कांग्रेस सरकार का गिरना तय, आज फ्लोर टेस्ट में फैसला

कांग्रेस सरकार का गिरना तय, आज फ्लोर टेस्ट में फैसला

नई दिल्ली: जिन पांच राज्यों में जल्द ही विधानसभा चुनाव होने हैं उनमें पुडुचेरी भी शामिल हैं मगर चुनाव से पहले ही राज्य की कांग्रेस सरकार का जाना लगभग तय हो गया है। मुख्यमंत्री नारायणसामी को सोमवार को विधानसभा में अपना बहुमत साबित करना है।

फ्लोर टेस्ट से एक दिन पहले रविवार को कांग्रेस व उसके सहयोगी डीएमके के एक-एक विधायकों के इस्तीफे से राज्य की कांग्रेस सरकार को भारी झटका लगा है। इसके पहले भी कई कांग्रेसी विधायक का इस्तीफा देकर पार्टी को करारा झटका दे चुके हैं। सत्ता पक्ष के विधायकों की संख्या घटकर 12 रह जाने के कारण राज्य में राष्ट्रपति शासन लगना तय माना जा रहा है।


दो और विधायकों ने दिया इस्तीफा
हाल के दिनों में मुख्यमंत्री नारायणसामी और पार्टी नेतृत्व से कांग्रेसी विधायकों की नाराजगी लगातार बढ़ती जा रही है। विधायकों के इस्तीफे की कड़ी में रविवार को कांग्रेस विधायक लक्ष्मी नारायण ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया। कांग्रेस सरकार का समर्थन करने वाली पार्टी डीएमके के विधायक के वेंकेटेशन ने भी विधानसभा अध्यक्ष शिवकोझुंडू को अपना इस्तीफा सौंप दिया। विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि दोनों विधायकों के इस्तीफे मेरे पास पहुंच चुके हैं और मैंने इस बाबत मुख्यमंत्री वी नारायणसामी और विधानसभा सचिव को भी जानकारी दे दी है।

सीएम के घर संकट पर चर्चा
फ्लोर टेस्ट से एक दिन पहले रविवार की शाम मुख्यमंत्री के आवास पर कांग्रेस विधायकों की बैठक भी हुई। इस बैठक में फ्लोर टेस्ट के बाबत रणनीति पर चर्चा की गई। हालांकि बहुमत की संख्या न होने के कारण पार्टी नेतृत्व में साफ तौर पर चिंता की लकीरें दिखीं।

विधायकों के इस्तीफे को विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है। जानकारों का कहना है कि चुनाव से पहले और विधायकों के पार्टी छोड़ने की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता।

कांग्रेस विधायकों की संख्या घटकर नौ पर पहुंची
रविवार को कांग्रेस विधायक लक्ष्मी नारायण के इस्तीफे के बाद पुडुचेरी विधानसभा में कांग्रेस विधायकों की संख्या 15 से घटकर नौ पर पहुंच गई है। हाल के दिनों में विधायक ए.जॉन कुमार, ए. नमस्सिवम, मल्लादी कृष्णा राव और ई थेपयन्थम पार्टी से इस्तीफा दिया है।

इन विधायकों के अलावा एक और कांग्रेस विधायक एन धनवेलु को पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने के कारण पहले ही अयोग्य घोषित किया जा चुका है।

राहुल भी नहीं बचा सके सियासी नुकसान
कांग्रेस के दो विधायकों ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर ली है जबकि कुछ और विधायकों के जल्द ही भाजपा में जाने की संभावना जताई जा रही है। कांग्रेस के साथी डीएम के विधायकों की संख्या भी घटकर 3 से 2 हो गई है।

रविवार को कांग्रेस से इस्तीफा देने वाले विधायक लक्ष्मी नारायण का कहना है कि पार्टी में महत्व न मिलने के कारण ही उन्होंने इस्तीफा दिया है। उन्होंने जल्द ही पार्टी से भी इस्तीफा देने का एलान किया।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने हाल में पुडुचेरी का दौरा किया था मगर अपने दो दिवसीय दौरे के बावजूद वे कांग्रेस को सियासी नुकसान से बचाने में कामयाब नहीं हो सके।

भाजपा नेता ने किया बड़ा दावा
कांग्रेस में चल रही उठापटक के बीच भाजपा के एक वरिष्ठ नेता ने का दावा किया कि कांग्रेस के तीन और विधायक भी जल्दी ही इस्तीफा दे देंगे। उन्होंने कहा कि अब यह पूरी तरह तय हो गया है कि नारायणसामी की सरकार विधानसभा में बहुमत साबित नहीं कर पाएगी। उन्होंने कहा कि अब राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने के अलावा कोई दूसरा विकल्प नजर नहीं आ रहा है।

15 सीटों पर जीती थी कांग्रेस
पुडुचेरी में 2016 में विधानसभा चुनाव हुए थे और उस चुनाव में कांग्रेस 15 सीटों पर जीत हासिल करने में कामयाब हुई थी। राज्य की नारायणसामी सरकार को डीएमके के तीन और एक निर्दलीय विधायक का भी समर्थन हासिल था।

पूर्व मुख्यमंत्री एन रंगासामी की ऑल इंडिया एनआर कांग्रेस के पास विधानसभा में 7 सीटें हैं जबकि एआईडीएमके को 4 सीटों पर जीत हासिल हुई थी। विधानसभा में भाजपा के तीन विधायक हैं।

