ब्राजील में एपल के आईफोन को लेकर इन नियमो में हुआ परिवर्तन, जाने क्या

ब्राजील में एपल के आईफोन को लेकर इन नियमो में हुआ परिवर्तन, जाने क्या

Apple ने अपने आईफोन 12 की सीरीज के साथ बॉक्स में चार्जर और ईयरफोन नहीं देने का निर्णय किया था Apple ने ऐसा क्यों किया इस पर चर्चा करने से पहले ये बता दें कि कंपनी की ये रणनीति अब उसके गले की फांस बनती जा रही है  

दरअसल एपल अब नए iPhone के साथ केवल एक टाईप-सी केबल दे रहा है यानी इस केबल का इस्तेमाल बाकी किसी चार्जर या एडाप्टर के साथ नहीं किया जा सकता है

एपल का आईफोन के साथ चार्जर नहीं देने का निर्णय फ्रांस को छोड़कर सभी राष्ट्रों में कारगर है लेकिन अब ब्राजील (Brazil) में भी Apple को फोन के साथ चार्जर देना होना कंपनी ने कार्बन एमिशन कम करने का हवाला देते हुए बॉक्स में चार्जर और इयरफोन्स न देने का निर्णय किया था लेकिन उसकी ये दलील ब्राजील में कार्य नहीं आई

अक्तूबर में नोटिस, दिसंबर में फैसला
ब्राजील ने Apple से बोला है कि कंपनी को हर हाल में अपने कस्टमर्स को बॉक्स में चार्जर भी देना होगा दरअसल ब्राजील के Sao Paulo प्रदेश सरकार ने अक्तूबर में एपल से पूछा था कि उसने आईफोन के साथ ईयरफोन और चार्जर देना बंद क्यों किया है एजेंसी ने बोला है कि चार्जर किसी भी इलेक्ट्रॉनिक प्रोडक्ट के साथ मिलने वाला अहम भाग है और एपल ने अभी तक ऐसा कोई भी सबूत नहीं दिया है जिससे साबित हो कि उसका निर्णय पर्यावरण के हित में है  


अदाणी समूह द्वारा संचालित तीन हवाई अड्डों को मिला सम्मान

अदाणी समूह द्वारा संचालित तीन हवाई अड्डों को मिला सम्मान

कोरोना महामारी और इसके संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए किये गए सफल प्रयासों को देखते हुए अदाणी समूह द्वारा संचालित तीन हवाई अड्डों-लखनऊ, अहमदाबाद और मंगलुरु को एयरपोर्ट काउंसिल इंटरनेशनल (ACI) एयरपोर्ट हेल्थ एक्रीडिटेशन प्रोग्राम में मान्यता दी गई। वैश्विक मान्यता इन हवाई अड्डों द्वारा यात्री सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए असाधारण उपायों को प्रदर्शित करती है।

 एएचए कार्यक्रम के तहत एसीआई द्वारा मूल्यांकन प्रक्रिया 118 जांच बिंदुओं के आधार पर प्रस्तुत साक्ष्य की समीक्षा के बाद आयोजित की जाती है। हवाई अड्डों ने सभी यात्रियों के लिए एक सुरक्षित यात्रा अनुभव का प्रदर्शन किया है, जो एसीआई एविएशन बिजनेस रेस्टार्ट और रिकवरी दिशानिर्देशों में स्थापित स्वास्थ्य उपायों और आईसीएओ काउंसिल एविएशन रिकवरी टास्क फोर्स सिफारिशों के अनुरूप है, साथ ही उद्योग सर्वोत्तम प्रथाओं के साथ।

इस विकास पर बोलते हुए अदाणी एयरपोर्ट्स के बेन जेंडीसीईओ – ने कहा कि “यह मान्यता कोविड -19 और आगामी टीकाकरण अभियान के मद्देनजर हवाई यातायात को सुदृढ़ बनाने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है। यह प्रसार और नियंत्रण के बीच लखनऊ, अहमदाबाद और मंगलुरु हवाई अड्डों पर प्रचलित स्वास्थ्य और सुरक्षा मानकों में विश्वास पैदा करता है। वैश्विक महामारी का। हम वैश्विक सर्वोत्तम प्रथाओं के साथ अपनी तैयारियों को सुदृढ़ करने के लिए प्रतिबद्ध हैं और इस प्रकार तीन स्थानों पर यात्रियों के लिए एक सुरक्षित पूर्व और पोस्ट उड़ान अनुभव सुनिश्चित करते हैं।”

एसीआई मूल्यांकन में सभी टर्मिनल क्षेत्रों में यात्रियों और कर्मचारियों के लिए हवाई अड्डों द्वारा किए गए स्वास्थ्य और सुरक्षा उपायों को शामिल किया गया है, जिसमें प्रस्थान, आगमन और स्थानांतरण, परिवहन सेवाएं, खाद्य और पेय सेवाएं, एस्केलेटर और लिफ्ट, लाउंज, सुविधाएं और सामान का दावा क्षेत्र शामिल हैं। यह मान्यता अगले 12 महीनों के लिए मान्य है। यह कार्यक्रम यात्रा जनता को आश्वस्त करने में मदद करने के लिए डिज़ाइन किया गया है कि हवाई अड्डे की सुविधाएं सुरक्षित रहें और स्वास्थ्य संबंधी जोखिमों को कम करने के लिए सावधानी बरती जाए।

