नवरात्र में हेल्दी रहने के लिए डाइट में जरूर शामिल करें ये 6 चीज़ें

नवरात्र में हेल्दी रहने के लिए डाइट में जरूर शामिल करें ये 6 चीज़ें

हर वर्ष आश्विन माह में शारदीय नवरात्रि मनाई जाती है। इसकी शुरुआत आश्विन माह में शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा के दिन घटस्थापना यानी कलश स्थापना से होती है। इस वर्ष 17 अक्टूबर यानी की आज से शारदीय नवरात्रि की शुरुआत हुई है। आज से नौ दिनों तक लगातार मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा-उपासना की जाएगी। ऐसा कहा जाता है कि सच्ची श्रद्धा से मां की भक्ति करने वाले व्रती की सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं। इसके लिए व्रती नवरात्र में उपवास रखते हैं। इसमें व्रती केवल सेंधा नमक युक्त भोजन एक समय करते हैं। जबकि कुछ व्रती फलाहार पर रहते हैं। अगर आप भी नवरात्र में उपवास रखते हैं और कोरोना काल में स्वस्थ रहना चाहते हैं, तो अपने फलाहार में इन चीज़ों को जरूर शामिल करें-

1.भुना मखाना खाएं

आप अपनी डाइट यानी फलाहार में भुना मखाना और मूंगफली जरूर शामिल करें। इसमें अनेकों पोषक तत्व पाए जाते हैं। इसके लिए मखाने और मूंगफली को घी में भून लें। जबकि सेंधा नमक डालकर इसका स्वाद बढ़ा सकते हैं। नवरात्र में भुना मखाना उत्तम और सेहतमंद फलाहार है।

2.मखाने की खीर खाएं

नवरात्र के दिनों में उपवास के दौरान मखाने की खीर खा सकते हैं। इसके लिए अपनी आवश्यकता अनुसार मखाने को दूध में 15 मिनट तक उबाल लें। अब इसमें ड्राई फ्रूट्स मिक्स करें। जबकि मीठे के लिए चीनी की जगह पर गुड़ का इस्तेमाल करें।

3.नारियल पानी पिएं

उपवास से शरीर में पानी की कमी को दूर करने के लिए नारियल पानी का सहारा ले सकते हैं। इसमें इलेक्ट्रोलाइट्स अधिक पाए जाते हैं जो शरीर को लंबे समय तक  हायड्रेट रखते हैं। इसके लिए उपवास के दिनों में रोजाना एक गिलास नारियल पानी जरूर पिएं।

4.केले और अखरोट का सेवन करें

केला और अखरोट दोनों सेहतमंद खाद्य पदार्थ हैं। इसके लिए केला, अखरोट और दही का स्मूदी बनाकर सेवन कर सकते हैं। उपवास के दिनों में रोजाना सुबह की शुरुआत स्मूदी से करें।

5.कुट्टू का डोसा

उपवास में कुट्टू के आटे का सेवन किया जाता है। ऐसे में कुट्टू का डोसा बेहतर विकल्प है। यह कम तेल में बन जाता है। जबकि व्रत के लिए यह बेहतर विकल्प है। इसमें आलू और पनीर मिलाकर स्वादिष्ठ बनाया जा सकता है। जबकि नारियल की चटनी इसके जायके के स्वाद को और बढ़ा देता है।

6.साबूदाना खिचड़ी का सेवन करें

साबूदाना की खिचड़ी को अंग्रेजी में Pears Sago कहा जाता है। इसमें स्टार्च और कार्बोहाइड्रेट्स पाए जाते हैं जो उपवास में शक्ति प्रदान करते हैं। साथ ही साबूदाना की खीर का भी सेवन किया जा सकता है। जबकि साबूदाना पकौड़ा भी खाया जा सकता है।


अपनी त्वचा के हिसाब से आपको कौन सा साबुन यूज करना चाहिए

अपनी त्वचा के हिसाब से आपको कौन सा साबुन यूज करना चाहिए

चेहरे की देखभाल करना जितना जरूरी है, उतना ही जरूरी स्किन की देखभाल करना भी है। अक्सर हमारी आदत होती है कि हम चेहरे के लिए बढ़िया से बढ़िया फेस वॉश, जेल या फोम का चयन करते हैं, लेकिन नहाने के लिए किसी भी साबुन का इस्तेमाल कर लेते हैं। कभी आपने सोचा है कि स्किन के प्रति ये लापरवाही आपकी स्किन को रूखा, बेजान और बुढ़ापे की तरह दिखने वाली झुर्रीदार स्किन बना सकती है।

