तुलसी, लहसुन और गिलोय से करें चिकनगुनिया का घरेलू इलाज

तुलसी, लहसुन और गिलोय से करें चिकनगुनिया का घरेलू इलाज

एक बार फिर बारिश के साथ चिकनगुनिया का खतरा बढ़ रहा है। हर साल देश में 100-200 नहीं बल्कि हज़ारों लोग चिकनगुनिया बुखार के शिकार हो जाते हैं। चिकनगुनिया में जोड़ों में होने वाला दर्द मरीज़ को बुखार ठीक हो जाने के बाद भी कई समय तक परेशान करता है।

चिकनगुनिया के लक्षण :

- एडिस मच्छर के काटने के दो-तीन दिन बाद ही चिकनगुनिया के लक्षण नजर आते हैं।

- इसमें तेज बुखार और जोड़ों में दर्द होता है। मुख्य रूप से हाथ व पैरों की अंगुलियों में ज्यादा दर्द होता है। 

- सिर में दर्द और मांसपेशियों में जकड़न महसूस होती है।

- मरीज को न्यूरोलॉजिकल समस्या भी हो सकती है।

- जी-मचलना जैसा महसूस होगा और भूख कम लगती है।

- इस बीमारी में शरीर पर जगह-जगह लाल रंग के दाने उभर आते हैं।

डेंगू और चिकनगुनिया में क्या है अंतर

डेंगू में बुखार के साथ-साथ हाथ-पैर में दर्द रहता है, भूख कम लगती है, जी मिचलाना और उल्टी जैसा भी महसूस कर सकते हैं। डेंगू के बुखार का खास लक्षण है सिर और आंखों में तेज दर्द होना। डेंगू के बुखार में प्लेटलेट्स कम होने की वजह से मरीज़ को बहुत कमजोरी हो जाती है। 

वहीं, चिकनगुनिया के लक्षण भी डेंगू से मिलते जुलते हैं, लेकिन इसमें प्लेटलेट्स काउंट कम नहीं होते हैं इसलिए मरीज को डेंगू की तुलना में कमजोरी कम लगती है। तेज बुखार के साथ जोड़ों में दर्द चिकनगुनिया का सामान्य लक्षण है। हालांकि इस बुखार में जोड़ो में दर्द होना सबसे बड़ी परेशानी होती है।

ऐसे करें चिकनगुनिया का घरेलू इलाज

1. गिलोय

गिलोय एक आयुर्वेदिक औषधी है। इसका पौधा कई तरह की बीमारियों में मददगार साबित होता है। इसमें एंटी-इंफ्लामेटरी, एंटी-आर्थराइटिस और इम्यूनोमॉड्यूलेटरी गुण पाए जाते हैं, जो चिकनगुनिया बुखार से राहत दिलाते हैं।

 2. तुलसी

 इसमें तुलसी के पत्ते काफी फायदेमंद साबित होते हैं। तुलसी की गुणकारी पत्तियां बुखार को कम कर, शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता में सुधार करती हैं। आयुर्वेद में तुलसी की पत्तियों का इस्तेमाल कई प्रकार की दवाइयां बनाने में होता है। इन पत्तियों में एंटीमाइक्रोबियल गुण होता है, जो बीमारी से जल्द उबरने में मदद करता है।

3. लहसुन 

 जोड़ों के दर्द से राहत दिलाने में लहसुन का कोई मुकाबला नहीं है। जिस जगह दर्द है इसे वहां जितना ज्यादा हो सके लगाएं। यह न सिर्फ दर्द से राहत दिलाएगा, बल्कि सूजन को कम करके रक्त संचार को बेहतर भी बनाएगा।


सोते समय क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए, जानें

सोते समय क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए, जानें

इंसान की भावनाएं अधिक प्रबल होती हैं। अगर वह अच्छे वक्त से गुजरता है तो फूले नहीं समाता है। वहीं, अगर बुरे वक्त से गुजरता है तो उसकी नींद उड़ जाती है। साथ ही डिजिटल दुनिया में इलेक्ट्रॉनिक्स उपकरणों की वजह से भी लोगों की नींद गायब हो रही है। ऐसे में आपको यह जानना जरूरी है कि सोते समय क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए। अगर आपको पता नहीं है तो आइए जानते हैं-

