पूर्व सीएम सीएन अन्नादुरई की पुण्यतिथि के इस मौके पर डीएमके अध्यक्ष एमके स्टालिन ने अर्पित की श्रद्धांजलि

पूर्व सीएम सीएन अन्नादुरई की पुण्यतिथि के इस मौके पर डीएमके अध्यक्ष एमके स्टालिन ने अर्पित की श्रद्धांजलि

द्रविड़ मुनेत्र कड़गम के निर्माणकर्ता (Dravida Munnetra Kazhagam) व तमिलनाडु के पूर्व सीएम सीएन अन्नादुरई (CN Annadurai) की आज यानी 3 फरवरी को पुण्यतिथि है. इस मौके पर डीएमके अध्यक्ष एमके स्टालिन ने अन्ना मेमोरियाल में उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की.

15 सितंबर 1909 को कांचीपुरम में हुआ जन्म

सीएन अन्नादुरई का जन्म 15 सितंबर साल 1909 में तमिलनाडु के कांचीपुरम शहर के मध्यम परिवारमें हआ. उनका पूरा नाम कोंजीवरम नटराजन अन्नादुराई (Conjeevaram Natarajan Annadurai) है. तमिलनाडु में अन्नादुरई का को अन्ना नाम से जाना जाता है.

स्कूल अध्यापक भी रहे

सिनेमा व पॉलिटिक्स में आने से पहले वह स्कूल में अध्यापक भी रहे. इसके बाद वह द्रविड़ मुनेत्र कड़गम से जुड़े. इस दौरान उन्होंने कई सियासी पत्रिकाओं का संपादन किया. अन्ना तमिलनाडु के पहले ऐसे मुख्यमंत्री थे जिन्हें 1969 में 20 दिनों के लिए मुख्यमंत्री नियुक्त किया गया था. इसके अतिरिक्त तमिलनाडु के आखिरी ऐसे सीएम रहे जब तक मद्रास का नाम तमिलनाडु में नहीं बदला.

लेखन के क्षेत्र में भी किया है काम

अन्ना द्रविड़ियन पार्टी (Dravidian party) पार्टी के पहले मेम्बर रहे. अन्ना तमिल भाषा में प्ररेणादायक लेखन के लिए जाने जाते थे. उन्होंने कई कई धारावाहिकों में लेखन के साथ अभियन भी किया. उनके कई धारावाहिकों पर फिल्में भी बनी हैं. अन्ना पहले ऐसे नेता थे जिन्होंने राजीनितक प्रचार के लिए तमिल सिनेमा का बड़े पैमाने पर प्रयोग किया.

21 वर्ष की आयु में हुई शादी

21 वर्ष की आयु में अन्ना विवाह के बंधन में बंध गए. इस कपल का अपना कोई भी बच्चा नहीं है तो इन्होंने एक बच्चे को गोद लिया. इसके बाद उन्होंने पचायप्पा के हाई स्कूल में एडमिशन लिया, लेकिन परिवार की वित्त सहायता के लिए शहर के नगरपालिका ऑफिस में क्लर्क के रूप में कार्य करने के लिए उन्हें अपना स्कूल छोड़ना पड़ा.

साल 1934 में अन्ना ने चेन्नई के कॉलेज से बी। ए किया. इसके बाद अर्थशास्त्र व सियासी विज्ञान संबंध में उन्होंने एम। ए किया. इसके बाद उन्होंने अंग्रेजी अध्यापक के तौर पर भी कार्य किया. इसके थोड़े दिन बाद उन्होंने टीचिंग नौकरी छोड़कर अपने आपकोराजनीति में व पत्रकारिता में झोंक दिया.