पाकिस्तान में पत्रकारों पर हमले के मामलों में 40 फीसद की बढोतरी

पाकिस्तान में पत्रकारों पर हमले के मामलों में 40 फीसद की बढोतरी

पाकिस्तान में पत्रकारों पर हमले के मामलों में चालीस फीसद की वृद्धि हुई है। विडंबना ये है कि पाक की राजधानी इस्लामाबाद पत्रकारों के लिए सबसे ज्यादा खतरनाक जगह है। पाकिस्तान फ्रीडम नेटवर्क ने अपनी रिपोर्ट में यह जानकारी दी है। समाचार एजेंसी आइएएनएस के मुताबिक पत्रकारों के साथ होने वाली घटनाओं में आधे से ज्यादा इस्लामाबाद में ही होती हैं। सिंध प्रांत दूसरे नंबर पर है। यहां पर पत्रकारों के उत्पीड़न के 38 केस हैं। पंजाब में भी इतनी ही घटनाएं हुई हैं।

इस सूची में खैबर पख्तूनख्वा और गुलाम कश्मीर क्षेत्र भी है। पिछले साल मई से इस साल अप्रैल तक पत्रकारों के साथ 148 घटनाएं हुईं। जिनमें 22 मामलों में पत्रकारों पर प्राणघातक हमला किया गया और छह पत्रकारों की हत्या कर दी गई। उल्लेखनीय है कि कुछ दिन पहले ही अमेरिका के विदेश मंत्री एंटोनी ब्लिकंन ने मानवाधिकार संगठन की रिपोर्ट के हवाले से कहा था कि पाकिस्तान में मीडिया स्वतंत्र नहीं है। यहां मीडिया संस्थानों और पत्रकारों का सुरक्षा बलों और उग्रवादियों दोनों के द्वारा उत्पीड़न किया जाता है।

वहीं समाचार एजेंसी एएनआइ के मुताबिक पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान अपने देश में प्रतिबंधित कट्टरपंथी संगठन तहरीक ए लब्बैक के आगे पूरी तरह घुटने टेक चुके हैं। अब इमरान खान कट्टरपंथियों के ईशनिंदा कानून को पूरी दुनिया में लागू करने के एजेंडे को आगे बढ़ाने में लग गए हैं। उनका इरादा है कि इस कानून को पूरी दुनिया में लागू कराया जाए। इसके लिए वह मुस्लिम देशों को लामबंद करने में जुट गए हैं। उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि ईशनिंदा के मामले में सभी मुस्लिम देश एक जुट हों। फ्रांस की तरह ईशनिंदा के मामले अगर सामने आते हैं, तो उस देश के साथ व्यापार करने पर पाबंदी लगाई जाए।


अफगानिस्तान में टैंकरों में लगी आग, सात की मौत

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल के निकट एक साथ कई टैंकरों में आग लगने से हुए हादसे में सात लोगों की मौत हो गई, 14 से ज्यादा लोग घायल हो गए। यह पूरी तरह स्पष्ट नहीं हुआ है कि यह तोड़फोड़ की घटना थी या महज दुर्घटना। ये सभी गैसोलीन के टैंकर थे। जानकारी दी गई है कि पहले एक टैंकर में आग लगी, उसके बाद अन्य टैंकर भी आग की चपेट में आ गए। घटना के बाद राजधानी के कुछ हिस्से में बिजली बंद कर दी गई। तालिबान के प्रवक्ता जबीबुल्लाह मुजाहिद ने कहा कि उनका इस घटना में कोई हाथ नहीं है। 


भारत से लौटने वाले अपने नागरिकों से रोक हटा लेगा ऑस्ट्रेलिया

भारत से लौटने वाले अपने नागरिकों से रोक हटा लेगा ऑस्ट्रेलिया

ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री स्कॉट मारिसन ने कहा कि अगले शनिवार से ऑस्ट्रेलिया कोविड से प्रभावित भारत से लौटने वाले अपने नागरिकों से प्रतिबंध हटा लेगा। उसी दिन स्वदेश वापसी वाली पहली फ्लाइट ऑस्ट्रेलियाई शहर डारविन में लैंड करेगी।

