विधानसभा चुनाव समाप्त होने के बाद भाजपा लगी है एमसीडी इलेक्शन की तैयारी में - आदेश गुप्ता

विधानसभा चुनाव समाप्त होने के बाद भाजपा लगी है एमसीडी इलेक्शन की तैयारी में - आदेश गुप्ता

दिल्ली में इस वर्ष के विधानसभा चुनाव समाप्त होने का बाद भाजपा अब एमसीडी इलेक्शन की तैयारी में लग गई है. बीजेपी के दिल्ली यूनिट के चीफ आदेश गुप्ता ने बोला है

कि वे इस महीने के आखिर तक प्रदेश की नयी टीम की घोषणा करेंगे. गुप्ता ने बोला कि नगरपालिका में विशेष रूप से जमीनी स्तर पर स्त्रियों को मुख्य पद दिए जाएंगे. 

गुप्ता ने कहा इस बार कोविड 19 के कारण कोई चुनाव नहीं हुआ लेकिन नगरपालिका से लेकर संसद तक सभी स्तरों पर पार्टी के कार्यकर्ताओं से बात करेंगे व ऐसी टीम तैयार करेंगे जो एमसीडी इलेक्शन में हमारा नेतृत्व करेगी टीम में नौजवान व तजुर्बे वाले दोनों किस्म के लोग होंगे. इस टीम में स्त्रियों को जिला व मंडल अध्यक्ष के रूप में मुख्य किरदार दी जाएगी.

दिल्ली में हुए विधानसभा चुनावों में भाजपा उतना अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाई थी. पार्टी सिर्फ आठ सीटों पर सिमट कर रह गई थी व आम आदमी पार्टी को 62 सीट मिलीं थी. भले ही भाजपा दिल्ली की विधानसभा में सत्ता में न रही हो लेकिन पिछले 13 वर्षों से एमसीडी में भाजपा का ही नाम बना हुआ है. 2017 में सत्ता विरोधी भावनाओं के बावजूद भाजपा ने चुनावों में 1884 सीटें हासिल की थीं, जिसमें 2012 में जीती गईं सीटों के मुकाबले 46 सीटें ज़्यादा थीं.

गुप्ता ने बोला कि पार्टी अपनी स्थान बनाए रखने के लिए मेहनत से कार्य करेगी. पार्टी की योजना है कि वो आने वाले चुनावों में अपने किए गए 13 वर्षों के कार्य पर वोट मांगेगी व ये भी बताया कि केन्द्र सरकार ने उनकी बहुत सहायता की है लेकिन दिल्ली सरकार ने उन्हें समय पर फंड रिलीज कर के नहीं दिए ये सभी बातें वो जनता के सामने रखेंगे. 

इसके अतिरिक्त भाजपा ने आम आदमी पार्टी के प्रारम्भ किए रोजगार पोर्टल पर भी चोट की. भाजपा ने आरोप लगाया कि दिल्ली की सत्ताधारी पार्टी ने वर्ष भर पहले भी इसी तरह की एक पहल प्रारम्भ की थी जिसपर 34.41 करोड़ रूपये खर्च हुए। गुप्ता ने कहा, “दो वर्ष पहले पार्टी ने एक रोजगार योजना प्रारम्भ की जो विफल रही. केजरीवाल सरकार ने इस पर 34.41 करोड़ रुपये खर्च किए लेकिन सिर्फ 336 लोगों की रोज़गार मिला."