इन राज्यों में बारिश का अलर्ट, जमकर बरसेंगे बादल

इन राज्यों में बारिश का अलर्ट, जमकर बरसेंगे बादल

नई दिल्‍ली: देश के कई राज्यों में मौसम बदल रहा है। अब अधिकांश इलाकों में गर्मी की शुरुआत हो चुकी है और लगातार तापमान बढ़ रहा है। घरों में अब लोगों को पंखा चलाने की जरूर पड़ रही है। लेकिन पहाड़ों पर बर्फबारी और बारिश की संभावना है।

मौसम विभाग ने कहा कि सोमवार को जम्‍मू कश्‍मीर, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश और उत्‍तराखंड समेत गिलगित, बाल्टिस्‍तान व मुजफ्फराबाद में बर्फबारी व बारिश हो सकती है। इससे मैदानी इलाकों के बढ़ते तापमान से थोड़ी राहत मिल सकती है।

मौसम विभाग का कहना है कि पहाड़ी राज्‍यों में बारिश और बर्फबारी की वजह पश्चिमी विक्षोभ है। पश्चिमी विक्षोभ की वजह से मौसम बदल रहा है। मौसम विभाग के मुताबिक इस पश्चिमी विक्षोभ का असर 2 मार्च की रात से हिमालयी क्षेत्र में नजर आएगा। इसकी वजह से 3 और 4 मार्च को भी जम्‍मू कश्‍मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्‍तराखंड, लद्दाख और गिलगित, बाल्टिस्‍तान व मुजफ्फराबाद में बारिश व बर्फबारी हो सकती है।

दिल्ली, बिहार, झारखंड, ओडिशा और पश्चिमी मध्य प्रदेश में तापमान सामान्य से अधिक है। जम्‍मू कश्‍मीर के श्रीनगर में बारिश और ओले गिरे और बर्फबारी हुई। बारिश और बर्फबारी के कारण दिन का तापमान कई डिग्री सेल्सियस नीचे आ गया है। दिल्‍ली, यूपी, बिहार, मध्‍य प्रदेश, झारखंड के कई इलाकों में अभी से गर्मी जैसे हालात हो गए हैं।

मौसम विभाग ने कहा कि उत्तराखंड के कई जिलों में हल्की बारिश और बर्फबारी की संभावना है। मौसम विभाग के मुताबिक, सोमवार और मंगलार को मौसम और भी ज्यादा खराब रहने की संभावना है।

120 साल में दसूरी बार हुआ ऐसा
इस साल फरवरी महीना, 120 सालों में दूसरी बार सबसे गर्म रहा। इस महीने का औसत तापमान 27.9 डिग्री दर्ज किया गया। मौसम विभाग ने बताया कि यह 120 साल में दूसरा सबसे गर्म फरवरी रहा है। मौसम विभाग ने 1901 से लेकर अब तक के डेटा के आधार पर यह बताया है।

मौसम विभाग ने बताया कि फरवरी महीने में औसतन तापमान 27.9 डिग्री दर्ज किया गया। इससे पहले 1960 में भी फरवरी महीने का औसत तापमान 27.9 डिग्री सेल्सियस ही रहा था, जबकि 2006 में फरवरी का महीना 120 सालों में सबसे अधिक गर्म रहा था। इस महीने का औसत तापमान 29.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था।


चुनावी घमासान: बंगाल को दंगाइयों के हाथ में मत देना- ममता

चुनावी घमासान:  बंगाल को दंगाइयों के हाथ में मत देना- ममता

बंगाली की सीएम ममता बनर्जी ने मुर्शिदाबाद में लोगों को संबोधित करते हुए बोला कि बंगाल को दंगाइयों के हाथ में मत देना. उन्होंने कहा, उनके पास सूचना है कि वह लोग रामनवमी के मौके पर दंगा कराने की षड्यंत्र रच रहे हैं. सावधान रहिये, किसी के कहने पर हिंदू और मुसलमान एक दूसरे के विरूद्ध न खड़े हों. वामदल, कांग्रेस पार्टी और संयुक्त मोर्चा बीजेपी का दूसरा चेहरा बताते हुए ममता ने लोगों से उनके उम्मीदवारों को वोट न करने की अपील की. 


