आखिर क्या होती है वीगन डाइट? आज़माने से पहले जानें नुकसान

आखिर क्या होती है वीगन डाइट? आज़माने से पहले जानें नुकसान

वीगन शब्द आपने अपने आसपास कई बार सुना होगा,ये शब्द आजकल काफी आम हो गया है। आपको अपने आसपास ऐसे कई लोग मिल जाएंहगे जो वीगनिज़म फॉलो करते हैं। क्या आपने कभी सोचा है कि आखिर वीगनिज़म होता क्या है?

वीगनिज़म एक ऐसी शाकाहारी डाइट है जिसमें लोग पशु या उनके उत्पाद को नहीं खाते हैं। यह लोग दूध, अंडे, मांस, पनीर या मक्खन जैसी किसी भी डेरी उत्पाद को अपने खाने में शामिल नहीं करते। इस डाइट में सिर्फ सब्ज़ियां ही शामिल हैं। 

लोग नैतिकता और पर्यावरण के लिए ऐसी डाइट को अपनाते हैं। वे किसी भी पशु उत्पाद का उपयोग नहीं करके प्रकृति के संतुलन को बनाए रखने की कोशिश करते हैं। कुछ लोग ऐसा इसलिए करते हैं क्योंकि वे अपने स्वार्थ के लिए किसी जानवर को मारना या बछड़े का दूध चुराना नहीं चाहते।

वीगन डाइट में फलीदार पौधे, अनाज और बीज शामिल होते हैं। इसके अलावा फल, सब्ज़ियां और वह सब कुछ शामिल है जो कि पौधों द्वारा उत्पादित होते हैं जैसे नट्स और ड्राए फ्रूट्स। शाकाहारी आहार पर लोग स्वस्थ रहने के लिए अपने आहार में सभी प्रकार के आहारों को शामिल करने और प्रोटीन और पोषक तत्वों की अधिकतम मात्रा शामिल करने का प्रयास करते हैं।

इस शाकाहारी डाइट में स्वस्थ रहने के लिए लोग अपने आहार में सभी प्रकार के आहार, प्रोटीन और पोषक तत्वों की अधिकतम मात्रा शामिल करने का प्रयास करते हैं। लेकिन इसका मतलब यह बिल्कुल नहीं है कि यह डाइट बेस्ट है। इससे पहले कि आप अपनी नियमित डाइट को छोड़ वीगन डाइट अपना लें हम आपको बता रहे हैं इसके गुण और दोष के बारे में ताकि आपको फैसला करने में आसानी हो सके। 

फायदे

1. इस डाइट में एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर खाना शामिल होता है, जो पुरानी बीमारी को होने से रोकता है। यह रक्तचाप और मधुमेह जैसी बीमारियों से भी बचाता है। 

2. इसमें कोलेस्ट्रोल बिल्कुल नहीं होता और यहां तक कि इसमें संतृप्त वसा (saturated fats) भी काफी कम होती है। यह बड़ी समस्याओं के जोखिम को कम करता है और आपके दिल और शरीर को स्वस्थ रखता है।

3. इस डाइट से जानवरों की जान भी बच जाती है।

4. यह पर्यावरण की रक्षा करने में भी मदद करता है और आपके कार्बन पदचिह्न (carbon footprint) को भी कम करता है।

5. यह आपके आहार और आपके भोजन को नियंत्रित करने में मदद करता है। 

6. एक वीगन डाइट आपकी कैलोरी सेवन को कम और प्रोटीन सेवन को बढ़ाकर आपको ज़्यादा वजन कम करने में मदद करता है।

नुकसान

1. अपने खाने से पशु उत्पादन को पूरी तरह हटा देने से शरीर में कमियां हो सकती हैं। आपके शरीर को कैल्शियम और ओमेगा-3 जैसी विटामिन और मिनरल्स की ज़रूरत होती है, जो मांस और डेरी प्रोडक्स से मिलते हैं।

2. शरीर में प्रोटीन और खनिजों की कमी आपकी मौजूदा बीमारी को बढ़ा सकती है या बड़ी स्वास्थ्य समस्याओं को भी जन्म दे सकती है।

3. जानवरों को बचाने और पर्यावरण के अनुकूल होने में आप अपने शरीर को कमज़ोर कर सकते हैं।

4. आप बाहर खाना बिल्कुल भी नहीं खा पाएंगे क्योंकि ऐसे रेस्टॉरेंट गिनती के हैं जो वीगन खाना परोसते हों। 

5. वीगन डाइट में आपको पर्याप्त पोषक के लिए अन्य स्रोतों पर निर्भर रहने की ज़रूरत होती है। जिसकी वजह से आपका पाचन तंत्र खराब हो सकता है, असुविधा का कारण बन सकता है और आपके पाचन तंत्र को कमज़ोर बना सकता है।

