेगी 5,477 करोड़ रुपये का निवेश       आरबीआई ने एचडीएफसी बैंक को डिजिटल गतिविधियों और नए क्रेडिट कार्ड जारी करने से रोका