तालिबान ने सालेह समेत पूर्व शीर्ष अफगान अधिकारियों से 124 करोड़ डॉलर जब्त किए

तालिबान ने सालेह समेत पूर्व शीर्ष अफगान अधिकारियों से 124 करोड़ डॉलर जब्त किए

अफगानिस्तान के तालिबान नियंत्रित केंद्रीय बैंक ने कहा कि उसने बुधवार को पूर्व उप राष्ट्रपति अमरुल्ला सालेह सहित पूर्व शीर्ष सरकारी अधिकारियों से लगभग 124 करोड़ डॉलर नकद और सोना जब्त किया है। केंद्रीय बैंक ने एक बयान में कहा कि पैसा और सोना अधिकारियों के घरों में रखा गया था, हालांकि यह अभी तक नहीं पता है कि यह किस उद्देश्य से रखा गया था। तालिबान ने दावा किया था कि उन्‍हें अमरुल्‍ला सालेह के घर से 65 करोड़ डॉलर मिले हैं। तालिबान ने कहा कि उन्‍हें सालेह के घर से सोने की ईंटें भी मिली हैं। तालिबान ने यह भी कहा कि यह उन्‍हें मिले कुल पैसे का छोटा सा हिस्‍सा मात्र है। अमरुल्ला सालेह का ठिकाना अभी अज्ञात है। पंजशीर में तालिबानी कब्‍जे के बाद से ही अमरुल्‍ला सालेह और अहमद मसूद सुरक्षित स्‍थान पर चले गए हैं। पंजशीर घाटी में अभी भी लड़ाई जारी है।


उन्‍होंने अफगानिस्‍तान में तालिबान का विरोध करने की कसम खाई है, जो एक महीने पहले सत्ता में आया है। पिछले हफ्ते उनके परिवार के एक सदस्य ने कहा कि तालिबान ने सालेह के भाई रोहुल्लाह अजीजी को मार डाला था। इतना ही नहीं, तालिबानी रोहुल्लाह के शव को दफनाने तक नहीं दे रहे थे। रोहुल्लाह पिछले कई दिनों से पंजशीर में तालिबान से मुकाबला कर रहे थे। वे नेशनल रेजिस्टेंस फोर्स के एक यूनिट के कमांडर भी थे। एक अलग बयान में, बैंक ने अफगानों से देश की स्थानीय अफगानी मुद्रा का उपयोग करने का आग्रह किया।


पूर्व अफगान सरकार के राजनीतिक शख्‍सियतों के खाते फ्रीज

अफगानिस्‍तन में यह चिंता का विषय है कि देश के बैंक और फर्मों के पास पैसे की कमी है, विशेष रूप से डॉलर, जो व्यापक रूप से उपयोग किए जाते हैं। दो वाणिज्यिक बैंकरों ने कहा कि तालिबान पूर्व सरकारी अधिकारियों से संबंधित संपत्ति की वसूली करना चाह रहा है, केंद्रीय बैंक ने पिछले सप्ताह स्थानीय बैंकों को एक परिपत्र जारी कर पूर्व अफगान सरकार के राजनीतिक शख्‍सियतों के खातों को फ्रीज करने के लिए कहा है।


अफगानिस्‍तान पर गहरा रहा आर्थिक संकट

अफगानिस्‍तान को कब्जाने के एक महीने बाद तालिबान कई बड़ी समस्याओं का सामना कर रहा है वहां सूखा और अकाल फैल रहे हैं। इस बीच डर है कि इस महीने के अंत तक 1.4 करोड़ लोग भुखमरी के कगार पर पहुंच सकते हैं। चार दशक लंबे युद्ध और हजारों लोगों की मौत के बाद अफगानिस्तान की अर्थव्यवस्था बर्बाद हो चुकी है। विश्व खाद्य कार्यक्रम को डर है कि सितंबर के अंत तक भोजन खत्म हो सकता है। करीब 1.4 करोड़ लोग भुखमरी के कगार तक पहुंच सकते हैं।


डेंगू ने पाकिस्तान में भी पसारे पैर, रिकार्ड संख्या में इस्लामाबाद में दर्ज हुए मामले

डेंगू ने पाकिस्तान में भी पसारे पैर, रिकार्ड संख्या में इस्लामाबाद में दर्ज हुए मामले

डेंगू का कहर पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान में भी पहुंच गया है। यहां पर प्रत्येक दिन काफी संख्या में मामले दर्ज हो रहे हैं। रिकार्ड संख्या में पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में डेंगू के मामले दर्ज हो रहे हैं।

स्थानीय मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार, इस्लामाबाद में रिकार्ड संख्या में डेंगू के मामले सामने आए हैं, जो सरकार और देश के लोगों के लिए चिंता बढ़ा रहे हैं। जिला स्वास्थ्य अधिकारी डा जाइम जिया ने बताया कि पिछले 24 घंटों में इस्लामाबाद में 152 नए मामले सामने आए हैं। जिसके बाद कुल आंकड़ा 1,801 हो गई है।


डान के अनुसार, 13 अक्टूबर को राजधानी में 125 मामले दर्ज किए गए थे। अधिकारी ने जोर देकर कहा कि 84 मामले ग्रामीण क्षेत्रों से और 68 शहरी क्षेत्रों से सामने आए हैं।

पाकिस्तान में महंगाई भी लगातार बढ़ रही है। नतीजन टमाटर, आलू और घी जैसे खाद्य पदार्थो के दाम आसमान पर पहुंच गए हैं। सांख्यिकी ब्यूरो (पीबीएस) ने अपनी साप्ताहिक रिपोर्ट बताया कि देश में महंगाई 12.66 फीसद बढ़ी है। ब्यूरो की रिपोर्ट के अनुसार, पिछले सप्ताह टमाटर, आलू, घी, मांस और रसोई गैस (एलपीजी) जैसी 22 चीजें और महंगी हो गई हैं।


साप्ताहिक रिपोर्ट के अनुसार, एलपीजी सिलेंडर की कीमत में 43.96 रुपये प्रति किलो की वृद्धि हुई है। घी 2.99 रुपये और मांस 4.58 रुपये प्रति किलोग्राम महंगा हो गया है। इस बीच, 14 रुपये की वृद्धि के साथ खाद्य तेल की कीमत 110 रुपये प्रति लीटर हो गई है। देश में खाद्य पदार्थो समेत रोजमर्रा की वस्तुओं के दाम लगातार बढ़ने से लोगों के घर का बजट बिगड़ गया है।

अधिकारियों ने इस बात को लेकर चिंता जताई है कि आने वाले दिनों में महंगाई और बढ़ सकती है। जियो न्यूज के मुताबिक, घी की कीमत 15 रुपये बढ़कर 49 रुपये प्रति किलो हो गई है। दो किलो वाशिंग पाउडर की कीमत भी 10 रुपये से बढ़ाकर 21 रुपये कर दी गई है, जबकि 100 ग्राम बॉडी लोशन की कीमत में 20 रुपये की बढ़ोतरी की गई है।