गुड न्यूज़ सिनेमाघरों में रिलीज़, जाने इस फिल्म से जुडी खास बात

गुड न्यूज़ सिनेमाघरों में रिलीज़, जाने इस फिल्म से जुडी खास बात

यह वर्ष फिल्म प्रेमियों के लिए बेहद खास रहा है। बड़ी बजट से लेकर कम बजट तक, 2019 में ऐसी कई फिल्में रिलीज़ हुईं, जिन्होंने दर्शकों का भरपूर मनोरंजन किया व अब वर्ष के अंतिम हफ्ते में दर्शकों की खुशी को दोगुना करने के लिए गुड न्यूज़ सिनेमाघरों में रिलीज़ हो चुकी है। अक्षय कुमार, करीना कपूर खान,

कियारा आडवाणी व दिलजीत दोसांझ अभिनीत यह फिल्म अपने नाम की तरह ही दर्शकों के लिए गुड न्यूज़ साबित होगी। जी हां गुड न्यूज़ एंटरटेनमेंट की कमप्लीट डोज है, जिसमें कॉमेडी के साथ ही बेहतरीन एक्टिंग का भी कॉकटेल है। फिल्म के डायरेक्टर ने फिल्म को कहीं भी बोरिंग नहीं होने दिया है।

कहानीः गुड न्यूज  की कहानी मुंबई के सोफिस्टिकेटेड कपल वरुण बत्रा (अक्षय कुमार)  व दीप्ति बत्रा (करीना कपूर) की है जिनकी विवाह को सात वर्ष हो चुके हैं लेकिन वे माता-पिता नहीं बन पाए हैं। दोनों बहुत ज्यादा सोच-विचार के बाद आईवीएफ से माता पिता बनने के लिए तैयार होते हैं। फिर एंट्री होती है देसी कपल हनी (दिलजीत दोसांझ) व मोनिका (कियारा आडवाणी) की। दोनों कपल्स के स्पर्म इंटरचेंज हो जाते हैं, व फिल्म इसी टॉपिक को लेकर गढ़ी गई है। डायरेक्टर राज मेहता ने फिल्म को बहुत ही क्रिस्प रखा है व खींचा नहीं है। फिल्म के प्रारम्भ से लेकर आखिरी तक कॉमेडी का भरपूर टच है।   कहानी बहुत ही सधी है व कॉमे़डी की मजेदार डोज है। आईवीएफ में गड़ब़ड़ी जैसा विषय पहली बार स्क्रीन पर नजर आया है व डायरेक्टर बहुत ही सिम्पल तरीका से कहानी कह जाते हैं। इस तरह गुड न्यूज एक फुल एंटरटेनिंग फिल्म है।

एक्टिंगः परफॉर्मेंस की बात करें तो दिलजीत दोसांझ इस फिल्म के शाइनिंग स्टार साबित हुए है। उनकी कॉमिक लाइन्स आपको सीटियां मारने पर विवश कर देंगी व इमोशनल सीन में भी वे बहुत ज्यादा स्वाभाविक दिखे हैं। फिल्म में करीना बहुत खूबसूरत दिखी हैं व उनकी अदाकरी भी कमाल की है। कियारा आडवाणी ने मोनिका के रूप में एक भोलीभाली महिला का भूमिका बखूबी निभाया है, जो स्पर्म के मिक्स होने को भी मातारानी का अच्छा इशारा समझती हैं। इस फिल्म में अक्षय कुमार की कॉमिक टाइमिंग जबर्दस्त रही है। इस तरह एक्टिंग के मुद्दे में इन सभी सितारों ने दिल जीता है।

डायरेक्शनः निर्देशक राज मेहता ने आधी लड़ाई जीत ली मजबूत स्क्रिप्ट व चुटीले संवादों से, जो आपको लगातार गुदगुदाते व हंसाते हैं। जिस तरह का स्क्रीनप्ले उन्होंने लिखा है, वह आपको मजबूती से पकड़ कर रखता है।  फिल्म का फर्स्ट हाफ ज्यादा मजबूत व मजेदार है। सेकंड हाफ में ड्रामा है, जहां निर्देशक बच्चा पैदा करने में त व मर्द के सहयोग का विश्लेषण करता नजर आता है। आजकल की फिल्मों का चलन-सा हो गया है कि औरतों से जुड़े किसी न किसी मामले को किरदरों के जरिए हाइलाइट करना। एडिटिंग कसी हुई है। गुड न्यूज़  का म्यूजिक बहुत ही शानदार है। फिल्म के सॉन्ग फेस्टिवल सीजन के लिए एकदम धमाकेदार हैं।