ऑस्ट्रेलियाई सरकार ने इतिहास में पहली बार भारत में 14 दिन या उससे अधिक रहकर लौटे अपने नागरिकों पर अस्थाई प्रतिबंध लगा दिया था। ताकि वह ऑस्ट्रेलिया में लैंड न कर सकें। लेकिन अब यह प्रतिबंध अगले शनिवार से हटा लिया जाएगा।

ऑस्ट्रेलियाई सरकार ने इस प्रतिबंध का पालन नहीं करने पर पांच साल की जेल या 66 हजार ऑस्ट्रेलियाई डॉलर (50,899 अमेरिकी डॉलर) का जुर्माना लगाने का निर्णय लिया था। सरकार के इस फैसले से ऑस्ट्रेलियाई सांसदों, डॉक्टरों, व्यापारियों और सिविल सोसाइटी के लोगों ने सख्त एतराज जताया था। उन्होंने भारत में ऑस्ट्रेलियाई नागरिकों को छोड़ने और वापसी पर जुर्माना और जेल की धमकी देने का विरोध किया था।


सरकार का यह आदेश संभवत: 15 मई को खत्म हो रहा है। शुक्रवार को राष्ट्रीय सुरक्षा समिति की बैठक के बाद मोरिसन ने कहा कि इस तारीख को और आगे बढ़ाने की कोई जरूरत नहीं है। लिहाजा, अब ऑस्ट्रेलिया 15 से 31 मई के बीच भारत से अपने नागरिकों को वापस लाने के लिए तीन उड़ानें भेजेगा। पहली फ्लाइट 15 मई को डारविन पहुंचेगी। भारत से सीधे ऑस्ट्रेलिया आने वाली वाणिज्यिक उड़ानों पर अभी भी प्रतिबंध है। मोरिसन ने कहा कि फिलहाल उन्हीं ऑस्ट्रेलियाई नागरिकों को वापस लाया जाएगा जो भारत में उच्चायोग और काउंसलर आफिस में अपना पंजीकरण करा चुके हैं।


ऑस्ट्रेलिया के जंगलों से आई इस भेड़ ने सोशल मीडिया पर मचा दी धूम       दो साल की मेहनत के बाद बना डाली लकड़ी की रॉयल एनफ़ील्ड बुलेट       OMG! शराब पीते ही लोग क्यों बोलने लग जाते हैं अंग्रेजी?       बिहार का ये किसान उगा रहा है दुनिया की सबसे महंगी सब्जी, कीमत जानकर हैरान रह जाएंगे आप       बॉयफ्रेंड संग होटल में गई थी महिला, अचानक आ गया पति, फिर हुआ कुछ ऐसा       पति की मृत्यु के बाद महिला ने दो बेटों के साथ की खुदकुशी       कामयाबी: सीमा ने टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई किया       आईपीएल 2021: बाकी मैचों की मेजबानी के लिए श्रीलंका ने आगे बढ़ाए कदम, कहा...       आज नहीं बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, जानिए कितनी हैं कीमतें       देश में लगातार तीसरे दिन कोविड-19 के 4 लाख से अधिक नए केस       UP: गांवों में भी जमकर टूटा कोविड-19 का कहर       मायावती ने कहा कि मजदूरों के पलायन के मामले पर नाटक कर रहे हैं सीएम Kejriwal       जीत के बाद ममता का पीएम Modi पर निशाना, कहा...       90 फीट गहरे बोरवेल में गिरा 4 साल का मासूम       कोरोना संक्रमण से ठीक हुए मरीजों में मिली नई बीमारी       रोकना संभव, देश के शीर्ष वैज्ञानिक ने बताई बड़ी बात       कोरोना संकट में सेना के रिटायर डॉक्टरों की सराहनीय पहल       भारत में कोरोना का कहर, इन राज्यों में सबसे ज्यादा केस       कोरोना से लड़ाई में साथ आए UK में रहने वाले भारतीय       स्वामी ने PMO पर लगाए गंभीर आरोप, लंदन में क्वारंटाइन किए गए हैं विदेश मंत्री जयशंकर