रोजाना एक्सरसाइज जरूर करें

जैसा कि हम सब जानते हैं कि कोरोना वायरस महामारी के कारण लोग अपने घरों में रहने को मजबूर है। इस वजह से लोग अपने घरों से से ही काम कर रहे हैं। लॉकडाउन के चलते लोग शारीरिक श्रम नहीं कर पा रहे हैं, जिसके चलते उन्हें रात में नींद नहीं आती है। ऐसे में अच्छी नींद के लिए रोजाना हल्की-फुल्की एक्सरसाइज जरूर करनी चाहिए।

झपकी जरूर लें

अगर आप रात में ठीक से सो नहीं पाते हैं तो दिन में 20 मिनट की झपकी जरूर लें। इससे आपको रात में नींद नहीं आने की समस्या से निजात मिल सकता है।

चाय और कॉफी से दूर रहें

अगर आप रात में अच्छी नींद लेना चाहते हैं तो चाय और कॉफ़ी से दूर रहें। इनमें कैफीन पाया जाता है जिससे रात की नींद उड़ जाती है। अगर बहुत तलब है तो दिनभर में एक कप कॉफ़ी पिएं।

अल्कोहल से दूर रहें

ऐसा माना जाता है कि अल्कोहल के सेवन से एक पहर की नींद आती है, लेकिन दूसरे पहर में नींद गायब हो जाती है। इससे सर्काडियन रिदम ( सोने की प्रक्रिया ) प्रभावित होता है। अगर आप रात में अच्छी नींद चाहते हैं तो अल्कोहल से दूर रहें।

मोबाइल का यूज़ न करें

रात में सोने से एक घंटा पहले मोबाइल और गैजेट्स को स्लीप मोड में डालकर रख दें। ऐसा कहा जाता है कि इन उपकरणों से निकलने वाली ब्लू रोशनी नींद को प्रभावित करती है।


NIOS द्वारा मदरसों में गीता, रामायण की पढ़ाई वाली रिपोर्ट गलत, केंद्र ने कहा...       महाराष्ट्र व केरल में बेतहाशा बढ़ रहे कोरोना के नए मामले       SC का निर्देश, प्राइवेट अस्पतालों में इलाज के लिए बुजुर्गों को मिले प्राथमिकता       जम्मू-कश्मीर परिसीमन आयोग को मिला एक साल का विस्तार       इन राज्यों में आंधी-तूफान के साथ बारिश की चेतावनी, जानें       पीएम मोदी को कल ऊर्जा एवं पर्यावरण संरक्षण के लिए मिलेगा अंतरराष्ट्रीय सम्मान       ओटीटी प्‍लेटफार्म के प्रतिनिधियों से मिले प्रकाश जावडेकर, बोले...       बेटी के पैदा होने पर क्रिकेट से दूर रहे थे विराट कोहली, जानें       Qubool Hai 2.0 Trailer: क्या परवान चढ़ेगी ज़ोया-असद की प्रेम कहानी? देखिए       इंदू की जवानी, साइलेंस और क़ुबूल है 2.0 समेत इस महीने आएंगी ये फ़िल्में और वेब सीरीज़       Dhamaka Teaser: कार्तिक आर्यन ने दी 'ब्रेकिंग न्यूज़', नेटफ्लिक्स पर करेंगे 'धमाका'       Tandav Web Series केस में अमेज़न प्राइम वीडियो ने पहली बार मांगी माफ़ी       Netfilx ने किया 40 से अधिक वेब सीरीज़, फ़िल्मों और शोज़ का एलान, कई सितारों की दस्तक       बताया- क्यों इंग्लैंड की टीम टेस्ट सीरीज को कराना चाहती है ड्रॉ, कप्तान जो रूट ने किया खुलासा!       IPL को लेकर दिए विवादित बयान के बाद डेल स्टेन ने मांगी माफी       मोटेरा की पिच को लेकर इंग्लैंड के दिग्गज ने कसा तंज, बोले...       प्रेस कॉन्फ्रेंस में टर्निंग पिच के सवाल पर भड़के विराट कोहली       फैंस के नंबर्स की तरफ मेरा ध्यान नहीं, एक अच्छा क्रिकेटर व इंसान बनना चाहता हूं : विराट कोहली       ट्रंप बनाएंगे अलग पार्टी! राष्ट्रपति चुनाव लड़ने के दिए संकेत       रात में चमकीली रोशनी से खौफ में आए लोग, फिर...