वैक्सीन से मौत! नजर आए ये साइड इफेक्ट, इतने लोगों ने तोड़ा दम

वैक्सीन से मौत! नजर आए ये साइड इफेक्ट, इतने लोगों ने तोड़ा दम

कोरोना वायरस से जूझ रही दुनिया के कई देशों में इस संक्रमण की रोकथाम के लिए टीकाकरण की प्रक्रिया शुरू हो गयी है। हालंकि वैक्सीन को लेकर लोगों में शंकाएं हैं। दरअसल, वैक्सीन लगने के बाद लोगों की मौतों का मामला सामने आने पर वैक्सीन के साइड इफ्फेक्ट पर सवाल उठ रहे हैं। इन मामलों में फ़िलहाल नार्वे सबसे आगे हैं, जहां वैक्सीन लगने के बाद अब तक 23 लोगों की मौत हो गयी।

नॉर्वे में वैक्सीन लगने के बाद 23 लोगों की मौत
दरअसल, नॉर्वे (Norway) में वैक्सीन के डोज के बाद 23 लोगों की मौत का मामला सामने आया है। बता दें कि नए साल से चार दिन पहले ही नार्वे में अमेरिका में निर्मित फाइजर वैक्सीन लगाने की शुरूआत की गई थी।

पहले ही कर दी गई थी ये घोषणा
नॉर्वे में सबसे पहले फाइजर वैक्सीन (Pfizer Vaccine) की पहली खुराक 67 साल के सविन एंडरसन को दी गई थी। इसके बाद से अब तक करीब 33 हजार लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है। आपको बता दें कि यहां पर वैक्सीनेशन की शुरूआत के साथ ही ये भी बता दिया गया था कि कुछ लोगों में साइड इफेक्ट देखने को मिल सकते हैं।

मरने वालों में अधिकतर को गंभीर साइड इफेक्ट
एक मीडिया रिपोर्ट में नॉर्वेजियन मेडिसिन एजेंसी के हवाले से बताया गया है कि वैक्सीन लगाने के बाद 29 लोगों में साइड इफेक्ट देखे गए हैं, जबकि वैक्सीनेशन के बाद अब तक 23 लोगों की मौत को टीकाकरण से जोड़कर देखा जा रहा है। हालांकि अब तक इनमें से महज 13 मरीजों की ही जांच की गई है। एजेंसी के मेडिकल डायरेक्‍टर स्‍टेइनार मैडसेन ने देश के राष्‍ट्रीय प्रसारक एनआरके से बातचीत करते हुए कहा कि 13 लोगों की मौतों में नौ सीरियस साइड इफेक्ट के मामले हैं।

ज्यादातर बुजुर्ग या बीमार लोगों की मौत
मैडसेन ने कहा कि जांच में सामने आया है कि जिन लोगों की मौत हुई है, उनमें ज्यादातर बुजुर्ग या कमजोर लोग शामिल थे, जो नर्सिंग होम रहते थे। डायरेक्‍टर के मुताबिक, मृतकों की उम्र 80 या 90 साल से ज्यादा है। उनका कहना है कि इनमें से कुछ को वैक्सीनेशन के बाद फीवर और घबराहट जैसे समस्याओं का सामना करना पड़ा होगा। जिसके बाद वे गंभीर रूप से बीमार हो गए और फिर उसकी मौत हो गई।

ये मामले दुर्लभ हैं- मैडसेन
एजेंसी के मेडिकल डायरेक्‍टर स्‍टेइनार मैडसेन ने जोर देते हुए कहा कि ये मामले दुर्लभ हैं। जिन लोगों की वैक्सीन के बाद मौत हुई है, वे दिल से संबंधित बीमारी, डिमेंशिया और अन्य गंभीर बीमारियां से पीड़ित थे। उन्होंने कहा कि अब तक पुष्टि किए गए साइड इफेक्ट के मामलों से प्राधिकरण चिंतित नहीं है। मैडसेन ने कहा कि यह स्पष्ट है कि कुछ बीमार लोगों को छोड़कर वैक्सीन का बहुत कम लोगों को खतरा है।


बम से उड़ा ट्रंप हाउस, भरभरा कर गिर गई इतनी बड़ी इमारत

बम से उड़ा ट्रंप हाउस, भरभरा कर गिर गई इतनी बड़ी इमारत

अटलांटिक: अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) का अटलांटिक (Atlantic) शहर में स्थित प्लाजा (Plaza) धराशायी कर दिया गया है। बता दें कि ये प्लाजा अपने कसीनो (Casinos) के लिए जाना जाता था। 34 मंजिला इस प्लाजा को तीन हजार डायनामाइट की मदद से धराशायी किया गया। यही नहीं, इस बिल्डिंग को उड़ाए जाने के इस नजारे को देखने के लिए इंतजाम भी किया गया था।

