राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप परिवार के सदस्य, पूर्व सहयोगी के साथ करेंगे इन संशोधन पर विचार

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप परिवार के सदस्य, पूर्व सहयोगी के साथ करेंगे इन संशोधन पर विचार

आने वाले चंद हफ्तों में निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) कई लोगों की क्षमा याचिकाओं को स्वीकृति दे सकते हैं कई अधिवक्ताओं और वकीलों ने यह अनुमान जताया है 

बोला जा रहा है कि ट्रंप पद छोड़ने से पहले कई लोगों की सजा को माफ करने या उसमें संशोधन पर विचार कर रहे हैं जिनमें संभवत: उनके परिवार के सदस्य, पूर्व सहयोगी और वह स्वयं शामिल हैं

यूं माफी देना पुरानी रिवायत  
अमेरिका (USA) के राष्ट्रपतियों द्वारा पद छोड़ने से पहले सजा माफ करने संबंधी विवादित निर्णय लेना कोई असामान्य बात नहीं है, ट्रंप ने यह साफ किया कि उन्हें उन दोस्तों और सहयोगियों के मुद्दे में हस्तक्षेप का कोई पछतावा नहीं है जिनके बारे में वह मानते हैं कि उनके साथ अनुचित व्यवहार हुआ इनमें उनके पूर्व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार माइकल फ्लिन (Michael Flynn) भी शामिल हैं

इसलिए सुर्खियों में है मामला
ये बात भी सामने आ रही है कि अपने कार्यकाल के कुछ ही दिन शेष होने पर ट्रंप अपने बच्चों और साथियों पर लगे मामलों को माफी दिए जाने के बारे में पूछताछ कर रहे हैं वहीं न्याय विभाग के दस्तावेजों से पता चला है कि किसी दोषी को बचाने के लिए दो लोग व्हाइट हाउस के लगातार सम्पर्क में थे और अब इस मुद्दे की भी जाँच हो रही है  

विविधता से भरी संभावित सूची
उनकी संभावित सूची लंबी और विविधता से भरी है ट्रंप के पूर्व अभियान प्रमुख पॉल मानाफोर्ट भी इसमें शामिल हैं जो रूसी जाँच के सिलसिले में वित्तीय क्राइम को लेकर कारागार में हैं इसके अतिरिक्त जॉर्ज पापाडोपोलस भी फ्लिन की तरह एफबीआई (FBI) से असत्य बोलने का क्राइम स्वीकार कर चुके हैं उनके अतिरिक्त भी विभिन्न क्षेत्रों से जुड़े कई लोग हैं जिन्हें ट्रंप की तरफ से माफी मिल सकती है

अपने परिवार की चिंता?
डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) को पद छोड़ने के बाद संभावित कानूनी मामलों की जद में आने की चिंता है अमेरिकी राष्ट्रपति ने हाल के हफ्तों में अपने विश्वस्तों से चिंता जाहिर की थी कि उन्हें, उनके परिवार के सदस्यों और कारोबार को नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन के न्याय विभाग द्वारा निशाना बनाया जा सकता है, यद्यपि बाइडन ने यह स्पष्ट किया है कि वह ऐसे किसी भी निर्णय में शामिल नहीं होंगे

इसके बावजूद ट्रंप ने अपने सहयोगियों के साथ अनौपचारिक वार्ता में यह चर्चा की थी कि वह कैसे अपने परिवार को संरक्षित रख सकते हैं, यद्यपि उन्होंने ऐसा करने के लिये कोई कदम नहीं उठाया है


भारत-नेपाल हुए एक, वैक्सीन लाई करीब

भारत-नेपाल हुए एक, वैक्सीन लाई करीब

नई दिल्ली. भारत में वैक्सीनेशन शुरू होने के साथ ही केंद्र की मोदी सरकार ने नेपाल में कोरोना की वैक्सीन सप्लाई करने वाली है। माना जा रहा है कि अगले हफ्ते तक भारत नेपाल को वैक्सीन मुहैया कराना शुरू कर सकता है। बता दें कि हाल ही नेपाल के विदेश मंत्री प्रदीप ज्ञ्याली भारत के दौरे पर थे, इस दौरान विदेश मंत्री सुब्रह्मण्यम जयशंकर से उनकी द्विपक्षीय बातचीत हुई थी और वैक्सीन की मांग की थी, जिसपर सरकार ने नेपाल को वैक्सीन देने का वादा किया था।

