कट जाने या चोट लगने पर बहते खून को रोकने के लिए करें ये उपाय

कट जाने या चोट लगने पर बहते खून को रोकने के लिए करें ये उपाय

हमें कई बार अनजाने में चोट लग जाती है तो खून बहने लगता है। जो रक्त का थक्का नहीं बनने के कारण रुक नहीं पाता ऐसे में अगर शरीर से ज़्यादा खून निकल जाये तो शरीर में कमजोरी भी आ सकती है। खून को बहने से रोकने के लिए ब्लड क्लॉट्स बनने बहुत ज़रूरी होते है।

खून रोकने के लिए करें ये उपाय:

खून का बहना बंद करने के लिए तुरंत ही चोट वाली जगह पर बर्फ लगाएं, बर्फ के इस्तेमाल से स्किन का टेम्प्रेचर बढ़ जाता है और ब्लड क्लॉट्स जमने लगते है।

इसके अलावा आप चाहे तो एक कटोरी में ठंडा पानी और बर्फ डालकर भी चोट वाले हिस्से को डुबो सकते हैं। इससे भी खून बहना तुरंत बंद हो जाएगा।

खून का बहना बंद करने के लिए आप टी-बैग का भी इस्तेमाल कर सकते है, इसे इस्तेमाल करने के लिए एक टी बेग को पानी में डुबो कर चोट वाले हिस्से पर लगाए। टी बेग में भरपूर मात्रा में टैनिन तत्व मौजूद होते है। 

अगर आपकी चोट से खून बहना बंद नहीं हो रहा है तो फ़ौरन ही एक एलोवेरा के पत्ते को काटकर उसका जेल निकाल ले। अब इसे अपनी चोट पर लगा दे। ऐसा करने से खून बहना बंद हो जायेगा।


महामारी से बचाव में कारगर 'मास्क' वन्यजीव के लिए साबित हो रहा नुकसानदेह

महामारी से बचाव में कारगर 'मास्क' वन्यजीव के लिए साबित हो रहा नुकसानदेह

वाशिंगटन। कोरोना वायरस महामारी (coronavirus pandemic) के दौरान कारगर मास्क ( Masks) वन्यजीवों, पक्षी और पानी में रहने वाले जीव-जंतुओं के लिए नुकसानदेह और घातक साबित हो रहा है।  जब से कोविड-19 संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए  सार्वजनिक जगहों पर मास्क को अनिवार्य किया गया है तब से एकबार इस्तेमाल किए जाने वाले सर्जिकल मास्क दुनिया भर के सड़कों, पानी और समुद्री तटों पर बिखरे पड़े हैं। एक बार पहना जानेवाला पतला सा प्रोटेक्टिव मटीरियल नष्ट होने में सैंकड़ों साल लगा देता है। पशु अधिकारों के समूह पेटा (PETA) के एश्ले फ्रुनो (Ashley Fruno) ने कहा, 'फेस मास्क का इस्तेमाल जल्दी नहीं खत्म होने वाला है लेकिन इस्तेमाल के बाद जब हम इसे  फेंक देते हें तब यह पर्यावरण और जानवरों को नुकसान पहुंचा सकता है।' 

 मलेशिया की राजधानी कुआलालंपुर के बाहरी इलाके में लंगूरों को मास्क के स्ट्रेप चबाते हुए देखा गया। वहीं ब्रिटेन के चेम्सफोर्ड सिटी में भी समुद्री पक्षी का पैर इस मास्क के फंदे में एक सप्ताह तक फंसा रह गया था। एनिमल वेलफेयर चैरिटी ने इस घटना का जिक्र कर सतर्क किया। चैरिटी की नजर जब इस पक्षी पर गई तब इसके पैर बंधे होने के कारण यह बेहोशी की अवस्था में था इसे तुरंत वन्यजीव अस्पताल (wildlife hospital) ले जाया गया।  

पर्यावरण के लिए काम करने वाले ग्रुप ओशंस एशिया (OceansAsia) के अनुसार,  पिछले साल 1.5 बिलियनसे अधिक मास्क समुद्रों में प्रवाहित किए गए। 


फोर्ड कंपनी के चेन्नई प्लांट में उत्पादन हुआ बंद, जानें       फंसी खूबसूरत ये एक्ट्रेस, बाथरूम में हो गया ये बड़ा कांड, जानकर हो हैरान       सलमान लड़ाई की वजह, रवीना हो गई थी गुस्से से लाल       तांडव के अलावा ये फिल्में भी कंट्रोवर्सी की शिकार, लेकिन...       अखिलेश यादव ने कहा कि किसान आंदोलन से ध्यान भटकाने के लिए भाजपा कर रही है तांडव       UP में अब दो दिन ही होगा काम, लगेगी सेकेण्ड डोज       लूट ले गयी दुल्हन, दुल्हे को लगाया 6 लाख का चूना       लखनऊ में गुड़ महोत्सव, सीएम योगी करेंगे उद्घाटन       ये देश लिखना पढ़ना नहीं जानते, क्या सच में है ऐसा ?       क्या गांजे को करे दें लीगल, जनता से पूछा गया सवाल       ऐसे लोगों में कोविड-19 से संक्रमित होने का खतरा कम, सीरो सर्वे का चौंकाने वाला दावा       शुभेंदु की ममता को ललकार, चुनावी सीट पर घमासान       अभी अभी: लड़ाकू विमान राफेल- आसमान में दिखेगी ताकत, जोधपुर में गरजेगा ये देश       धमाके से कांपा जमशेदपुर, ब्लास्ट से डरे-सहमे लोग       SC की दो टूक, दिल्ली में कौन आएगा, तय करे पुलिस       शुभेंदु अधिकारी की रैली में बड़ा हंगामा, भयानक झड़प BJP-TMC कार्यकर्ताओं में       सबसे ऊंचा कृष्ण मंदिर, अब जयपुर में पधारेंगे कन्हैया       इस बड़े बैंक ने करोड़ों ग्राहकों को दिया बड़ा तोहफा       अदाणी समूह द्वारा संचालित तीन हवाई अड्डों को मिला सम्मान       फटाफट कर लें खरीदारी, जानें क्या है नई कीमत