डायबिटीज के मरीज ऐसे करें गुड़मार का सेवन, दिन भर रहेगा ब्लड शुगर कंट्रोल

डायबिटीज के मरीज ऐसे करें गुड़मार का सेवन, दिन भर रहेगा ब्लड शुगर कंट्रोल

डायबिटीज एक लाइलाज बीमारी है, जो एक बार हो जाने के बाद ज़िंदगीभर साथ रहती है। इस बीमारी में शुगर मैनेज करना मुश्किल टास्क होता है। इसके लिए मधुमेह के मरीजों को मीठा खाने की मनाही होती है। विशेषज्ञों की मानें तो खराब दिनचर्या और अनुचित खानपान के चलते मधुमेह आम बीमारी बनती जा रही है। हालांकि, यह बीमारी लापरवाही बरतने पर खतरनाक रूप अख्तियार कर लेती है। अगर आप भी डायबिटीज के मरीज हैं और ब्लड शुगर कंट्रोल करना चाहते हैं, तो गुड़मार की पत्तियों का सेवन कर सकते हैं। कई शोधों में यह खुलासा हो चुका है कि गुड़मार डायबिटीज के लिए रामबाण दवा है। इसके सेवन से इंस्टेंट ब्लड शुगर कम होता है। आइए, इसके बारे में सबकुछ जानते हैं-

गुड़मार क्या है

आयुर्वेद में गुड़मार को रामबाण औषधि कहा जाता है। यह भारत के मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ समेत कई राज्यों में पाया जाता है। इसके अलावा, ऑस्ट्रेलिया, अफ्रीका और चीन में भी गुड़मार आसानी से मिल जाता है। इसका नाम गुड़मार "मिठास खत्म करने के चलते रखा गया है। इसमें कई औषधीय गुण पाए जाते हैं, जो इंस्टेंट शुगर कंट्रोल कम करने में सहायक होते हैं। गुड़मार के पत्ते, तने और जड़ का आयुर्वेद, यूनानी और सिद्ध पद्धति में दवा की तरह इस्तेमाल किया जाता है।


क्या कहती है शोध

रिसर्च गेट पर छपी एक शोध में गुड़मार के फायदे को विस्तार से बताया गया है। इस शोध की मानें तो गुड़मार के पत्ते में एंटी-डायबिटिक के गुण पाए जाते हैं। यह न केवल मधुमेह बल्कि कई अन्य बीमारियों में फायदेमंद साबित होती है।  

ऐसे करें सेवन

विशेषज्ञों की मानें तो गुड़मार की पत्तियों का सेवन करने से एक घंटे तक मिठास का स्वाद खत्म हो जाता है। इसके लिए रोजाना खाली पेट गुड़मार की पत्तियों को चबाकर खाएं। इसके बाद एक गिलास पानी पिएं। इससे न केवल शुगर लेवल कम होता है, बल्कि दिनभर शुगर लेवल नहीं नहीं बढ़ता है।


गुलाबी रंग पसंद करने वाली लड़कियों के कुछ सीक्रेट्स

गुलाबी रंग पसंद करने वाली लड़कियों के कुछ सीक्रेट्स

हर किसी का स्वभाव दूसरे से अलग होता है। ऐसे में वह लोगों में अपने अलग पहचान बनाने में कामयाब होते हैं। बात अगर नेचर की करें तो इसका पता किसी की राशि, जन्म तारीख, दिन से पता लगाया जाता है। मगर असल में, किसी का फेवरेट कलर भी उसकी पर्सनेलिटी के राज खोलने का काम करते हैं। जी हां, ऐसे में किसी के पसंदीदा रंग से भी उसके बारे में काफी कुछ पता चल सकता है। ऐसे में बात लड़कियों की करें तो इन्हें सबसे ज्यादा गुलाबी रंग पसंद होता है। तो चलिए फिर आज हम आपको पिंक यानी गुलाबी रंग पसंद करने वाली लड़कियों के बारे में बताते हैं...

