जल्दी हटाईये इसे, लोन देने वाले 453 ऐप्स को गूगल ने किया बैन

जल्दी हटाईये इसे, लोन देने वाले 453 ऐप्स को गूगल ने किया बैन

नई दिल्ली: आम आदमी हो या ख़ास सबको कभी न कभी लोन की जरूरत पड़ती है। लोन उपलब्ध कराने के वाले ऐसे बहुत सारे ऐप्स हैं जो बड़े आसानी से लोन उपलब्ध कराते हैं। कुछ ऐप्स इस काम में धोकेबाजी भी करते हैं। गूगल ने पर्सनल लोन देने वाले 453 ऐप्स को प्ले स्टोर से हटा दिया है। बता दें कि ये ऐप्स कंपनी की यूजर सेफ्टी पॉलिसी का उल्लंघन कर रहे थे। इनके जरिए लोन लेने वाले यूजर के डेटा से छेड़खानी भी की जा रही थी।

यूजर की सेफ्टी हमारे लिए सबसे ऊपर-गूगल
गूगल ने बताया कि यूजर की सेफ्टी हमारे लिए सबसे ऊपर है। अगर इन्हें किसी अन्य प्लेटफॉर्म से इन्स्टॉल किया जाता है, तो डेटा सिक्योरिटी को लेकर गूगल जिम्मेदार नहीं होगा। गूगल ने ऐसे ऐप्स की लिस्ट जारी नहीं की है, लेकिन सोशल मीडिया पर एक लिस्ट वायरल हो रही है, जिसमें ऐसे 453 ऐप्स दिए गए हैं और ये प्ले स्टोर पर ओपन भी नहीं हो रहे हैं।

यूजर को सभी तरह की जानकारी देनी होगी-गूगल
गूगल की पॉलिसी के मुताबिक, पर्सनल लोन देने वाले ऐप्स को यूजर को सभी तरह की जानकारी देनी होगी। जैसे- पेमेंट की मिनिमम और मैक्सिमम समय-सीमा क्या है? अधिकतम ब्याज दरें क्या हैं? ग्राहकों को ये बताना होगा कि लोन की कुल लागत कितनी होगी? लोन के फीचर्स, फीस, रिस्क और बेनिफिट्स के बारे में ट्रांसपेरेंसी रहे, ताकि लोग सही फैसला ले सकें।

लिस्ट में इन लोन ऐप्स के नाम हैं…पर्सनल और इंस्टेंट लोन वाले चुनिंदा ऐप्स की लिस्ट
कैश

VN कार्ड

मनी मोर

मनी फॉर पीपुल

वन लोन

कैश ऑन

क्रेडिट

कैश गुरु

रूपी क्लिक

कैश नाउ

कैच कैश

क्रेडी मी

क्रेडिट बस

ईजी क्विक

कैश काऊ

फ्लैक्स सैलेरी

वर्ल्ड मनी

रूपी प्लस

फास्ट रूपी

कैश बाजार

लोन

ईजी

वी कैश

कैश बाउल फोन

एक ऐप भारत इंस्टेंट लोन, 10 हजार से ज्यादा बार इन्स्टॉल किया गया
सोशल मीडिया पर वायरल हो रही लिस्ट में एक ऐप भारत इंस्टेंट लोन भी है। हालांकि, इस ऐप को गूगल प्ले स्टोर से अब भी इन्स्टॉल किया जा सकता है। इसे अब तक 10 हजार से ज्यादा बार इन्स्टॉल किया गया है। वहीं, 260 यूजर्स ने इसे 5 में से 3.1 स्टार रेटिंग दी है। ज्यादातर यूजर्स ने रिव्यू के दौरान इसकी सर्विस को अच्छा नहीं बताया।

ऐप ने लोन से जुड़ी डिटेल मेंशन की है। जैसे-
-लोन अमाउंट: 10,000 रुपए मैक्सिमम

-लोन टर्म्स: 91 दिन (कम दिन, एक्सटेंड टाइम के साथ) – 365 दिन (अधिक दिन, एक्सटेंड टाइम के साथ)

-मैक्सिमम APR: 36%

-ट्रांजेक्शन फीस: नहीं

-प्रोसेसिंग फीस: 10%

-डॉक्युमेंट्स: पैन कार्ड, आधार नंबर, फोटो, अकाउंट डिटेल।

उदाहरण: यदि आप 5,000 रुपए का लोन एक साल के लिए लेते हैं, तब इस पर कुल ब्याज 5000 रुपए X 36% = 1800 रुपए होगा।
प्ले स्टोर पर पर्सनल लोन के कई ऐप्स

गूगल पर अभी भी पर्सनल लोन देने वाले ऐसे कई ऐप्स मौजूद हैं। जैसे ही प्ले स्टोर पर LOAN लिखकर सर्च किया जाता है, तो लंबी लिस्ट खुल जाती है। इनमें सरकारी ऐप्स के साथ कई प्राइवेट बैंक और फर्म के ऐप्स भी शामिल हैं।