मोदी सरकार नेपाल को करेगी वैक्सीन की सप्लाई
भारत और नेपाल के बीच सीमा तनाव और नए मैप को लेकर जारी विवाद के बीच कोरोना संकट से निपटने की पहल पर दोनों देश एक साथ आये है। हाल में नेपाल के विदेश मंत्री प्रदीप ज्ञ्याली नई दिल्ली आये थे। इस दौरान भारत के प्रतिनिधि संग उनकी द्विपक्षीय वार्ता हुई। इस दौरान भले ही भारत में कोरोना वैक्सीनेशन के बड़े अभियान के चलते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नेपाली विदेश मंत्री संग मुलाक़ात नहीं हो सकी लेकिन उनके इस दौरे को काफी अहम माना गया।

नेपाली विदेश मंत्री प्रदीप ज्ञ्याली भारत दौरे पर
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने नई दिल्ली में ज्ञ्याली की अगवानी की। वहीं सूत्रों के मुताबिक, भारत सरकार ने नेपाल की आपातकालीन जरूरतों को देखते हुए कोरोना की वैक्सीन सप्लाई करने का वादा किया है।दोनो देशों के प्रतिनिधियों की द्विपक्षीय वार्ता के दौरान टीकाकरण कार्यक्रम की ट्रेनिंग और मॉड्यूल को लेकर चर्चा हुई।

भारत-नेपाल द्विपक्षीय वार्ता में वैक्सीन पर चर्चा
वैसे इसके अलावा मोदी सरकार देश के अन्य पड़ोसी देशों जैसे भूटान, बांग्लादेश, म्यांमार, मालदीव को भी कोरोना वायरस वैक्सीन सप्लाई करेगा। बताया जा रहा है कि वैक्सीन की सप्लाई के बाद नेपाल के फ्रंटलाइन वर्करों को प्राथमिकता के आधार पर टीका लगाया जाएगा।

नेपाल में कोरोना वायरस संक्रमण के अबतक 2 लाख 67 हजार से ज्यादा मामले सामने आए हैं, जबकि महामारी में 1 हजार 954 लोगों की मौत हो चुकी है।


कुंडली में सबसे खास ये ग्रह, कमजोर हुआ तो बनेंगे कंगाल       आ रही शानदार कारें, जल्द भारत में होंगी लॉन्च       Amazon दे रहा शानदार डील, iPhone 12 सीरीज मिल रहा गजब के ऑफर में       कार खरीदते वक्त RSA सर्विस लेना न भूलें       गूगल ने चुपके से इस खास सेवा पर लगा दी रोक       Samsung Galaxy S21 Ultra 5G की ऐसे करें प्री-बुकिंग       खुले मैदान में फ्रेंड्स के साथ गोल्फ खेलती नजर आईं जैकलीन, दिल जीत लेंगी ये मनमोहक तस्वीरें       बॉयफ्रेंड के साथ सुला वाइनयार्ड्स पहुंचीं ये एक्ट्रेस, बगीचे में लिया रेड वाइन का मजा       टीवी के राम ने लोगों से की राम मंदिर निर्माण में दान देने की अपील, कहा...       मिर्जापुर की अनंग्शा बिस्वास का यह सवाल हो रहा है वायरल, कहा...       रजनी चांडी ने 69 की उम्र में करवाया हॉट फोटोशूट, इंटरनेट पर से वायरल हो रहीं तस्वीरें       सिद्धार्थ के घर के बाहर स्पाॅट हुईं शहनाज, मीडिया को देख हड़बड़ाते हुए कार में बैठी       पति संग इस अंदाज में मोनालिसा ने सेलिब्रेट की शादी की चौथी सालगिरह       गोरखपुर में भी कोरोना वैक्सीन टीकाकरण शुरू, ऐतिहासिक बना आज का दिन       गोरखपुर की दिव्यांगी को केंद्र सरकार का Invitation, पीएम मोदी के साथ बैठकर देखेंगी परेड       यूपीः तमंचे से Birthday केक काटना पड़ा महंगा       कपूत ने पिता को लीवर देने से किया इंकार, बेटी ने कहा...       बनारस से कुत्ते के अंधे बच्चे को अपने घर ले आईं मेनका गांधी, कहा...       बेखौफ बदमाशों ने दिया दिल दहलाने वाली वारदात को अंजाम       कोरोना के साथ-साथ बर्ड फ्लू की फैली दहशत