यूजर्स की निजता को बचाने के लिए जरूरी है डाटा सरंक्षण का कानून बनाया जाना

यूजर्स की निजता को बचाने के लिए जरूरी है डाटा सरंक्षण का कानून बनाया जाना

भारतीय यूजर्स की तरफ से भारी विरोध के परिणामस्वरूप वाट्सएप ने प्राइवेसी संबंधी अपनी नई नीतियों को तीन महीने के लिए स्थगित कर दिया है। मगर यह सवाल अब भी बना हुआ है कि तीन महीने बाद क्या होगा? इसी बीच सर्वोच्च न्यायालय ने इन नई नीतियों से ही संबंधित एक याचिका पर सुनवाई करते हुए वाट्सएप और फेसबुक को नोटिस जारी किया है। न्यायालय ने इन कंपनियों से कहा है कि आप होंगे दो-तीन ट्रिलियन डॉलर की कंपनी, लेकिन उपभोक्ताओं की निजता उससे अधिक कीमती है।

यूं कहने को तो ये कंपनियां लगातार लोगों के डाटा की सुरक्षा का आश्वासन देती रहती हैं, परंतु इनकी कही बातों पर भरोसा करने का कोई ठोस आधार भारतीय उपभोक्ताओं के पास नहीं है। गौर करें तो फेसबुक का यह दावा रहा है कि वह अपने उपभोक्ताओं का डाटा किसी तीसरी पार्टी से साझा नहीं करती, लेकिन बीते वर्षो में सामने आए कैंब्रिज एनालिटिका प्रकरण ने फेसबुक के इस दावे की कलई खोल दी। अब वाट्सएप भी फेसबुक के स्वामित्व वाली कंपनी है। खास बात यह है कि यह विशेष रूप से एक चैटिंग एप है, जहां लोग बहुत-सी व्यक्तिगत बातें और जानकारियां साझा करते हैं।


अबतक वाट्सएप कहता आया था कि वहां हुई पूरी बातचीत एंड टू एंड इनक्रिप्टेड होती है, लेकिन अब यदि इस तरह की जानकारियां वाट्सएप फेसबुक से साझा करेगा तो यह लोगों की निजता पर बहुत बड़े संकट की बात है।सर्वोच्च न्यायालय के नोटिस पर वाट्सएप की तरफ से कहा गया है कि विदेशों में डाटा सुरक्षा से संबंधित कानून हैं, लिहाजा कंपनी वहां उनका पालन करती है। यदि भारत में भी ऐसा कोई कानून बने तो वह उसका पालन करेगी।


वाट्सएप की यह बात ठीक है कि अभी भारत में डाटा संरक्षण को लेकर कोई कानून नहीं है, लेकिन सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम, 2000 के तहत व्यक्तिगत डाटा के गलत तरीके से प्रकटीकरण और दुरुपयोग को अपराध मानते हुए मुआवजे और सजा का प्रविधान है। अब जहां तक डाटा संरक्षण कानून की बात है तो इसके लिए देश में वर्ष 2017 से ही प्रयास हो रहे हैं। तब न्यायमूíत बीएन श्रीकृष्ण की अध्यक्षता में एक समिति बनी थी। उस समिति ने 2018 में डाटा संरक्षण से संबंधित विभिन्न प्रविधानों के साथ एक मसौदा तैयार किया था, मगर उसे अमलीजामा नहीं पहनाया जा सका।


फिर दिसंबर 2019 में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने श्रीकृष्ण समिति से अलग एक मसौदे को मंजूरी दी और वह विधेयक सदन में पेश हुआ। उस विधेयक में डाटा संरक्षण से संबंधित कई महत्वपूर्ण प्रविधान थे, जिनमें एक प्रमुख प्रविधान यह भी था कि संवेदनशील व्यक्तिगत डाटा का संग्रहण केवल भारत में होगा और यदि उसे भारत से बाहर प्रसंस्कृत करना हो तो वह डाटा प्रोटेक्शन एजेंसी की स्वीकृति तथा कुछ शर्तो के पालन के साथ ही किया जा सकेगा।जाहिर है यह प्रविधान डाटा संरक्षण की दिशा में महत्वपूर्ण सिद्ध होता, परंतु अभी यह विधेयक समीक्षा के लिए संसद की संयुक्त समिति के पास है और इसके पारित होने का इंतजार बना हुआ है।


उम्मीद है कि बजट सत्र के दूसरे चरण जो आठ मार्च से शुरू होने वाला है उसमें इस विधेयक को पुन: संसद में पेश किया जाएगा तथा डाटा संरक्षण की नई चुनौतियों को देखते हुए उसके अनुरूप इसकी उपयोगिता का परीक्षण करते हुए तथा आवश्यक होने पर इसमें नए प्रविधान जोड़कर इसे पारित किया जाएगा। अब और अधिक समय तक इस विधेयक को रोककर नहीं रखा जा सकता। इसमें और देरी से फेसबुक, वाट्सएप जैसी कंपनियों को लोगों की निजता के साथ खिलवाड़ करने की छूट मिलती रहेगी।