ऐप्स लोन के चलते किसी ने सुसाइड किया, तो किसी को बदनाम किया गया
मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इंस्टेंट लोन ऐप्स की वजह से कुछ सुसाइड के मामले भी सामने आए हैं। वहीं, दिसंबर में इंस्टेंट मनी लेंडिंग ऐप घोटाले में हैदराबाद और गुड़गांव से 19 लोगों को गिरफ्तार भी किया गया था।

केस नंबर-1
तेलंगाना में लॉकडाउन के दौरान 28 वर्षीय व्यक्ति ने अपनी नौकरी खो दी थी। उसने कर्ज लिया, लेकिन चुका नहीं पाया। ऐसे में कर्ज चुकाने के लिए किसी ऐप से इंस्टेंट लोन लिया। जब ऐप का लोन नहीं चुका पाया, तब रिकवरी एजेंट उसके पीछे लग गए। उसे बार-बार मैसेज भेजने लगे। उसके कॉल लिस्ट के लोगों को फोन करने लगे। परेशान होकर उसने दिसंबर में सुसाइड कर लिया।

केस नंबर-2
इंदौर की एक महिला ने ऐप से 20,000 रुपए का लोन लिया था। जब लोन की EMI मिस हो गई, तो उसे परेशान करना शुरू कर दिया गया। उसके फोटो को शेयर किए जाने लगे। धमकी दी गई कि कलेक्शन के लिए एजेंट को घर भेजेंगे। पुलिस से भी शिकायत करेंगे। उन्होंने महिला की कॉन्टैक्ट लिस्ट में मौजूद लोगों को भी परेशान किया।

प्ले स्टोर पर ऐप्स को लेकर RBI सर्टिफिकेट जरूर देखें
भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) का कहना है कि लोन देने वाली किसी लिस्टेड वेबसाइट या उसके ऐप पर जाते हैं, तब यह जरूर देखें कि वो RBI से रजिस्टर्ड है। या फिर RBI से रजिस्टर्ड किसी बैंक या NBFC के साथ काम कर रहा है। लोने देने वाली सभी कंपनियों को अपनी कंपनी पहचान संख्या (CIN) और सर्टिफिकेट ऑफ रजिस्ट्रेशन (CoR) को साफ तौर पर दिखाना होगा।

ऐप्स को हटाने के पहले नोटिस भी नहीं दिया जाएगा- गूगल
गूगल ने ब्लॉगपोस्ट में कहा कि कंपनी ऐप्स का रिव्यू करना जारी रखेगी। जिन ऐप्स को यूजर की सेफ्टी पॉलिसी का उल्लंघन करते पाया जाएगा, उन्हें तुरंत हटा दिया जाएगा। ऐप्स को हटाने के पहले नोटिस भी नहीं दिया जाएगा। सुरक्षा मानकों का पालन नहीं करने वाले सभी ऐप्स पर कार्रवाई होगी। कंपनी उन एजेंसियों की मदद करना जारी रखेगी, जो फर्जी पर्सनल लोन ऐप्स के जांच का काम कर रही हैं।

दूसरी तरफ, लोन ऐप के जरिए उत्पीड़न की घटनाओं के बीच RBI ने एक वर्किंग ग्रुप का गठन किया है। यह ग्रुप डिजिटल लेंडिंग के व्यवस्थित विकास के लिए सुझाव देगा। पिछले महीने RBI ने लोगों को अनधिकृत डिजिटल लेंडिंग प्लेटफॉर्म और मोबाइल ऐप के झांसे में नहीं आने के लिए चेताया था।


Aadhaar को SBI Savings Account से कैसे करें लिंक, जानिए ये आसान प्रक्रिया

Aadhaar को SBI Savings Account से कैसे करें लिंक, जानिए ये आसान प्रक्रिया

भारतीय स्टेट बैंक (SBI) बचत खाते में सरकारी सब्सिडी का प्रत्यक्ष लाभ लेने के लिए इसका आधार से जुड़ा होना जरूरी है। SBI ने ट्विटर के जरिये अपने ग्राहकों को प्रत्यक्ष लाभ लेने के लिए अपने बैंक खातों को आधार से जोड़ने के लिए कहा है। SBI ने एक ट्वीट में कहा, हम अपने ग्राहकों को सूचित करना चाहते हैं कि आधार कार्ड सीडिंग अनिवार्य रूप से भारत सरकार से प्रत्यक्ष लाभ या सब्सिडी प्राप्त करने के लिए अनिवार्य है।'

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के अनुसार, अपने बैंक खाते को अपने आधार नंबर से जोड़ना अनिवार्य नहीं है। हालांकि, सरकारी सब्सिडी का लाभ उठाने के लिए आपके बैंक खाते में अपना आधार नंबर देना अनिवार्य है। ऐसे कई विकल्प हैं, जिनके माध्यम से SBI खाताधारक अपने बैंक खाते को आधार के साथ लिंक कर सकते हैं।