मेयर ने दिया था बिल्डिंग को जमींदोज करने का आदेश
साल 1984 में खोला गया ये प्लाजा 2014 में बंद कर दिया गया था। कई तूफानों को झेलने की वजह से इस बिल्डिंग का बाहरी हिस्सा जर्जर हो गया था, जिसके चलते बीते साल जून में शहर के मेयर मार्टी स्मॉल ने इस इमारत को धराशायी करने का आदेश दे दिया था। बता दें कि इस बिल्डिंग को जमींदोज करते वक्त वहां पर सैकड़ों लोग मौजूद रहे और इसका लाइव स्ट्रीमिंग भी किया गया।

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा ये वीडियो
इस प्लाजा के जमींदोज होने का वीडियो भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। 34 मंजिला ऊंची इमारत केवल 20 सेंकेंड से भी कम समय में ताश के पत्तों की तरह ढह गई। बुधवार सुबह नौ बजे के आसपास बिल्डिंग में लगातार कई विस्फोट किए गए, जिससे पूरी इमारत हिल गई। इस बारे में अटलांटिक शहर के मेयर का कहना है कि बिल्डिंग गिरने के बाद इसका मलबा ही 8 मंजिला ऊंचा है। इसे हटाने में जून तक का समय लगेगा।

कई बड़ी हिस्तियां कर चुकी हैं यहां शिरकत
डोनाल्ड ट्रंप तो खुद हॉलीवुड फिल्मों में नजर आ ही चुके हैं। साथ ही उनका ये प्लाजा भी एक मशहूर फिल्म ओशन 11 का हिस्सा रहा। ट्रंप के इस प्लाजा में कई बड़ी हस्तियां शिरकत कर चुकी हैं, उनमें पॉप सुपरस्टार मेडोना से लेकर रेसलर हल्क होगन, म्यूजिक लेजेंड कीथ रिचर्ड्स और सुपरस्टार एक्टर जैक निकलसन शामिल हैं।


सुरेश रैना ने टी20 मैच में 39 गेंदों पर बनाए नाबाद 104 रन       न्यूजीलैंड के बल्लेबाज ने ठोके तूफानी 99 रन, आर अश्विन बोले...       इन खिलाड़ियों ने अब तक कमाए 100 करोड़ से ज्यादा, पहले नंबर पर ये खिलाड़ी       इस खिलाड़ी को मिली जगह, पिंक बॉल टेस्ट मैच से पहले भारतीय टीम में हुआ बदलाव       पत्नी ने खोले कई राज, ओवर में 30 रन पड़े तो फोन पर रो पड़े थे इशांत शर्मा       बुजुर्गों का टीकाकरण इस दिन, फ्री वैक्सीन सबको नहीं       कश्मीर दहलाने की साजिश, सुरक्षाबलों ने की नाकाम       बीच सड़क लाशों के ढेर, ट्रक का टायर फटा, जोरदार टक्कर में कई मौतें       कमलनाथ समेत कई कांग्रेस नेता थे सवार, झटका खाकर 10 फुट नीचे गिरी लिफ्ट       कांग्रेस सरकार का गिरना तय, आज फ्लोर टेस्ट में फैसला       गर्मियों में लू से बचने के साथ ही पाचन तंत्र बेहतर करने के लिए कैरी का करें सेवन       अपनी त्वचा के हिसाब से आपको कौन सा साबुन यूज करना चाहिए       घुटनों और जोड़ों में दर्द से राहत दिलाएंगी ये एक्सरसाइजेस       क्या कोरोना के खौफ के बीच स्वीमिंग पूल में तैरना उपयुक्त है, जानें       Harvest Gold ब्रेड के पैकेट से अब नहीं कर सकता कोई छेड़छाड़       अगर आपको भी चाहिए फूल सी सुंदर बीवी तो अपनाएं इलायची के टोटके       हस्तशास्त्र के अनुसार हाथ देखकर जानें कितने होने वाली है आपके बच्चों की संख्या       सबसे ज्यादा बेवफा होते हैं इन राशियों के लोग, विश्वास करना है मुश्किल       अनानास के सेवन से मजबूत होता है इम्यून सिस्टम       गर्मियों में फायदेमंद है पुदीने का सेवन, इन बिमारियों में मिलता है लाभ