ईद को ध्यान में रखकर टाले गए सीटों पर चुनाव का फैसला ले आयोग
सीएम ने बोला कि मुर्शिदाबाद की दो विधानसभा सीटों का चुनाव प्रत्याशियों के मृत्यु से टाल दिया गया है. मुझे पता चला है कि यहां चुनाव 13 मई को होंगे. उन्होंने बोला कि यदि ईद 13 मई को पड़ती है तो मतदाता त्योहार मना सकें, यह ध्यान में रखकर चुनाव आयोग को दिनांक का फैसला लेना होगा. 

फरक्का बैराज को लेकर केन्द्र को निशाने पर लिया
मुर्शिदाबाद और मालदा जिलों में गंगा नदी के कटाव का जिक्र करते हुए ममता ने बोला कि केवल केन्द्र की नीतियां ही कटाव रोक सकती हैं. उन्होंने बोला कि भारत-बांग्लादेश जल संधि की शर्तों के अनुसार , बांग्लादेश को गंगा जल दिया गया, लेकिन केन्द्र ने फरक्का बैराज को साफ नहीं कराया. उसमें सिल्ट जम गई. इस वजह से जब भी बिहार में भारी बारिश होती है, मुर्शिदाबाद और मालदा में नियमित रूप से बाढ़ आती है. केन्द्र को अहमियत के आधार पर फरक्का की सफाई करानी चाहिए. 


देवेंद्र फडणवीस ने सम्बन्धी के वैक्सीन लगवाने पर दी सफाई, कहा...       चुनावी घमासान: बंगाल को दंगाइयों के हाथ में मत देना- ममता       हरियाणा ने दिल्ली पर लगाया ऑक्सीजन की डकैती का आरोप, कहा...       संबित पात्रा ने कहा कि महामारी के काल में फेल प्रोडक्ट बेचने की प्रयास में जुटी है कांग्रेस       दिल्ली के कोविड-19 मरीजों को मुफ्त में फैबीफ्लू दवा दे रहे गौतम गंभीर       डबल के बाद अब कोविड-19 के ट्रिपल म्यूटेशन वाले वेरिएंट ने बढ़ाई चिंता!       अपील: पीएम मोदी ने दी रामनवमी-सिविल सेवा दिवस की शुभकामनाएं, बोले...       विकास दुबे केस में उत्तर प्रदेश पुलिस को उच्चतम न्यायालय से मिली क्लीन चिट       कोविड-19 संक्रमित हुआ तिहाड़ कारागार में कैद शहाबुद्दीन       चाचा विधायक हैं हमारे इन रौबदारों के फेर में न पड़ें, नहीं तो...       सम में भी 18 से 45 आयुवर्ग वालों को फ्री लगेगी कोविड-19 वैक्सीन       वैक्सीन लेने के बाद भी क्यों कोविड-19 पॉजिटिव आ रहे लोग ?       हॉस्पिटल से चुरा ले गए लोग, ऑक्सीजन सिलेंडर आते ही मची भारी लूट       लड़कियां ब्रेकअप के बाद ऐसे काम करके देती हैं अपने आप को तसल्ली       लड़कियां अपने पति को भी टच नहीं करने देती है अपना फोन, वजह जानकर हिल जायेगा दिमाग       रात में जन्मे बच्चो में होती हैं ये वाली जबरदस्त खूबियां       ऐसी स्त्रियों पर शक करना होता है गलत, बेहद पवित्र होती हैं ऐसे गुणों वाली महिलाएं       इस दिशा में लगा दर्पण कर सकता है आपको बर्बाद, भूल से भी न करें ऐसी गलती       शुभ काम को शुरू करने से पहले जरूर चेक करें समय, हर रोज ही ये समय होता है अशुभ       अगर सुबह उठते ही दिखाई ये चीज, तो समझो आज से बदल गयी आपकी किस्मत