SBI इंटरनेट बैंकिंग के जरिये

www.onlinesbi.com पर लॉग इन करें
"मेरे खाते" के तहत "अपना आधार नंबर लिंक करें" पर नेविगेट करें।
अगले पेज पर, खाता नंबर चुनें, आधार नंबर इनपुट करें और सबमिट पर क्लिक करें।
रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर (गैर-संपादन योग्य) के अंतिम 2 अंक आपको दिख जाएंगे।
मैपिंग की स्थिति आपको अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर दी जाएगी।
SBI एटीएम

SBI ATM पर जाएं।
अपना एटीएम डेबिट कार्ड स्वाइप करें और अपना पिन डालें।
मेनू का चयन करें।
इस मेनू में, आधार रजिस्ट्रेशन (या अपनी आवश्यकता के अनुसार पूछताछ) का चयन करें।
अब आप खाता प्रकार (बचत / चेकिंग) का चयन कर सकते हैं जिसके बाद आपको अपना आधार नंबर दर्ज करने के लिए कहा जाएगा।
आपको फिर से वही दर्ज करने के लिए कहा जाएगा।
सीडिंग की स्थिति के बारे में आपको अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक SMS प्राप्त होगा।
SBI ब्रांच


अपनी निकटतम SBI शाखा पर जाएं।
अपने आधार नंबर या ई-आधार की एक कॉपी ले जाएं।
रिक्वेस्ट फॉर्म भरें।
आधार पत्र की जेरोक्स कॉपी के साथ सबमिट करें।
आवश्यक सत्यापन के बाद, लिंक ब्रांच द्वारा किया जाएगा।
सीडिंग की स्थिति के बारे में आपको अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक SMS मिलेगा।
आपका बैंक खाता आधार के साथ लिंक है या नहीं, जानिए कैसे चेक करें

1) www.uidai.gov.in पर जाएं।

2) 'आधार' में 'आधार/बैंक खाता लिंकिंग स्थिति' पर क्लिक करें।

3) अपना 12 अंकों का आधार नंबर या 16 अंकों की वर्चुअल आईडी दर्ज करें।

4) सुरक्षा कोड दर्ज करें और 'ओटीपी भेजें' पर क्लिक करें।

5) अब आपको अपने आधार-लिंक्ड मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी मिलेगा।

6) ओटीपी दर्ज करें और 'लॉगिन' पर क्लिक करें।


सुरेश रैना ने टी20 मैच में 39 गेंदों पर बनाए नाबाद 104 रन       न्यूजीलैंड के बल्लेबाज ने ठोके तूफानी 99 रन, आर अश्विन बोले...       इन खिलाड़ियों ने अब तक कमाए 100 करोड़ से ज्यादा, पहले नंबर पर ये खिलाड़ी       इस खिलाड़ी को मिली जगह, पिंक बॉल टेस्ट मैच से पहले भारतीय टीम में हुआ बदलाव       पत्नी ने खोले कई राज, ओवर में 30 रन पड़े तो फोन पर रो पड़े थे इशांत शर्मा       बुजुर्गों का टीकाकरण इस दिन, फ्री वैक्सीन सबको नहीं       कश्मीर दहलाने की साजिश, सुरक्षाबलों ने की नाकाम       बीच सड़क लाशों के ढेर, ट्रक का टायर फटा, जोरदार टक्कर में कई मौतें       कमलनाथ समेत कई कांग्रेस नेता थे सवार, झटका खाकर 10 फुट नीचे गिरी लिफ्ट       कांग्रेस सरकार का गिरना तय, आज फ्लोर टेस्ट में फैसला       गर्मियों में लू से बचने के साथ ही पाचन तंत्र बेहतर करने के लिए कैरी का करें सेवन       अपनी त्वचा के हिसाब से आपको कौन सा साबुन यूज करना चाहिए       घुटनों और जोड़ों में दर्द से राहत दिलाएंगी ये एक्सरसाइजेस       क्या कोरोना के खौफ के बीच स्वीमिंग पूल में तैरना उपयुक्त है, जानें       Harvest Gold ब्रेड के पैकेट से अब नहीं कर सकता कोई छेड़छाड़       अगर आपको भी चाहिए फूल सी सुंदर बीवी तो अपनाएं इलायची के टोटके       हस्तशास्त्र के अनुसार हाथ देखकर जानें कितने होने वाली है आपके बच्चों की संख्या       सबसे ज्यादा बेवफा होते हैं इन राशियों के लोग, विश्वास करना है मुश्किल       अनानास के सेवन से मजबूत होता है इम्यून सिस्टम       गर्मियों में फायदेमंद है पुदीने का सेवन, इन बिमारियों में मिलता है लाभ