स्पेन में कोरोना वायरस ने पसारे अपने पैर

स्पेन में कोरोना वायरस ने पसारे अपने पैर

स्पेन में कोरोना का कहर जारी है। स्पेन की उप-प्रधानमंत्री कारमेन कैल्वो भी कोरोना वायरस की चपेट में आ गई हैं। उन्हें कोरोना टेस्ट में पॉजिटिव पाया गया है।

 स्पेन सरकार द्वारा एक बयान के मुताबिक, कैल्वो का पहला टेस्ट मंगलवार को किया गया था, जो कि नकारात्मक आया था। इसके बाद आज (बुधवार) को किया गया जिसमें वो कोरोना पॉजिटिव पाई गईं। कैल्वो को इलाज के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उनके दशा स्थिर है।  

स्पेन में 40 हजार से ज्यादा लोग इस वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। वहां 3434 से ज्यादा लोगों की मृत्यु हो गई है। स्पेन में पिछले 24 घंटे में 738 लोगों की मृत्यु हुई है। कोरोना वायरस से मृत्यु के आंकड़े के मुद्दे में स्पेन चाइना को पीछे छोड़ चुका है। इटली के बाद स्पेन ही ऐसा दूसरा देश है, जहां पर सबसे ज्यादा इस महामारी से लोगों की जान गई है।  

पूरी संसार में कोरोना वायरस के 4 लाख से ज्यादा मामले
पूरी संसार में कोरोना वायरस के 4 लाख से भी ज्यादा मुद्दे आ चुके हैं। संसार के 172 देश इस वायरस की चपेट में हैं। 19 हज़ार से भी ज्यादा मौतें हो चुकी हैं। अमेरिका की अर्थव्यस्था हिंदुस्तान के मुकाबले 8 गुना बड़ी है। लेकिन कोरोना वायरस के सामने अमेरिका जैसा ताकतवर देश भी घुटने टेक रहा है। अमेरिका संसार में इस वायरस का नया केन्द्र बनता जा रहा है। अमेरिका में इस वायरस के 50 हजार से ज्यादा मुद्दे सामने आ चुके हैं व अकेले न्यूयॉर्क में ही 25 हज़ार से ज्यादा लोग इससे संक्रमित हो चुके हैं। अमेरिका में इस Virus से 700 से ज्यादा लोगों की मृत्यु भी हो चुकी है। न्यूयॉर्क में इस महामारी से 210 लोगों की मृत्यु हो चुकी है ।

अमेरिका ने अब इस महामारी से निपटने के लिए अपने सभी 50 राज्यों में सेना उतार दी है। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने बोला है कि ये युद्ध जैसे दशा हैं व इनसे युद्ध स्तर पर ही निपटा जा सकता है। इटली में इस वायरस से होने वाली मौतों का सिलसिला अब भी नहीं रुक रहा। इटली में अब तक 7503 लोगों की मृत्यु हो गई है।