- गुलाबी रंग पसंद करने वाली लड़कियों की आंखों में अलग चमक होती है। ऐसे में ये जल्दी ही सामने वाले को इंप्रेस कर देती है।

- ये लड़कियां नेचर से बहुत ही भावुक होती है। ऐसे में ये जल्दी ही किसी भी बात को लेकर इमोशनल हो जाती है।

- स्वभाव से शर्मिली होने के कारण ये ज्यादा बोलने में विश्वास नहीं रखती है। ऐसे में ये सामेन वाले से अपने दिल की बात करने से भी संकोच रखती है।

- ये लड़कियां दिल की एकदम साफ होती है। ये किसी बात को दिल में रखने की जगह सामने वाले को कहना सही समझती है। मगर इस बात का ध्यान रखती है कि इनके कारण किसी को कोई परेशानी ना हो। इसके साथ ही ये अपने पार्टनर की खुशी व जरूरतों का खास ध्यान रखती है।

- पिंक कलर पसंद करने वाली लड़कियां हमेशा खुश रहती है। साथ ही ये अपने खुशमिजाज नेचर से दूसरों के चेहरे पर भी मुस्कान लाने का काम करती है।

- हंसमुख नेचर की होने से हर कोई इनसे जल्दी ही इंप्रेस हो जाता है। ऐसे में लोग इनके दोस्त बनने की कोशिश करते हैं। इसलिए इनकी फ्रेंड लिस्ट बेहद लंबी होती है।

- ये लड़कियां किसी चीज पर जल्दी फैसला लेने की जगह गंभीरता से सोचना सही समझती है। ऐसे में पूरी तरह सोच-समझ कर फैसला लेती है। साथ ही ये अपने रिश्ते को भी गंभीरता से लेती है।


ऑस्ट्रेलिया के जंगलों से आई इस भेड़ ने सोशल मीडिया पर मचा दी धूम       दो साल की मेहनत के बाद बना डाली लकड़ी की रॉयल एनफ़ील्ड बुलेट       OMG! शराब पीते ही लोग क्यों बोलने लग जाते हैं अंग्रेजी?       बिहार का ये किसान उगा रहा है दुनिया की सबसे महंगी सब्जी, कीमत जानकर हैरान रह जाएंगे आप       बॉयफ्रेंड संग होटल में गई थी महिला, अचानक आ गया पति, फिर हुआ कुछ ऐसा       पति की मृत्यु के बाद महिला ने दो बेटों के साथ की खुदकुशी       कामयाबी: सीमा ने टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई किया       आईपीएल 2021: बाकी मैचों की मेजबानी के लिए श्रीलंका ने आगे बढ़ाए कदम, कहा...       आज नहीं बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, जानिए कितनी हैं कीमतें       देश में लगातार तीसरे दिन कोविड-19 के 4 लाख से अधिक नए केस       UP: गांवों में भी जमकर टूटा कोविड-19 का कहर       मायावती ने कहा कि मजदूरों के पलायन के मामले पर नाटक कर रहे हैं सीएम Kejriwal       जीत के बाद ममता का पीएम Modi पर निशाना, कहा...       90 फीट गहरे बोरवेल में गिरा 4 साल का मासूम       कोरोना संक्रमण से ठीक हुए मरीजों में मिली नई बीमारी       रोकना संभव, देश के शीर्ष वैज्ञानिक ने बताई बड़ी बात       कोरोना संकट में सेना के रिटायर डॉक्टरों की सराहनीय पहल       भारत में कोरोना का कहर, इन राज्यों में सबसे ज्यादा केस       कोरोना से लड़ाई में साथ आए UK में रहने वाले भारतीय       स्वामी ने PMO पर लगाए गंभीर आरोप, लंदन में क्वारंटाइन किए गए हैं विदेश मंत्री जयशंकर