6. आप अपने आहार से काफी ज्यादा कैलोरी काट देंगे और फिर कैलोरी की कमी से वजन भी बढ़ सकता है।


दांतों के दर्द में फायदेमंद होता है लौंग का सेवन

दांतों के दर्द में फायदेमंद होता है लौंग का सेवन

हमारे दांत बहुत ही सेंसिटिव अंग है। कई बार गलत खान-पान या मीठे का ज्यादा सेवन करने से दांतों में तेज दर्द होने लगता है। दांत के दर्द से छुटकारा पाने के लिए लोग हैवी पेनकिलर्स का सेवन करते हैं. जिससे सेहत को बहुत सारे साइड इफेक्ट हो सकते हैं। आज हम आपको कुछ ऐसे घरेलू नुस्खे बताने जा रहे हैं जिनके इस्तेमाल से आपके दांतों में होने वाला दर्द ठीक हो जाएगा।

कैसे करें दांतों के दर्द का इलाज:

नमक का पानी एक नेचुरल कीटाणुनाशक होता है और दांत के दर्द को ठीक करने का सबसे सरल और असरदार नुस्खा है। इसे इस्तेमाल करने के लिए आधा चम्मच नमक को गर्म पानी में मिलाकर माउथवॉश की तरह इस्तेमाल करें।

लौंग दांतों के लिए बहुत फायदेमंद होती है। लौंग में भरपूर मात्रा में युजेनॉल होता है जो एक नेचुरल एंटीसेप्टिक है। अगर आपके दांत में दर्द हो रहा है तो एक लौंग को मुंह में रखकर उस का रस चूसें।

अमरूद के पत्तों में भरपूर मात्रा में एंटी माइक्रोबियल गुण मौजूद होते हैं। अमरूद की पत्तियों को चबाने से दांतों का दर्द ठीक हो जाता है।

व्हीटग्रास में भरपूर मात्रा में जीवाणुरोधी गुण मौजूद होते हैं जो दांतों की सड़न और दर्द को रोकने में सहायक होते हैं। व्हीटग्रास को चबाने से दातों में होने वाला दर्द ठीक हो जाता है।


देवेंद्र फडणवीस ने सम्बन्धी के वैक्सीन लगवाने पर दी सफाई, कहा...       चुनावी घमासान: बंगाल को दंगाइयों के हाथ में मत देना- ममता       हरियाणा ने दिल्ली पर लगाया ऑक्सीजन की डकैती का आरोप, कहा...       संबित पात्रा ने कहा कि महामारी के काल में फेल प्रोडक्ट बेचने की प्रयास में जुटी है कांग्रेस       दिल्ली के कोविड-19 मरीजों को मुफ्त में फैबीफ्लू दवा दे रहे गौतम गंभीर       डबल के बाद अब कोविड-19 के ट्रिपल म्यूटेशन वाले वेरिएंट ने बढ़ाई चिंता!       अपील: पीएम मोदी ने दी रामनवमी-सिविल सेवा दिवस की शुभकामनाएं, बोले...       विकास दुबे केस में उत्तर प्रदेश पुलिस को उच्चतम न्यायालय से मिली क्लीन चिट       कोविड-19 संक्रमित हुआ तिहाड़ कारागार में कैद शहाबुद्दीन       चाचा विधायक हैं हमारे इन रौबदारों के फेर में न पड़ें, नहीं तो...       सम में भी 18 से 45 आयुवर्ग वालों को फ्री लगेगी कोविड-19 वैक्सीन       वैक्सीन लेने के बाद भी क्यों कोविड-19 पॉजिटिव आ रहे लोग ?       हॉस्पिटल से चुरा ले गए लोग, ऑक्सीजन सिलेंडर आते ही मची भारी लूट       लड़कियां ब्रेकअप के बाद ऐसे काम करके देती हैं अपने आप को तसल्ली       लड़कियां अपने पति को भी टच नहीं करने देती है अपना फोन, वजह जानकर हिल जायेगा दिमाग       रात में जन्मे बच्चो में होती हैं ये वाली जबरदस्त खूबियां       ऐसी स्त्रियों पर शक करना होता है गलत, बेहद पवित्र होती हैं ऐसे गुणों वाली महिलाएं       इस दिशा में लगा दर्पण कर सकता है आपको बर्बाद, भूल से भी न करें ऐसी गलती       शुभ काम को शुरू करने से पहले जरूर चेक करें समय, हर रोज ही ये समय होता है अशुभ       अगर सुबह उठते ही दिखाई ये चीज, तो समझो आज से बदल गयी आपकी किस्मत