स्मरण शक्ति बढ़ाना है तो आज से ही शुरू करे ये काम

स्मरण शक्ति बढ़ाना है तो आज से ही शुरू करे ये काम

स्मरण शक्ति की कमजोरी या विकृति से विद्यार्थी और दिमागी काम करने वालों को असुविधाजनक स्थिति से रुबरु होना पडता है। यह कोई रोग नहीं है और न किसी रोग का लक्षण है। इसकी मुख्य वजह एकाग्रता(कन्संट्रेशन) की कमी होना है। ये कुछ सरल उपचार है जिनसे स्मरण शक्ति बढतीहै -

# बादाम 5 नग रात को पानी में गलाएं।सुबह छिलके उतारकर बारीक पीस कर पेस्ट बनालें। अब एक गिलास दूध गरम करें और उसमें बादाम का पेस्ट घोलें। भली प्रकार उबल जाने पर उतारकर मामूली गरम हालत में पीयें। इसमें 3 चम्मच शहद भी डालें।यह मिश्रण पीने के बाद दो घंटे तक कुछ न लें। यह स्मरण शक्ति वृद्दि करने का जबर्दस्त उपचार है। दो महीने तक करें।

# एक सेवफ़ल नित्य खाने से कमजोर मेमोरी में लाभ होता है। भोजन से 10 मिनिट पहिले खाएं। जिन फ़लों में फ़ास्फ़ोरस तत्व पर्यात मात्रा में पाया जाता है वे स्मरण शक्ति बढाने में विशेषतौर पर उपयोगी होते है। अंगूर ,खारक ,अंजीर एवं संतरा दिमागी ताकत बढाने के लिये नियमित उपयोग करना चाहिये।

# धनिये का पावडर दो चम्मच शहद में मिलाकर लेने से स्मरण शक्ति बढती है। आंवला का रस एक चम्मच 2 चम्मच शहद मे मिलाकर उपयोग करें। अदरक ,जीरा और मिश्री तीनों को पीसकर लेने से कम याददाश्त की स्थिति में लाभ होता है।

# 250 मिलि दूध (गाय का) और 2 चम्मच शहद मिलाकर पीने से भी याद दाश्त में बढोतरी होती है। विद्ध्यार्थियों के लिये फ़ायदेमंद उपचार है। तिल में स्मरण शक्ति वृद्दि करने के तत्व हैं। 20 ग्राम तिल और थोडा सा गुड का तिलकुट्टा बनाकर नित्य सेवन करना परम हितकार उपचार है।


तनाव आप पर हावी है तो इन 3 एक्सरसाइज से करें स्ट्रेस का उपचार

तनाव आप पर हावी है तो इन 3 एक्सरसाइज से करें स्ट्रेस का उपचार

तनाव हर उम्र के लोगों का हिस्सा बनता जा रहा है। बच्चे से लेकर बुजुर्गों तक पर तनाव हावी है। किसी को आर्थिक तंगी परेशान करती है तो किसी को सेहत और अपनों के दूर जाने का गम पल-पल खलता है। जिंदगी की यह परेशानियां तनाव का सबसे बड़ा कारण है। तनाव या स्ट्रेस कोई छोटी परेशानी नहीं है जिसे नज़र अंदाज किया जाए। तनाव ऐक ऐसी मानसिक बीमारी है जो हमारी और हमारे परिवार की खुशियां छीन लेता है। तनाव से पीड़ित इनसान हमेशा निराश और नकारात्मक सोच में जिंदा रहता है जो धीरे-धीरे जिंदगी की खुशियां छीन लेता है।


तनाव बॉडी पर कई तरह से असर डालता है। तनाव की वजह से वजन बढ़ सकता है। आपके बालों पर तनाव का सबसे ज्यादा असर पड़ता है, आप समय से पहले बूढ़े होने लगते हैं। लंबी उम्र जीना है तो तनाव से छुटकारा पाना जरूरी है। तनाव के स्तर को कम करना चाहते हैं तो कुछ एक्सरसाइज को अपनी रूटीन में शामिल करें। एक्सरसाइज ना सिर्फ तनाव को दूर करेंगी, बल्कि दिमाग को भी शांत रखेंगी। आइए आपको ऐसी 3 एक्सरसाइज के बारे में बताते हैं जिन्हें करके आप तनाव से छुटकारा पा सकते हैं।


स्ट्रेचिंग से करें तनाव को दूर:

स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज सेशन के पहले या बाद में की जाती है जिसे लोग एक्सरसाइज करने के लिए रूटीन का हिस्सा मानते हैं। आप जानते हैं कि स्ट्रेचिंग तनाव भी दूर करती है। स्ट्रेचिंग बॉडी की स्टिफनेफ को दूर करती है, साथ ही तनाव और दर्द से राहत दिलाती है। यह एक्सरसाइज आपके दिमाग को भी शांत रखती है।

तनाव का बेहतरीन इलाज है योगा:


योगा एक ऐसा प्रसिद्ध व्यायाम है जो तनाव से मुक्ति दिलाता है। हल्की एक्सरसाइज ना सिर्फ आपके दिमाग को शांत रखती हैं बल्कि आपके मानसिक तनाव को भी कम करती है। योगा आज दुनिया भर में लोगों के बीच अपनी पहचान कायम कर चुका है। योगा करने से तनाव से मुक्ति मिलती है और मन शांत रहता है। योगा आप घर में भी कर सकते हैं और पार्क में भी जाकर कर सकते हैं। आप यू ट्यूब पर तनाव दूर करने वाले योगा देखकर घर में आसानी से योगा कर सकते हैं।

दौड़कर भी कम होता है तनाव:

दौड़ना एक ऐसी असरदार एक्सरसाइज है जो ना सिर्फ आपका वज़न कंट्रोल करती है बल्कि आपको तनाव से भी मुक्त रखती है। अगर आप खुद को निराश, असहाय और कमज़ोर समझ रहे हैं तो पक्का आप पर तनाव हावी है। तनाव दूर करने के लिए आप घर से बाहर जाएं और कुछ देर दौड़ें दिमाग के रसायन शांत हो जाएंगे।