इन राज्यों में 5 दिन होगी भारी बारिश, IMD ने जारी किया अलर्ट

इन राज्यों में 5 दिन होगी भारी बारिश, IMD ने जारी किया अलर्ट

नई दिल्ली: देश के कई राज्यों में लोगों को गर्मी का एहसास होने लगा है। तापमान में बढ़ोतरी हुई है, लेकिन अब एक बार फिर मौसम में बदलाव हो सकता है। दिल्ली-एनसीआर समेत देश के कई राज्यों में बारिश हो सकती है। मौसम में यह बदलाव पश्चिमी विक्षोभ कारण देखने को मिल रहा है।

भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने बताया है कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश और हरियाणा के कई जिलों में तेज बारिश होने की संभावना है। हरियाणा के कैथल, कुरुक्षेत्र और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर, देवबंद, नजीबाबाद, बिजनौर, मेरठ, खतोली, हस्तिनापुर, चांदपुर, अमरोहा और मुरादाबाद जिलों में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है।

पश्चिमी विक्षोभ की वजह से पहाड़ी राज्यों और दक्षिण भारत के कई इलाकों में अगले पांच दिनों के लिए मौसम में बदलाव हो सकता है। जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में गरज के साथ बारिश एवं बर्फबारी हो सकती है जबकि हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में भी गरज के साथ बारिश और बर्फबारी हो सकती है।

पूर्वोत्तर भारत के असम, मेघालय अरुणचाल प्रदेश और सिक्किम और सब हिमालयन पश्चिम बंगाल में गरज के साथ बारिश हो सकती है। मौसम विभाग के मुताबिक, उत्तर भारत के अन्य क्षेत्रों में शुष्क मौसम रहेगा।

कश्मीर में शनिवार को बर्फबारी हुई है जिसके कारण शीतलहर जैसे हालात हो गए हैं। जम्मू-कश्मीर के साथ ही हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में भी कुछ स्थानों पर बर्फबारी हुई।

बता दें कि इसके पहले भी पश्चिमी विक्षोभ के चलते देश के कई राज्यों में बारिश हुई थी, तो वहीं पहाड़ी राज्यों में बारिश के साथ बर्फबारी देखी गई थी।

गर्मी का आगमन
देश के कई राज्यों में गर्मी ने दस्तक दे दी है। कई राज्यों में लोग सालों में पहली बार बसंत में इतनी गर्मी का सामना कर रहे हैं।शनिवार को राजधानी दिल्ली में अधिकतम तापमान 31.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, तो वहीं मुंबई में 34.6 और कोलकाता में 35.8 डिग्री सेल्सियस रहा।


Qubool Hai 2.0 Trailer: क्या परवान चढ़ेगी ज़ोया-असद की प्रेम कहानी? देखिए       इंदू की जवानी, साइलेंस और क़ुबूल है 2.0 समेत इस महीने आएंगी ये फ़िल्में और वेब सीरीज़       Dhamaka Teaser: कार्तिक आर्यन ने दी 'ब्रेकिंग न्यूज़', नेटफ्लिक्स पर करेंगे 'धमाका'       Tandav Web Series केस में अमेज़न प्राइम वीडियो ने पहली बार मांगी माफ़ी       Netfilx ने किया 40 से अधिक वेब सीरीज़, फ़िल्मों और शोज़ का एलान, कई सितारों की दस्तक       बताया- क्यों इंग्लैंड की टीम टेस्ट सीरीज को कराना चाहती है ड्रॉ, कप्तान जो रूट ने किया खुलासा!       IPL को लेकर दिए विवादित बयान के बाद डेल स्टेन ने मांगी माफी       मोटेरा की पिच को लेकर इंग्लैंड के दिग्गज ने कसा तंज, बोले...       प्रेस कॉन्फ्रेंस में टर्निंग पिच के सवाल पर भड़के विराट कोहली       फैंस के नंबर्स की तरफ मेरा ध्यान नहीं, एक अच्छा क्रिकेटर व इंसान बनना चाहता हूं : विराट कोहली       ट्रंप बनाएंगे अलग पार्टी! राष्ट्रपति चुनाव लड़ने के दिए संकेत       रात में चमकीली रोशनी से खौफ में आए लोग, फिर...       असम दौरे पर प्रियंका गांधी, कामाख्या देवी मंदिर में की पूजा       इन राज्यों में 5 दिन होगी भारी बारिश, IMD ने जारी किया अलर्ट       पहला डोज लिया पीएम ने, वैक्सीनेशन का दूसरा फेज शुरू       इन राज्यों में बारिश का अलर्ट, जमकर बरसेंगे बादल       आखिर क्या होती है वीगन डाइट? आज़माने से पहले जानें नुकसान       सोते समय क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए, जानें       कब्ज दूर करने से लेकर वजन घटाने तक में बेहद फायदेमंद है ये...       रहना चाहते हैं सेहतमंद तो अपने डाइट में इन चीज़ों को जरूर जोड़ें, जानें