हवाई अड्डा स्वास्थ्य प्रत्यायन को सुरक्षित करने के लिए लखनऊ, अहमदाबाद और मंगलुरु में अदाणी समूहद्वारा संचालित हवाई अड्डों को बधाई। टीका वितरण के साथ, हवाई यात्रा में जनता का विश्वास हासिल करना महत्वपूर्ण होगा क्योंकि हमारा उद्योग निरंतर संचालन को फिर से शुरू करने और बनाए रखने के लिए तैयार है। स्वास्थ्य और स्वच्छता पर विश्व स्तर पर मान्यता प्राप्त मानकों के अनुसार यात्रियों और कर्मचारियों को प्रदान करके मार्ग प्रशस्त कर रहे हैं, ”स्टीफन बैरोनी, महानिदेशक, एसीआई एशिया-प्रशांत।

स्वास्थ्य और सुरक्षा को प्राथमिकता
एसीआई हवाई अड्डा स्वास्थ्य प्रत्यायन (AHA) कार्यक्रम हवाई अड्डों को यात्रियों, कर्मचारियों, नियामकों, और सरकारों को प्रदर्शित करने में सक्षम बनाता है कि वे स्वास्थ्य और सुरक्षा को प्राथमिकता देने योग्य, स्थापित तरीके से प्रदर्शित कर रहे हैं।

अदाणी समूह की प्रमुख कंपनी अदाणी एंटरप्राइजेज की सहायक कंपनी अदाणी एयरपोर्ट्स ने वैश्विक स्तर पर प्रतिस्पर्धी निविदा प्रक्रिया के माध्यम से 50 वर्षों की अवधि के लिए छह हवाई अड्डों – अहमदाबाद, लखनऊ, मंगलुरु, जयपुर, गुवाहाटी और तिरुवनंतपुरम को आधुनिक बनाने और संचालित करने के लिए बिड जीता। भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (एएआई) द्वारा संचालित। इनमें से, इसने 2020 में लखनऊ,अहमदाबादऔर मंगलुरु के परिचालन को संभाला। कंपनी मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (एमआईएएल) में नवी मुंबई अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे को विकसित करने के अधिकारों के साथ बहुमत प्राप्त करने की प्रक्रिया में है। अपनी संयुक्त क्षमता को देखते हुए अडानी हवाई अड्डा प्रति वर्ष (MPAs) 75 मिलियन से अधिक यात्रियों को स्पर्श करेगा।


ये देश लिखना पढ़ना नहीं जानते, क्या सच में है ऐसा ?       क्या गांजे को करे दें लीगल, जनता से पूछा गया सवाल       ऐसे लोगों में कोविड-19 से संक्रमित होने का खतरा कम, सीरो सर्वे का चौंकाने वाला दावा       शुभेंदु की ममता को ललकार, चुनावी सीट पर घमासान       अभी अभी: लड़ाकू विमान राफेल- आसमान में दिखेगी ताकत, जोधपुर में गरजेगा ये देश       धमाके से कांपा जमशेदपुर, ब्लास्ट से डरे-सहमे लोग       SC की दो टूक, दिल्ली में कौन आएगा, तय करे पुलिस       शुभेंदु अधिकारी की रैली में बड़ा हंगामा, भयानक झड़प BJP-TMC कार्यकर्ताओं में       सबसे ऊंचा कृष्ण मंदिर, अब जयपुर में पधारेंगे कन्हैया       इस बड़े बैंक ने करोड़ों ग्राहकों को दिया बड़ा तोहफा       अदाणी समूह द्वारा संचालित तीन हवाई अड्डों को मिला सम्मान       फटाफट कर लें खरीदारी, जानें क्या है नई कीमत       कुंडली में सबसे खास ये ग्रह, कमजोर हुआ तो बनेंगे कंगाल       आ रही शानदार कारें, जल्द भारत में होंगी लॉन्च       Amazon दे रहा शानदार डील, iPhone 12 सीरीज मिल रहा गजब के ऑफर में       कार खरीदते वक्त RSA सर्विस लेना न भूलें       गूगल ने चुपके से इस खास सेवा पर लगा दी रोक       Samsung Galaxy S21 Ultra 5G की ऐसे करें प्री-बुकिंग       खुले मैदान में फ्रेंड्स के साथ गोल्फ खेलती नजर आईं जैकलीन, दिल जीत लेंगी ये मनमोहक तस्वीरें       बॉयफ्रेंड के साथ सुला वाइनयार्ड्स पहुंचीं ये एक्ट्रेस, बगीचे में लिया रेड वाइन का मजा