Kia की इस एसयूवी ने किया कमाल, महज साल भर के अंदर बिक गईं 1 लाख कारें

Kia की इस एसयूवी ने किया कमाल, महज साल भर के अंदर बिक गईं 1 लाख कारें

Kia Sonet सबकॉम्पैक्ट SUV ने लॉन्च के एक साल के भीतर ही बिक्री का एक बड़ा मुकाम हासिल कर लिया है। कोरियाई कार निर्माता ने घोषणा की है कि उसने पिछले साल लॉन्च होने के बाद से अब तक सोनेट एसयूवी की एक लाख यूनिट्स बेची हैं। किआ ने कहा है कि सॉनेट एसयूवी देश में उसकी कुल बिक्री का लगभग 32% हिस्सा बन गई हैं। भारत में सेल्टोस एसयूवी और कार्निवल एमपीवी लॉन्च करने के बाद से सॉनेट कार निर्माता की नवीनतम पेशकश रही है।

फीचर्स की बात करें तो Kia Sonet में डुअल एयरबैग्स, एंटी लॉक ब्रेकिंग सिस्टम, ईबीडी, रियर पार्किंग सेंसर, इमरजेंसी स्टॉप सिग्नल जैसे फीचर्स दिए गए हैं। इंटीरियर फीचर्स की बात की जाए तो में 26.03cm टचस्क्रीन और 10.67cm कलर कलस्टर, फ्रंट वेंटिलेटिड सीट्स, स्मार्ट प्योर एयर प्यूरिफायर के साथ वायरस प्रोटेक्शन, मल्टी ड्राइव मोड्स और टैक्शन मोड्स और एमटी रिमोट इंजन स्टार्ट फीचर दिया गया है।


किआ इंडिया के कार्यकारी निदेशक और मुख्य बिक्री और व्यापार रणनीति अधिकारी ताए-जिन पार्क ने कहा, "सोनेट को तब लॉन्च किया गया था जब ऑटो उद्योग कोविड -19 महामारी के आगमन के साथ इतिहास में सबसे खराब मंदी का सामना कर रहा था। बाजार मंदी से जूझ रहा था। मैन्युफैक्चरिंग और सप्लाई चेन की असफलताओं के बीच ग्राहकों की भावना में कमी आने लगी। हमने पिछले साल सितंबर में सभी बाधाओं के का सामना करते हुए सॉनेट को पेश किया था, और यह कहना गलत नहीं होगा कि इसने भारत में किआ की सफलता की कहानी को फिर से लिखी है और इस सेगमेंट में अपनी पकड़ मजबूत कर ली है।


किआ ने इस साल की शुरुआत में मई में सोनेट एसयूवी का फेसलिफ्ट वर्जन लॉन्च किया था। सॉनेट को पैडल शिफ्टर्स जैसे प्रमुख अपडेट प्राप्त हुए, इसके अलावा 10 नए फीचर्स जैसे फर्स्ट-इन-सेगमेंट रियर डोर सनशेड कर्टेन और सनरूफ को संचालित करने के लिए वॉयस कमांड। इसके निचले वेरिएंट में इलेक्ट्रॉनिक स्टेबिलिटी कंट्रोल (ESC), व्हीकल स्टेबिलिटी मैनेजमेंट (VSM), ब्रेक असिस्ट (BA), हिल असिस्ट कंट्रोल (HAC) जैसे फीचर्स भी मिलते हैं।


सॉनेट 17 वेरिएंट्स में उपलब्ध है। यह ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन के साथ 1.5 लीटर डीजल इंजन द्वारा संचालित है, जो इसकी कुल बिक्री में लगभग 10% का योगदान देता है। कुल बिक्री में लगभग 64% के साथ टॉप-स्पेक वेरिएंट का सबसे अधिक योगदान है। हालाँकि, iMT तकनीक को बहुत अधिक खरीदार नहीं मिले हैं, केवल लगभग 26% ने ही इस एडिशन को चुना है। किआ सोनेट वर्तमान में भारत में ₹6.79 लाख (एक्स-शोरूम) की शुरुआती कीमत पर उपलब्ध है। यह सबकॉम्पैक्ट एसयूवी सेगमेंट में मारुति सुजुकी विटारा ब्रेज़ा, हुंडई वेन्यू, महिंद्रा एक्सयूवी300 और टाटा नेक्सन को टक्कर देती है। 


होम लोन हुआ सस्ता, भारतीय स्टेट बैंक ने घटाई ब्याज दर

होम लोन हुआ सस्ता, भारतीय स्टेट बैंक ने घटाई ब्याज दर

नई दिल्ली: आनें वाले त्योहारी सीजन में रियल एस्टेट कंपनियों के साथ बैंकों और अन्य वित्तीय संस्थाओं को आशा है कि घरों की बिक्री में तेजी आएगी. गणेश चतुर्थी के बाद देश में त्योहारी सीजन प्रारम्भ हो गया है, जो नवंबर के अंत तक चलेगा. ऐसे में कोटक महिन्द्रा और एसबीआई सहित कई बैंकों ने ब्याज दरों में कटौती की है. कोविड-19 महामारी के बावजूद देश में लोग अपने सपनों का घर खरीद रहे थे. इससे जून तिमाही में घरों की कीमतों में 1.4 प्रतिशत की वृद्धि हुई है.

लोन मेला 15 अक्टूबर से
केन्द्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बोला कि बैंक 15 अक्टूबर से लोन मेला का आयोजन करेंगे, ताकि त्योहारों के मौसम में लोगों को सरलता से होम लोन सहित अन्य लोन मिले.

निचले स्तर पर ब्याज दर
भारत में होम लोन की ब्याज दरें रेकॉर्ड निचले स्तर पर पहुंच गई हैं. मैजिकब्रिक्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक साल 2021 में होम लोन लेने वाले ग्राहकों की रूचि 26 प्रतिशत बढ़ी है. सस्ते ब्याज दर पर होम लोन लेकर आयकर बचाने का विकल्प भी लोगों को भा रहा है.

एसबीआई ने की कटौती
फेस्टिव सीजन प्रारम्भ होने के साथ ही स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने बेस रेट में 0.05 प्रतिशत की कटौती की है, जिससे लोन की ब्याज दर घटकर 7.45 प्रतिशत रह गई है. यह ब्याज दर 15 सितंबर से कारगर है. इससे बैंक के ग्राहकों के होम लोन, ऑटो लोन और पर्सनल लोन की ईएमआई कम हो जाएगी.

वर्तमान में ये हैं विभिन्न बैंकों की होम लोन ब्याज दरें
आईडीएफसी फर्स्ट बैंक - 6.5-8 परसेंट
कोटक महिन्द्रा बैंक - 6.65-7.1 परसेंट
बैंक ऑफ बड़ौदा - 6.75-8.35 परसेंट
आईसीआईसीआई - 6.75-7.40 परसेंट
पंजाब एंड सिंध बैंक - 7.1-7.9 परसेंट
यूनियन बैंक ऑफ इंडिया - 6.8-7.3 परसेंट
एसबीआई - 6.8-7.15 परसेंट
इंडियन बैंक - 6.8-8.25 परसेंट
सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया - 6.85 परसेंट से शुरू
एक्सिस बैंक - 6.90-8.40 परसेंट
केनरा बैंक - 6.9-8.9 परसेंट
आईडीबीआई बैंक - 6.95-8.55 परसेंट
पंजाब नेशनल बैंक - 6.95-7.85 परसेंट
इंडियन ओवरसीज बैंक - 7.05-7.30 परसेंट
यूको बैंक - 7.15-7.25 परसेंट