हमारा ये वहम है कि साबुन से स्किन खराब होती है। लेकिन सच तो ये है कि साबुन से स्किन खराब नहीं होती, बल्कि स्किन के मुताबिक साबुन इस्तेमाल नहीं करने से स्किन खराब होती है। आप भी अगर स्किन को जवां और खिला-खिला बनाए रखना चाहते हैं तो अपनी स्किन टोन के मुताबिक साबुन इस्तेमाल करें।

एंटीबैक्टीरियल साबुन

गर्मियों में स्किन की परेशानियां ज्यादा रहती हैं। गर्मी में पसीने से फोड़े-फुंसी आने का डर रहता हैं, इसलिए स्किन की देखभाल के लिए एंटी बैक्टीरियल साबुन का यूज करना चाहिए। एंटी बैक्टीरियल साबुन का इस्तेमाल करने से शरीर पर किसी भी तरह के दाद, खुजली और दाने नहीं होते हैं। ऑयली स्किन के लिए एंटी बैक्टीरियल साबुन बहुत ही असरदार होता है। ड्राई स्किन के लोग इस साबुन का इस्तेमाल नहीं करें। ऑयली स्किन वालों के लिए ये साबुन बेस्ट है।

ड्राई स्किन के लिए साबुन- जिन लोगों की स्किन बहुत रूखी होती है, उन्हें मॉइश्चराइजर वाला साबुन यूज करना चाहिए। मॉइश्चराइजर वाले साबुन में तेल, शिया बटर, वैक्स, पैराफीन वैक्स और ग्लिसरीन को मिलाकर बनाया जाते हैं। ये साबुन आपकी स्किन को मॉश्चर करते है। बाजार में आपको अपनी स्किन के मुताबिक साबुन आसानी से मिल जाएंगे, जिससे स्किन मुलायम और कोमल रहेगी।

नॉर्मल स्किन के लिए साबुन- अगर आपकी स्किन सामान्य है तो आप ग्लिसरीन वाला साबुन इस्तेमाल करें। वैसे सामान्य स्किन पर हर तरह का साबुन सूट करता है। आप मॉइश्चराइजर वाला साबुन भी यूज कर सकते हैं।

ऑयली स्किन- अगर आपकी स्किन बहुत ऑयली है तो आपको नॉरमल साबुन का यूज करना चाहिए। आपको ऐसे साबुन का चयन करना चाहिए, जो आपकी स्किन को ना ज्यादा रूखा बनाए, ना ही ऑयली बनाए। आप लेमन या फिर ग्लिसरीन वाला साबुन यूज कर सकती हैं। 


सुरेश रैना ने टी20 मैच में 39 गेंदों पर बनाए नाबाद 104 रन       न्यूजीलैंड के बल्लेबाज ने ठोके तूफानी 99 रन, आर अश्विन बोले...       इन खिलाड़ियों ने अब तक कमाए 100 करोड़ से ज्यादा, पहले नंबर पर ये खिलाड़ी       इस खिलाड़ी को मिली जगह, पिंक बॉल टेस्ट मैच से पहले भारतीय टीम में हुआ बदलाव       पत्नी ने खोले कई राज, ओवर में 30 रन पड़े तो फोन पर रो पड़े थे इशांत शर्मा       बुजुर्गों का टीकाकरण इस दिन, फ्री वैक्सीन सबको नहीं       कश्मीर दहलाने की साजिश, सुरक्षाबलों ने की नाकाम       बीच सड़क लाशों के ढेर, ट्रक का टायर फटा, जोरदार टक्कर में कई मौतें       कमलनाथ समेत कई कांग्रेस नेता थे सवार, झटका खाकर 10 फुट नीचे गिरी लिफ्ट       कांग्रेस सरकार का गिरना तय, आज फ्लोर टेस्ट में फैसला       गर्मियों में लू से बचने के साथ ही पाचन तंत्र बेहतर करने के लिए कैरी का करें सेवन       अपनी त्वचा के हिसाब से आपको कौन सा साबुन यूज करना चाहिए       घुटनों और जोड़ों में दर्द से राहत दिलाएंगी ये एक्सरसाइजेस       क्या कोरोना के खौफ के बीच स्वीमिंग पूल में तैरना उपयुक्त है, जानें       Harvest Gold ब्रेड के पैकेट से अब नहीं कर सकता कोई छेड़छाड़       अगर आपको भी चाहिए फूल सी सुंदर बीवी तो अपनाएं इलायची के टोटके       हस्तशास्त्र के अनुसार हाथ देखकर जानें कितने होने वाली है आपके बच्चों की संख्या       सबसे ज्यादा बेवफा होते हैं इन राशियों के लोग, विश्वास करना है मुश्किल       अनानास के सेवन से मजबूत होता है इम्यून सिस्टम       गर्मियों में फायदेमंद है पुदीने का सेवन, इन बिमारियों में मिलता है लाभ