राष्ट्रपति शासन में हो सकते हैं चुनाव
राज्य में अप्रैल-मई के दौरान विधानसभा चुनाव होने हैं। हालांकि अभी तक चुनाव आयोग की ओर से चुनाव की तिथियों का एलान नहीं किया गया है। माना जा रहा है कि जल्द ही इस बाबत घोषणा की जा सकती है। नारायणसामी की सरकार के अल्पमत में आ जाने के कारण माना जा रहा है कि राज्य में राष्ट्रपति शासन में ही विधानसभा चुनाव होंगे।


इन राज्यों में 5 दिन होगी भारी बारिश, IMD ने जारी किया अलर्ट

इन राज्यों में 5 दिन होगी भारी बारिश, IMD ने जारी किया अलर्ट

नई दिल्ली: देश के कई राज्यों में लोगों को गर्मी का एहसास होने लगा है। तापमान में बढ़ोतरी हुई है, लेकिन अब एक बार फिर मौसम में बदलाव हो सकता है। दिल्ली-एनसीआर समेत देश के कई राज्यों में बारिश हो सकती है। मौसम में यह बदलाव पश्चिमी विक्षोभ कारण देखने को मिल रहा है।

भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने बताया है कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश और हरियाणा के कई जिलों में तेज बारिश होने की संभावना है। हरियाणा के कैथल, कुरुक्षेत्र और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर, देवबंद, नजीबाबाद, बिजनौर, मेरठ, खतोली, हस्तिनापुर, चांदपुर, अमरोहा और मुरादाबाद जिलों में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है।

पश्चिमी विक्षोभ की वजह से पहाड़ी राज्यों और दक्षिण भारत के कई इलाकों में अगले पांच दिनों के लिए मौसम में बदलाव हो सकता है। जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में गरज के साथ बारिश एवं बर्फबारी हो सकती है जबकि हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में भी गरज के साथ बारिश और बर्फबारी हो सकती है।

पूर्वोत्तर भारत के असम, मेघालय अरुणचाल प्रदेश और सिक्किम और सब हिमालयन पश्चिम बंगाल में गरज के साथ बारिश हो सकती है। मौसम विभाग के मुताबिक, उत्तर भारत के अन्य क्षेत्रों में शुष्क मौसम रहेगा।

कश्मीर में शनिवार को बर्फबारी हुई है जिसके कारण शीतलहर जैसे हालात हो गए हैं। जम्मू-कश्मीर के साथ ही हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में भी कुछ स्थानों पर बर्फबारी हुई।

बता दें कि इसके पहले भी पश्चिमी विक्षोभ के चलते देश के कई राज्यों में बारिश हुई थी, तो वहीं पहाड़ी राज्यों में बारिश के साथ बर्फबारी देखी गई थी।

गर्मी का आगमन
देश के कई राज्यों में गर्मी ने दस्तक दे दी है। कई राज्यों में लोग सालों में पहली बार बसंत में इतनी गर्मी का सामना कर रहे हैं।शनिवार को राजधानी दिल्ली में अधिकतम तापमान 31.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, तो वहीं मुंबई में 34.6 और कोलकाता में 35.8 डिग्री सेल्सियस रहा।


ट्रंप बनाएंगे अलग पार्टी! राष्ट्रपति चुनाव लड़ने के दिए संकेत       रात में चमकीली रोशनी से खौफ में आए लोग, फिर...       असम दौरे पर प्रियंका गांधी, कामाख्या देवी मंदिर में की पूजा       इन राज्यों में 5 दिन होगी भारी बारिश, IMD ने जारी किया अलर्ट       पहला डोज लिया पीएम ने, वैक्सीनेशन का दूसरा फेज शुरू       इन राज्यों में बारिश का अलर्ट, जमकर बरसेंगे बादल       आखिर क्या होती है वीगन डाइट? आज़माने से पहले जानें नुकसान       सोते समय क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए, जानें       कब्ज दूर करने से लेकर वजन घटाने तक में बेहद फायदेमंद है ये...       रहना चाहते हैं सेहतमंद तो अपने डाइट में इन चीज़ों को जरूर जोड़ें, जानें       वक्त पर हो जाए इलाज तो ब्रेन ट्यूमर भी नहीं खतरनाक       World Brain Tumor Day 2020: कैसे होती है ब्रेन ट्यूमर की शुरुआत, जानें       जब बच्चे करें हैंड सैनिटाइज़र का इस्तेमाल तो जरूर रखें ध्यान       जीना चाहते हैं लंबी उम्र, तो रोज़ाना करें ये काम       पथरी की समस्या से तुरंत निजात पाने के लिए अपनाएं ये घरेलू उपाय       बॉडी की इम्युनिटी पावर को बढाती है किशमिश       श्वेता तिवारी ने किया गज़ब का ट्रांसफॉर्मेशन       Bigg Boss 15: मेकर्स ने शुरू किए ‘बिग बॉस 15’ के लिए ऑडिशन       Rubina Dilaik के लिए कॉफी न लाना बन गई थी उनके तलाक का वजह       Rakhi Sawant की मां की कैंसर की खबर सुनकर सन्न रह गईं काम्या पंजाबी, लिखा...